18 OCTFRIDAY2019 12:44:50 AM
Nari

Health: कैंसर से भी खतरनाक है लिवर से जुड़ी बीमारी, बरतें सावधानी

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 01 Jun, 2019 03:59 PM
Health: कैंसर से भी खतरनाक है लिवर से जुड़ी बीमारी, बरतें सावधानी

लिवर से जुड़ी कई बीमारी ऐसी होती है जिसे आप छोटी समझकर नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि छोटी-सी दिखने वाली यह बीमारी अगर भयंकर रूप ले तो आपकी जान तक जा सकती है। अक्सर लोगों को ऐसा लगता है कि लिवर में बीमारी एल्कोहल पीने से होती है लेकिन आपको बता दें कि इसका कारण आपका खराब लाइफस्टाइल और ज्यादा जंक फूड खाने की आदत है।

 

5 तरह की होती हैं लिवर से जुड़ी बीमारियां

लिवर से जुड़ी समस्याएं 5 तरह की होती हैं, जिन्हें ए, बी, सी, डी, ई कहते हैं। ए और ई को जॉन्डिस के नाम से जाना जाता है। जॉन्डिस खराब पानी पीने की वजह से होता है। बी, सी व डी, इंफेक्शन से होने वाली बीमारी है, जिसका लिवर पर गहरा असर पड़ता है। इसे क्रॉनिक हेपेटाइटिस कहते हैं। इसके अलावा ऑटोइम्यून डिसॉर्डर है, जो आमतौर पर महिलाओं को होता है। इसमें शरीर का नर्वस सिस्टम ही शरीर की सेल्स को नुकसान पहुंचाने लगता है।

PunjabKesari

आंतों की सूजन या पेट में दर्द

आंतों की सूजन या पेट में दर्द होना आपके लिवर के लिए भी खतरे का संकेत हो सकते हैं। अगर लिवर का साइज बढ़ने लगे तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इसे फैटी लिवर की समस्या भी कहते हैं। लिवर का साइज बढ़ने पर अपकी आंतों और पेट दर्द या चुभन जैसी शिकायते हो सकती हैं।

क्‍या है फैटी लिवर (Fatty Liver)?

फैटी लिवर वह बीमारी है, जिसमें लिवर की कोशिकाओं में अधिक मात्रा में फैट जमा हो जाता है। लिवर में वसा की कुछ मात्रा का होना तो सामान्य बात है लेकिन फैटी लिवर बीमारी व्यक्ति को केवल तब होती है जब वसा की मात्रा लिवर के भार से 10% अधिक हो जाती है। अतिरिक्त फैट जमा होने के कारण लिवर अपना काम करना भी बंद कर देता है।

PunjabKesari

लिवर से जुड़ी बीमारियां

जॉन्डिस यानि पीलिया जैसी बीमारी के होने की सबसे बड़ी वजह गंदगी होती है। हेपेटाइटिस ए और ई खराब खाने और खराब पानी की वजह से होती है। हेपेटाइटिस बी, सी और डी अनसेफ सेक्स और ब्लड में इंफेक्शन की वजह से हो सकती है। ज्यादा शराब पीने से लिवर और पेन्क्रियाज पर बुरा असर पड़ता है। लिवर के रोगों से जुड़ी समस्याओं में लिवर सिरोसिस अहम है। बीमारी ज्यादा बढ़ने पर लिवर ट्रांसप्लांट की नौबत तक आ सकती है।

क्या है लिवर सिरोसिस?

लिवर सिरोसिस, कैंसर के बाद सबसे गंभीर बीमारी होती है। लिवर सिरोसिस होने पर बड़े पैमाने पर लिवर के सेल्स खत्म होने लगते हैं और उनकी जगह एक जाल बनने लगता है। इस बीमारी से लिवर की बनावट भी चेंज होने लगती है और इसका आखरी इलाज लिवर ट्रांसप्लांट होता है।

PunjabKesari

लक्षण पहचानें

-स्किन, नाखून, आंखों और यूरिन का पीला पड़ना।
-मुंह का बार-बार कड़वा होना।
-हर वक्त घबराहट और उल्टी की शिकायत रहना।
-पेट में सूजन और भारीपन का एहसास होना।
-आलस, चिड़चिड़ापन और हर वक्त नींद आना।
-याददाश्त कमजोर होना या भूलने की बीमारी होना।

क्या करें?

-यह जरूरी है कि किस समय क्या खाना है, जिससे लिवर की बीमारी ठीक हो सकती है।
-खाना आप तभी खाएं, जब आपको भूख लगती हो और खाना भूख से ज्यादा न खाएं।
-रात के खाने में सब्जियां, प्रोटीन और स्टार्च वाली चीजों को शामिल करें।
-शहद और गुड़ डाइट में शामिल करें।
-सुबह उठकर खुली हवा में गहरी सांसे ले और नंगे पैर घास पर चलें। इससे काफी फायदा मिलेगा।  
-रोज दिन में 3-4 बार नींबू पानी और कम से कम 7-8 गिलास पानी जरूर पीएं।
-सलाद, अंकुरित दाल का भी अधिक से अधिक सेवन करें और भाप में पके हुए या फिर उबले हुए पदार्थ खाएं।
-आंवला में विटामिन सी होता है जो लिवर के लिए काफी फायदेमंद है। इसलिए रोज 4-5 कच्चे आंवले खाएं। 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News