04 AUGTUESDAY2020 1:45:28 AM
Nari

आपकी हर मनोकामना पूरे करेंगे घर में रखें पारद शिवलिंग, बुरी शक्तियों का होगा नाश

  • Edited By Bhawna sharma,
  • Updated: 11 Jul, 2020 07:46 PM
आपकी हर मनोकामना पूरे करेंगे घर  में रखें पारद शिवलिंग, बुरी शक्तियों का होगा नाश

सावन का महीना शुरू हो गया है। शास्त्रों के अनुसार ये भगवान शिव का महीना होता है। शिवभक्त भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए व्रत रखते हैं। बहुत से लोग यह घर में शिवलिंग की स्थापना करते हैं लेकिन आपको बता दें कि घर में सिर्फ पारद शिवलिंग की पूजा और उनकी स्थापना की जा सकती हैं। पारद शिवलिंग जो आपकी हर समस्या का समाधान निकालता है।  

सिद्ध धातु पारद 

PunjabKesari

पारद को प्राचीन ग्रंथों में स्वयं सिद्ध धातु माना गया है। कई महत्वपूर्ण ग्रन्थों में पारद का वर्णन किया गया है। पारद को शिवपुराण में शिव का वीर्य कहा गया है। वीर्य एक बीज है जो सृष्टि का विस्तार करता है।

पूरी होती है सभी इच्छाएं 

पारद शिवलिंग के दर्शन से ही आपकी सभी मनोकामना पूरी हो जाती हैं। पारद शिवलिंग की पूजा करने से स्वास्थ्य और धन लाभ की इच्छा पूरी होती है। 

शिवलिंग के आगे सभी तंत्र नाकामयाब

मान्यता है कि सावन में पारद शिवलिंग की पूजा करने से हर तरह के तंत्र-मंत्र और उसके बुरे प्रभाव खत्म हो जाते हैं। माना जाता है कि जो भी भक्त पारद शिवलिंग की पूजा करता हैं खुद महाकाल और महाकाली उनकी रक्षा करते हैं।

परिवार बनी रहती है सुख-शांति 

सावन के महीने में सचे मन और श्रद्धा से किए गए पारद शिवलिंग के दर्शन से ही पुण्य मिलता है। इसके साथ ही परिवार में सुख-शांति का आगमन होता है। जीवन में ना तो किसी चीज की कमी रहती है और ना ही चिंता। पारद शिवलिंग के स्पर्श करने से ही शरीर में दैवीय शक्तियों का प्रवेश होता हैं।

PunjabKesari

जानिए कैसे करें सावन में पूजा 

पारद शिवलिंग के सीधे हाथ की तरफ दीपक जलाएं। इसके बाद हाथ में थोड़ा जल और फूल लेकर महामृत्युंजय मंत्र का तीन बार जप करें। साथ ही फल और जल भगवान शिव को अर्पित कर दें। पूरे श्रद्धा भाव से पूजा करने पर लंबी आयु व आरोग्य की प्राप्ति होती है। शिवपुराण के अनुसार अन्य शिवलिंगों की अपेक्षा पारद शिवलिंग की पूजा करने से हजार गुना अधिक फल की प्राप्ति होती है।

शिवलिंग में ब्रह्माण्ड का संपूर्ण ज्ञान 

पारद शिवलिंग की पूजा-अर्चना करने से धन, परिवार और स्वास्थ्य से जुड़ी हर समस्या का अंत होता है। शास्त्रों के अनुसार इस शिवलिंग में ब्रह्माण्ड का संपूर्ण ज्ञान बसा हुआ है।

PunjabKesari

Related News