26 NOVTHURSDAY2020 3:18:31 PM
Nari

किडनी व लिवर को डिटॉक्स करेंगी ये आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 19 Oct, 2020 05:06 PM
किडनी व लिवर को डिटॉक्स करेंगी ये आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां

बार-बार पेशाब आना, यूरिन में जलन जैसी समस्याएं हो रही है तो ये किडनी में गड़बड़ी का संकेत हो सकता है। इसके अलावा यूटीआई, इंफैक्शन की समस्या भी किडनी में खराबी का संकेत हो सकता है। अगर समय रहते इनका इलाज ना किया जाए तो यह गंभीर रूप ले सकता है। कोरोना काल में तो किडनी व लिवर को डिटॉक्स करना और भी जरूरी है क्यों वायरस सीधा लिवर पर असर डालता है, जिससे मरीज की मौत भी हो सकती है। ऐसे में आज हम आपको कुछ जड़ी बूटियों के बारे में बताएंगे, जो इन परेशानियों को दूर करने के साथ किडनी व लिवर को डिटॉक्स भी करेंगी।

पलाश

यह एक पेड़ है, जिसके पत्तों, जड़ों व फूलों का इस्तेमाल जड़ी-बूटी की तरह किया जाता है। इसका काढ़ा बनाकर पीने से किडनी व लिवर को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है।

PunjabKesari

धनिया

खाने में स्वाद बढ़ाने के लिए हर भारतीय रसोई में धनिया का इस्तेमाल किया जाता है। मगर यह किडनी व लिवर को स्वस्थ रखने में भी काफी मददगार है।

पुनर्नवा

आयुर्वेद गुणों से भरपूर पुनर्नवा का काढ़ा भी किडनी व लिवर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। साथ ही इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लामेटरी गुण शरीर को बीमारियों से बचाते हैं।

PunjabKesari

त्रिफला

खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए अलावा त्रिफला गुर्दे और यकृत को मजबूत बनाने में भी काफी फायदेमंद है। साथ ही इसमें मौजूद प्राकृतिक गुण वजन घटाने में भी काफी मददगार है।

हॉर्सटेल

हॉर्सटेल में अल्कलॉइड है, जो किडनी व लिवर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। यही नहीं, इससे इम्यून सिस्टम भी मजबूत होती है, जिसे आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं।

PunjabKesari

चंदन

आयुर्वेद औषधि चंदन यूटीआई, पेशाब में जलन जैसी समस्याओं के लिए रामबाण इलाज है। वहीं, चंदन में मौजूद एंटी-माइक्रोबियल गुण त्वचा की समस्याओं को दूर करने में भी मददगार है।

गोक्षुरा

इस पेड़ का छाल का काढ़ा बनाकर पीने से ना सिर्फ किडनी व लिवर डिटॉक्स होते हैं बल्कि यह यूटीआई के लिए भी बेहतरीन औषधी है। इसके अलावा इससे किडनी स्टोन भी बाहर निकल जाता है। साथ ही यह ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने में भी काफी मददगार है।

PunjabKesari

हल्दी

एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर हल्दी गुर्दे की पथरी, किडनी में सूजन, इंफेक्शन, किडनी सिस्ट में काफी फायदेमंद है। आप भोजन में इसका इस्तेमाल करने के अलावा दूध, काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं।

गुड्डुची

डॉक्टर भी स्वस्थ रहने के लिए गुड्डुची (गिलोय) खाने या इसका जूस पाने की सलाह देते हैं। यह खून को साफ करने का काम करती है। साथ ही इससे बॉडी डिटॉक्स भी होती है।

PunjabKesari

हल्दी

औषधीय गुणों का भंडार हल्दी किडनी और लिवर को डिटॉक्स करने के साथ कई बीमारियों को दूर करने में मदद करती है। रोजाना हल्दी का सेवन गुर्दे की पथरी, किडनी में सूजन, इंफेक्शन, किडनी सिस्ट में भी फायदेमंद होती है।

अदरक

अदरक में मौजूद एंटी इंफ्लामेटरी गुण भी लिवर और किडनी को डिटॉक्स करने में मददगार है। साथ ही इससे गुर्दे में दर्द, सूजन, यूटीआई इंफेक्शन और संक्रमण दूर करने में भी फायदेमंद है।

वरुण

वरुण एक ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, जो गुर्दे की पथरी निकालने के साथ लिवर व किडनी को डिटॉक्स भी करती है। साथ ही यह खून को साफ भी करती है और इससे बल्ड सर्कुलेशन बढ़ता है।

PunjabKesari

Related News