03 JULSUNDAY2022 2:36:36 AM
Nari

आंत को रखना है हेल्दी तो डाइट में शामिल करें ये टेस्टी-टेस्टी Dishes

  • Edited By neetu,
  • Updated: 24 Feb, 2022 05:47 PM
आंत को रखना है हेल्दी तो डाइट में शामिल करें ये टेस्टी-टेस्टी Dishes

पाचन तंत्र को मजबूत बनाएं रखने में हमारी आंतें बेहद अहम मानी जाती है। इनकी कार्य प्रणाली में गड़बड़ी होने से पाचन तंत्र खराब होने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसके कारण बीमारियों की चपेट में आने का खतरा बढ़ता है। इससे बचने आप डेली डाइट में कुछ खास डिशेज शामिल कर सकते हैं। ये डिशेज आपकी सेहत के साथ टेस्ट बरकरार रखने में मदद करेगी। चलिए जनते हैं इसके बारे में...

खिचड़ी

दाल और चावल से तैयार खिचड़ी खाने में हल्की पर गुणों की खान होती है। इसमें घी मिलाकर खाने से इसका स्वाद और गुण और भी बढ़ जाते हैं। एक्सपर्ट अनुसार, गट हेल्थ को बरकरार रखने के लिए खिचड़ी का सेवन करना बेस्ट ऑप्शन है। इसके सेवन से दस्त, कब्ज, जी मिचलाना व उल्टी आने की समस्या से बचाव रहता है। आप चाहे तो इसकी गुणवत्ता बढ़ाने के लिए इसमें अलग-अलग सब्जियां मिला सकती है।

PunjabKesari

इडली

दक्षिण भारत की फेमस डिश इटली को देशभर के लोग बड़े चाव से खाना पसंद करते हैं। कम कैलोरी व पोषक तत्वों से भरपूर इडली का सेवन करने से आंते स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। आप दिनभर हैल्दी व एक्टिव रहने के लिए नाश्ते में इडली का सेवन कर सकती है।

आंवला का मुरब्बा

आंवला के मुरब्बे में फाइबर अधिक मात्रा में होता है। सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से गैस, एसिडिटी, कब्ज आदि पेट से जुड़ी समस्याएं दूर रहती है। आंते स्वस्थ रहने से पाचन संबंधी परेशानियों से छुटकारा मिलता है।

दही चावल

दही में गुड बैक्टीरिया पाए जाते हैं जो आंतों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसके सेवन से पाचन तंत्र में सुधार होने के साथ वजन घटाने में मदद मिलती है। एक्सपर्ट अनुसार, दही को सफेद चावल के साथ से सेहत को दोगुना फायदा होता है। यह फूड कम्बीनेशन शरीर के एक स्वस्थ माइक्रोबियल के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है।

PunjabKesari

मूंग दाल

मूंग दाल प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम, विटामिन, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल व एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है। इसका सेवन करने से पाचन तंत्र में मजबूती व सुधार आता है। ऐसे में पाचन संबंधी समस्याएं दूर रहती है। इससे आंत स्वस्थ रहने के साथ इम्यूनिटी भी तेजी से बढ़ती है। ऐसे में बीमारियों की चपेट में आने का खतरा कम रहता है। आप इसे रोटी, परांठा या चावल के साथ खा सकती है।

.pc: freepik

Related News