01 JUNMONDAY2020 7:26:48 PM
Nari

शादी के बाद 19 साल एक-दूसरे से अलग रहे थे बबीता-रणधीर, वजह थी 1 जिद्द

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 15 Feb, 2020 05:26 PM
शादी के बाद 19 साल एक-दूसरे से अलग रहे थे बबीता-रणधीर, वजह थी 1 जिद्द

बॉलीवुड में वैसे तो कई सितारे हैं जिनके खानदान की पीढ़ियों ने इंडस्ट्री पर खूब राज किया लेकिन उनमे से सबसे पहला नाम कपूर खानदान का लिया जाता है जिससे जुड़ा लगभग हर सदस्य बॉलीवुड में अपनी एक्टिंग का जौहर दिखा चुका है। शायद यहीं वजह है कि कपूर खानदान के सदस्य से लोगों का खास लगाव है। इसी खानदान के बेटे रणधीर कपूर के फैंस भी करोड़ों में है जो एक समय पर बड़ा सितारा हुआ करते थे।

PunjabKesari,nari

अपने दौर में रणधीर कपूर ने इंडस्ट्री पर खूब राज और लोगों से प्यार भी लिया लेकिन उनकी निजी जिंदगी काफी उलझी रही। जी हां, प्रोफेशनल लाइफ से ज्यादा रणधीर कपूर अपनी लव लाइफ को लेकर चर्चा में रहे। कहा जाता है कि एक्ट्रेस बबीता के साथ रणधीर कपूर की लवस्टोरी शुरू तो बेहद खूबसूरत तरीके से हुई लेकिन आगे चलकर इनकी कहानी में ऐसा मोड़ भी आया कि सब सुधारना मुश्किल हो गया। तो चलिए जानते हैं आखिर हुआ क्या ऐसा....

PunjabKesari,nari

रणधीर ने स्कूल से निकलते ही फिल्मों में काम शुरू किया। उन्होंने परिवार के प्रोडक्शन हाउस में बनी फिल्म कल आज और कल से डेब्यू किया था, जिसमें उनके पिता राज और दादा पृथ्वीराज कपूर भी थे, वहीं उनकी मुलाकात बबीता से हुई थी। इस फिल्म में बबीता लीड रोल में थी। बस फिर क्या था साथ काम करते हुए रणधीर उनकी खूबसूरती पर मर मिटे और उन्हें अपना दिल दे बैठे। यहीं से शुरू हुई दोनों की प्रेम कहानी...जब दोनों को एक-दूसरे के साथ प्यार का अहसास हुआ तो रणधीर ने पिता राज कपूर से कहा कि वो बबीता से शादी करना चाहते हैं लेकिन तब कपूर खानदान में किसी अभिनेत्री से शादी करना अच्छा नहीं माना जाता था।

PunjabKesari,nari

मगर बावजूद इसके रणधीर पीछे नहीं हटे और पिता की गन हाथ में लेकर पिता को धमकी दे डाली कि वो शादी करेंगे तो सिर्फ बबीता से नहीं तो किसी से नहीं। पिता को भी रणधीर के आगे हाथ टेकने पड़े और मजबूरन शादी के लिए राजी होना पड़ा। मगर शादी के लिए उन्होंने एक शर्त जरूर रखी कि शादी के बाद बबीता फिल्मों में काम नहीं करेंगी। साल 1971 में बबीता और रणधीर की शादी हुई। रणधीर की पत्नी बनने के लिए बबीता ने अपना करियर भी छोड़ दिया।

मगर दोनों की सक्सेस लव स्टोरी में एक दिन ऐसा मोड़ आया जब दोनों बिना तलाक अलग रहने लगे। दरअसल, बात उस समय की है जब 1980s में रणधीर एक के बाद एक फ्लॉप फिल्म दे रहे थे और फ्लॉप एक्टर के नाम से जाने जाने लगे थे जिसका असर उनकी शादीशुदा जिंदगी पर भी पड़ा। रणधीर न सिर्फ नाकामयाब हुए बल्कि उनका लाइफस्टाइल भी बिगड़ने लगा जिस वजह से बबीता और उनके बीच दूरियां बढ़ती चली गई और एक दिन आया जब बबीता कपूर खानदान को छोड़कर अपने मायके आरके कॉटेज रहने चली गईं। शादी के बावजूद भी बबीता-रणधीर पूरे 19 साल एक-दूसरे से अलग रहे जिस बीच बबीता ने कपूर खानदान का एक नियम भी तोड़ा। उन्होंने रणधीर और कपूर फैमिली के खिलाफ जाकर अपनी बड़ी बेटी करिश्मा को फिल्मों में काम करने की इजाजत दी और कपूर खानदान के पुराने रिवाज को तोड़ा डाला।

PunjabKesari,nari

इस बीच रणधीर का एक बयान जरूर आया था जो सभी दूसरों के लिए प्रेरणा भी बना। उस वक्त रणधीर ने कहा था, 'डिवोर्स क्यों लेना? ना मैं दूसरी शादी करना चाहता हूं और ना वो, वो मेरे तरीके से नहीं रहना चाहती थी और ना मैं उसके, उसने मेरी बेटियों की परवरिश इतने अच्छे से की है, मुझे और क्या चाहिए होगा।'

PunjabKesari,nari

ध्यान देने वाली बात तो ये है कि इतने साल एक-दूसरे से अलग रहने के बाद भी दोनों ने तलाक नहीं लिया। खैर,अब दोनों के रिश्ते जरूर सुधर गए हैं और दोनों एकसाथ कई इवेंट में स्पॉट भी हो जाते हैं। 

Related News