23 OCTFRIDAY2020 4:45:57 AM
Nari

हाथरस केस में नया मोड़, लगातार फोन से टच में थे आरोपी और पीड़िता का भाई

  • Edited By Bhawna sharma,
  • Updated: 09 Oct, 2020 05:20 PM
हाथरस केस में नया मोड़, लगातार फोन से टच में थे आरोपी और पीड़िता का भाई

हाथरस गैंगरेप ने देश के लोगों में आक्रोश भर दिया है। पूरा देश घटना को अंजाम देने वाले दरिंदों को फांसी देने की मांग कर रहा है। पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए लोग सड़कों पर उतर आए हैं। इसी बीच यूपी पुलिस की जांच में एक बड़ा खुलासा हुआ है। इस मामले की जांच में पाया गया है कि पीड़िता का परिवार इस घटना के मुख्य आरोपी संदीप सिंह के साथ लगातार संपर्क में था। 

आरोपी के साथ संपर्क में था पीड़िता का परिवार

मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने पीड़िता के परिवार और मुख्य आरोपी के फोन काॅल्स की जांच की। जिससे पता चला है कि पीड़िता के भाई के नाम से आरोपी संदीप को एक नंबर से लगातार फोन आते थे। पुलिस के अनुसार दो नंबरों के बीच 104 बार बातचीत की गई है, जिसमें 62 कॉल आउटगोइंग और 42 इनकमिंग थी।

PunjabKesari

पीड़िता को उसके ही परिवार वालों ने मारा- आरोपी संदीप

इसी बीच जेल में बंद चारों आरोपियों ने पुलिस अधीक्षक (एसपी) को पत्र लिखा है। जिसमें आरोपियों ने कहा है कि वह बिल्कुल निर्दोष हैं। वे चाहते हैं कि इस पूरे मामले की अच्छे से जांच की जाए। वहीं इस घटना का मुख्य आरोपी संदीप का भी यही कहना है कि पीड़िता को उसके ही परिवार वालों ने मारा है। उस पर लगाए सभी आरोप झूठे हैं। संदीप का कहना है कि वो लड़की उसके गांव की रहने वाली थी। 

PunjabKesari

मां और भाई ने लड़की को बुरी तरह पीटा था- संदीप

संदीप ने पत्र में आगे कहा कि उस लड़की से उसकी दोस्ती थी। दोनों आपस में मिलते रहते थे और कभी-कभी फोन पर भी बात करते थे। लेकिन हमारी दोस्ती उसके घरवालों को बिल्कुल भी पसंद नहीं थी। जिस दिन घटना हुई तब मेरी मुलाकात उससे खेत में हुई थी। उस दिन खेत में उसके साथ उसकी मां और भाई दोनों मौजूद थे। जिसके बाद वह वापिस अपने घर को लौट गया था। फिर गांव वालों से जानकारी मिली कि उसकी मां और भाई ने लड़की को काफी बुरी तरह पीटा था। क्योंकि हम दोनो की दोस्ती थी। बुरी तरह पीटने की लजह से उसे गंभीर चोटें आई और बाद में उसने दम तोड़ दिया। 

PunjabKesari

संदीप का कहना है कि उसने कभी भी उस युवती के साथ मारपीट और गलत काम नहीं किया। लड़की की मां और भाई ने उसे और तीन अन्य लोगों को झूठे आरोप में फंसाया है। बता दें 14 सितंबर को पीड़िता अपनी मां और भाई के साथ जंगल में घास काटने गई थी। तभी चारों अभियुक्तों ने पीड़िता के साथ उसके गले में पड़े दुपट्टे से बाजरे के खेत में खींचकर घिनौनी हरकत की। मां ने बेटी को कई आवाजें दी। खेतों में 20 मीटर अंदर जाने के बाद उन्हें पीड़िता बुरी हालत में मिली। पीड़िता कुछ बोल ना सके इसलिए आरोपियों ने उसकी जीभ काट दी। वह लड़की चलकर अपने घर ना जा सके इसलिए उन्होंने बेरहमी से उसकी रीढ़ की हड्डी तक तोड़ डाली थी।

Related News