Twitter
You are hereNari

बच्चे हो या बड़े, डायरिया के लक्षण पहचान तुरंत करें ये इलाज

बच्चे हो या बड़े, डायरिया के लक्षण पहचान तुरंत करें ये इलाज
Views:- Saturday, April 21, 2018-1:42 PM

गर्मी का मौसम अपने साथ-साथ कई बीमारियों को लेकर आता है, जिसमें से एक है डायरिया की समस्या। डायरिया यानि दस्त लगना, जोकि बच्चों से लेकर बड़ों तक को हो सकती है। शरीर में पानी और नमक की कमी की के कारण डायरिया की समस्या होती है। इस प्रॉब्लम के कारण पेट के निचले हिस्से में दर्द, पेट मरोड़ना, उल्टी आना, बुखार और शरीर में कमजोरी हो जाती है। ऐसे में आज हम आपको कुछ नुस्खे बताएंगे, जिससे आपकी डायरिया की परेशानी तुरंत गायब हो जाएगी।
 

डायरिया के लक्षण
एक से ज्यादा पतली दस्त होना
पेट में ऐंठन
जी मिचलाना
पेट में दर्द
हल्का सिरदर्द
चक्कर आना
उल्टी
 

बड़ों के लिए घरेलू नुस्खे

PunjabKesari
1. नमक और पानी का घोल
डायरिया होने पर 1-2 घंटे के अंतराल में नमक और पानी का घोल बनाकर पीते रहें। दिन में कम से कम 6-7 गिलास बार इस घोल का सेवन करें। डायरिया की समस्या दूर हो जाएगी।
 

2. अदरक का रस
अदरक के रस में नींबू का रस और काली मिर्च पाउडर मिक्स करके पीएं। इससे आपको डायरिया के साथ-साथ पेट दर्द से भी राहत मिल जाएगी। इसके अलावा दिन में 3-4 बार अदरक की चाय का सेवन भी डायरिया को दूर करता है।
 

3. केला और सेब
केले और सेब का सेवन आंतों की गति को नियंत्रण करके दस्त की समस्या को दूर करता है। वहीं केला और सेब के मुरब्बे में मौजूद पेक्टिन भी दस्त की मात्रा को कम करके डायरिया को दूर करता है।
 

4. चावल
दस्त की समस्या को दूर करने के लिए दिन में कम से कम 3 बार चावल के पानी का सेवन करें। इससे आपकी परेशानी कुछ समय में ही दूर हो जाएगी।

 

बच्चों के लिए घरेलू नुस्खे

PunjabKesari
1. शक्कर
बच्चों में डायरिया की समस्या को दूर करने के लिए एक गिलास पानी में 2 चम्मच शक्कर और चुटकीभर नमक और नींबू का रस मिलाकर पीलाएं। इससे बच्चों को तुरंत आराम मिल जाएगा।
 

2. नारियल पानी
इस प्रॉब्लम को दूर करने के लिए आप बच्चों को नारियल पानी पीलाएं। इसमें मौजूद सभी पोषक तत्व डायरिया के साथ-साथ शरीर की कमजोरी भी दूर करते हैं।
 

3. दाल का पानी
डायरिया में बच्चों को दाल का पानी, चावल का मांड़ और दही-केला खिलाएं। इसके अलावा पानी में सौंफ का चूर्ण और बेलगिरी मिलाकर बच्चों को पीलाने से भी दस्त की समस्या दूर होती है।
 

4. अनार के छिलके
अनार के छिलके को सूखाकर उसे पीस लें। इसके बाद इस चूर्ण में शहद मिलाकर बच्चों को दिन में 3-4 बार चाटने के लिए दें। इससे दस्त आने बंद हो जाएंगे।


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP