31 MARTUESDAY2020 10:52:51 PM
Nari

तिल खाने से पहले जान लें इसके फायदे-नुकसान

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 23 Jan, 2020 04:39 PM
तिल खाने से पहले जान लें इसके फायदे-नुकसान

तिल को अलग-अलग पकवान बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इनमें तिल के लड्डू से लेकर रेवड़ी, तिल-गुड़ वाली चिक्की आदि शामिल हैं। लोग बाजार से भी तिल से बनी चीजें खरीदते हैं। इन सब को खाने का मजा लें, उससे पहले तिल से जुड़ी कुछ चीजें जरूर जान लें।

तिल खाने के फायदे

Image result for til,nari

 

डायबिटीज और हाई बीपी की समस्या रखें दूर

तिल में मौजूद फाइबर व मैग्नीशियम के तत्व इंसुलिन और ग्लूकोज लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल बिगड़ने का खतरा कम होता है जो डायबिटीज को दूर रखने में मदद करता है। इसके साथ ही यह ब्लड प्रेशर को कम करने में भी मददगार है। कई स्टडीज में भी यह बात साबित हो चुकी है कि तिल को डायट में शामिल करने से हाई बीपी की समस्या को दूर रखा जा सकता है। 

ओरल हैल्थ रखें दुरुस्त

तिल मसूड़ों को मजबूत करने के साथ ही प्लाक की समस्या को दूर रखता है। साथ ही मुंह की बदबू, मसूड़े से खून आना और दांत खराब होने जैसी परेशानियों से भी तिल लड़ने में मदद करता है। 

पेट का रखें ख्याल

एक तय मात्रा में तिल खाने से शरीर की पाटन क्रिया भी दुरूस्त होती है। इससे कब्ज और अपच की समस्या भी दूर होती है। 

स्किन के लिए

तिल न सिर्फ सेहत सही रखते हैं, बल्कि सुंदरता निखारने में भी एक शानदार ऑप्शन है। इसकी एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-ऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज पिंपल, ऐक्ने और डार्क पैच के कारकों को दूर कर स्किन को हैल्दी बनाए रखती है। रात को सोते वक्त चेहरे पर तिल का तेल लगाने से झुर्रियों की समस्या से निपटने में भी मदद मिलती है। 

Related image,nari

बालों के लिए

तिल का तेल बालों में नियमित रूप से लगाया जाए तो बालों को जड़ों से मजबूती मिलती है। साथ ही उनमें शाइन बढ़ती है। सर्दियों में डैंड्रफ की समस्या हो जाती है। ऐसे में तिल का तेल फायदा करता है। बाल झड़ना भी इस तेल से कम हो जाता है। 

 

ध्यान रहे, तिल के हैं कुछ नुकसान भी

- तिल हर किसी की बॉडी को सूट नहीं करता है। कुछ लोगों में यह एलर्जिक रिएक्शन ट्रिगर कर सकता है जो डॉक्टर के पास जाने को मजबूर कर देगा। 

- तिल की ब्लड प्रेशर लो करने की प्रॉपर्टीज उन लोगों के लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है जो पहले से ही लो बीपी के मरीज हैं। ऐसे लोग तिल को ज्यादा खाने से बचें या डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 

- तिल की पेट साफ करने की खासियत परेशानी की जड़ भी बन सकती है। ज्यादा मात्रा में तिल खाने पर पाचन क्रिया तेज होगी जिससे डायरिया हो सकता है।

- अगर तिल का तेल हेयर फॉल रोकता है तो वह इसे बढ़ा भी सकता है। दरअसल, यह तेल पोर्स को ब्लॉक कर स्कैल्प इरिटेशन की वजह बन सकता है जिससे बाल झड़ना शुरू हो जाएंगे। यही वजह है कि इसे सिर में आधे घंटे से ज्यादा नहीं लगाने की सलाह दी जाती है।


 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News