14 AUGSUNDAY2022 9:42:05 AM
Nari

Shahnaaz Husssain: तैलीय त्वचा से राहत दिलवाएंगी ये तरीके, ब्यूटी रुटीन में करें शामिल

  • Edited By palak,
  • Updated: 05 Aug, 2022 03:52 PM
Shahnaaz Husssain: तैलीय त्वचा से राहत दिलवाएंगी ये तरीके, ब्यूटी रुटीन में करें शामिल

शरीर प्राकृतिक तरीके से तेल का उत्पादन करता है जो कि हमारी त्वचा  को कोमल और मुलायम बनाने के लिए काफी होती है।  लेकिन उम्र बढ़ने के साथ ही शरीर में प्राकृतिक तेलों का उत्पादन कम होने लगता है जिससे हमारी त्वचा बेजान और रूखी होने लगती है।  ऐसे में त्वचा के प्राकृतिक सन्तुलन को बनाए रखने के हर्बल फेस ऑयल की जरूरत पड़ती है। ज्यादातर महिलाओं को सोच रहती है कि फेस ऑयल का उपयोग  शुष्क और रूखी सुखी त्वचा को कोमल बनाने के लिए किया जाता है लेकिन ऐसे अनेक फेस ऑयल हैं जिन्हे आप  सामान्य त्वचा पर भी प्रयोग कर सकती हैं। महिलाएं अपनी रंगत निखारने, चेहरे पर झुर्रियों कम करने और अन्य सौन्दर्य जरूरतों के लिए ज्यादातर महँगी क्रीमों का सहारा लेती हैं लेकिन आप फेस ऑयल के माध्यम से सस्ते में अपनी त्वचा को गौरा , मुलायम और आकर्षक बना सकती हैं 

PunjabKesari

फेस ऑयल त्वचा को कई तरीकों से फायदा पहुंचाता है

 फेस ऑयल  त्वचा को मॉइश्चराइज  ही नहीं करता है बल्कि यह त्वचा में नमी को बरकरार रखता है। फेस ऑयल मॉइश्चचर को लॉक कर त्वचा को मुलायम  बनाने में मदद करता है।  नारियल और ऑलिव ऑयल त्वचा को मॉइश्चचराइज करने के लिए बेहद अच्छे होते हैं। तेलों में ऐसे कई गुण पाए जाते हैं जो हमारी त्वचा को आरोग्य करके इसे आकर्षक और मुलायम बना देते हैं। चेहरे के लिए आर्गन ऑयल और जोजोबा ऑयल को सबसे अच्छा माना जाता है। आर्गन ऑयल में अनसैचुरेटेड फैटी एसिड, एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके नियमित इस्तेमाल से चेहरे की छाइयाँ  कम हो जाती हैं । इसे आपकी त्वचा जवां रहती है। इसे  त्वचा  में आसानी से सोख लेती है। 

PunjabKesari

क्लीजिंग के बाद चेहरे पर लगाएं आर्गन ऑयल 

क्लींजिंग के बाद आप अपने चेहरे पर आर्गन ऑयल लगाकर मसाज करें। सीरम की तरह इस तेल की केवल कुछ ही बूंद लगाएं। या फिर 100 मिलीलीटर गुलाब जल में तेल की कुछ बूंदें मिलाकर अपनी स्किन को टोन कर सकती हैं। फेस ऑयल जो एसेंशियल  कैरियर और कंप्रेस्ड ऑयल का मिश्रण  होते हैं ,  वह त्वचा संबंधी कुछ समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं,  जिससे चेहरे पर निखार  आता है। हालांकिए जोजोबा या आर्गन ऑयल चेहरे के लिए फायदेमंद होते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि आप तिल या जैतून के तेल का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। कभी.कभी ऑयल के कॉम्बिनेशन ज्यादा प्रभावी होते हैं। फेस ऑयल एसेंशियल और प्रेस्ड ऑयल का काम्बिनेशन हो सकता हैए जैसे स्वीट आल्मंड ऑयल और जैतून का तेल। 

PunjabKesari

 संवेदनशील त्वचा के लिए साधारण बिना सेंट बाले  तेल

 तैलीय  त्वचा  के लिए तुलसी के तेल का इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे मुंहासे की समस्या कम होती है। यह शुष्क  त्वचा के लिए फायदेमंद है। सुगन्धित तेलों  में नीम का तेल बेहद गुणकारी होता है। लेकिन आप इसका इस्तेमाल सीधे अपनी त्वचा पर नहीं कर सकते हैं। मुहांसे और फफूंद संक्रमण से बचने के लिए इसे तिल के बीज के तेल और बादाम तेल के साथ बराबर मात्रा में मिलाया जाता है। इसलिए इसका इस्तेमाल तैलीय त्वचा  पर भी किया जा सकता है। आयुर्वेदिक फेस ऑयल में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध कुमकुमदि तैलम या तेल है जिसमें लगभग 24 आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां का मिश्रण होता है।

PunjabKesari

इन तेलो में ज्यादातर केसर,  चंदन,  हिमालयन चेरी,  वेटिवर या खसखस,  भारतीय बरबेरी,  बरगद के पेड़ के पत्ते और कई अन्य कीमती आयुर्वैदिक जड़ी बूटियों का  इस्तेमाल किया जाता है। तिल का तेल मूल माना जाता  है। फेस  ऑयल खरीदते समय लेबल जरूर पढ़े, ताकि आपको यह पता चल सके कि इसमें कौन से पौषक  तत्व  मिलाए गए हैं। आपको मुख्य तेल और मूल पौषिक  तत्वों   की जांच करनी चाहिए। यह जरूर देख लें की  यह आपकी त्वचा  के अनुरूप  होना चाहिए। उदाहरण के लिए जोजोबा ऑयल और टी ट्री ऑयल मुंहासे वाली त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं। 

लेखिका अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सौंदर्य विशेषज्ञ है और हर्बल क्वीन के रूप में लोकप्रिय है 

Related News