14 MAYFRIDAY2021 10:40:19 AM
Nari

ओवरी में गांठें बन गई थी, Periods प्रॉब्लम हो गई लेकिन दवाइयों से नहीं मिला छुटकारा

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 13 Apr, 2021 11:46 AM
ओवरी में गांठें बन गई थी, Periods प्रॉब्लम हो गई लेकिन दवाइयों से नहीं मिला छुटकारा

जब हार्मोंनल गड़बड़ी होती है तो महिला को सेहत संबंधी एक नहीं कई समस्याएं शुरू हो जाती है। इसी के चलते पीसीओडी की समस्या भी होती है। इस रोग में महिला की ओवरी में गांठें बनने लगती है जिसे सिस्ट कहते हैं। इन्हीं गांठों के चलते महिला के पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं और आगे कंसीव करने जैसी समस्या भी होने लगती है।

PCOD के कारण बढ़ गया था कि.लो. वजन

सारा अली खान भी कभी इसी समस्या के चलते परेशान थी। वजन इतना बढ़ गया था कि 96 कि.लो. तक पहुंच गया। इस बारे में उन्होंने खुद बताया था कि बचपन में उनके मोटापे का बड़ा कारण पीसीओडी रहा था। वह काफी फूडी भी थीं। पीसीओडी के चलते उन्हें काफी दिकक्तें हुईं लेकिन आज वह एकदम स्वस्थ हैं। सारा ने करीब 46 किलो वजन घटाया जो आसान नहीं था।

PunjabKesari

हर 10 में से 2 महिलाएं शिकार

इस लाइफस्टाइल संबंधी बीमारी के लिए सारा ने सही डाइट और एक्सरसाइज का सहारा लिया। आकंडों की बात करें तो हर 10 में से 2 महिलाएं पीसीओडी की समस्या से जूझ रही हैं।

कैसे पहचानें बीमारी के लक्षण

इसके चलते पीरियड्स तो अनियमित होते ही है साथ ही...

-शरीर पर अनचाहे बाल आने लगते हैं
-वजन बढ़ने लगता है
-चेहरे पर ढेर सारे पिंपल्स निकलते हैं
-आवाज भारी हो जाती है।
-बाल झड़ना, मूड स्विंग, सिरदर्द
-पेल्विक में दर्द होना जैसी समस्याएं होती हैं।

PunjabKesari

PCOD के कारण

इसका रोग का कारण भी कोई एक नहीं है। महिला का बहुत ज्यादा तनाव में रहना, सही समय पर खाना नहीं खाना, एक्सरसाइज ना करना, गलत खान-पान, पूरी नींद ना लेना यह सब इस रोग को न्योता देती है।

PCOD को कंट्रोल करने के लिए सारा के टिप्स

-वेट लॉस करना सारा के लिए कोई एक दिन की मेहनत नहीं थी इसके लिए उन्होंने पूरा डाइट प्लान बनाया वर्कआउट कर दिन रात पसीना बहाया। उन्होंने लो कार्ब हाई प्रोटीन डाइट ली।

-सबसे ज्यादा कंट्रोल उन्होने अपनी डाइट पर ही किया। पिज्जा बर्गर जैसी फास्ट फूड्स आइटम उन्होंने बिलकुल छोड़ दी। सिर्फ एक टाइम कार्ब लिया वो भी लंच में। लो कार्ब और हाई प्रोटीन डाइट के साथ उनका डाइट प्लान तैयार हुआ। फाइबर के लिए वह फल खाती थीं, जबकि बॉडी को डिटॉक्स करने के वह कई तरह की होममेड ड्रिंक्स पीती थी जैसे धनिया-जीरे का पानी, सब्जियों और फ्रूट्स से बनी ग्रीन स्मूदी पीती थी सुबह उठकर ग्रीन टी या नींबू शहद से उनकी शुरुआत होती है।

-डाइट में हैल्दी खाने के साथ साथ वह योगा, पिलाटेस क्लास जिम में वर्कआउट आदि करती ही रहती थी। सिर्फ जिम ही नहीं सारा ने कहा कि उन्होंने डांस में भी बहुत पसीना बहाया। सूर्य नमस्कार और प्राणायाम भी उनकी रुटीन का हिस्सा थे।

PunjabKesari

इस तरह सारा ने वजन भी घटाया और पीसीओडी से छुटकारा भी पाया। याद रखिए ये रोग लाइफस्टाइल से जुड़ा रोग है जिसको कंट्रोल करने के लिए दवाइयों केसहारे की नहीं बल्कि हैल्दी लाइफस्टाइल की जरूरत है।

Related News