23 FEBSUNDAY2020 4:11:54 AM
Nari

ननद भी है दूसरी बहन, यूं समझें एक दूसरे के दिल की बात

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 23 Jan, 2020 12:36 PM
ननद भी है दूसरी बहन, यूं समझें एक दूसरे के दिल की बात

ननद-भाभी का रिश्ता बहुत ही प्यारा रिश्ता होता है। ननद और भाभी चाहे छोटी हो या फिर आपसे उम्र में बढ़ी, सम्मान और प्यार देना जरुर बनता है। जिस तरह दो बहनों में कभी-कभार नोक-झोक हो जाती है, उसी तरह हो सकता है ननद-भाभी के बीच भी छोटे-छोटे मन-मुटाव हों। मगर इसका मतलब ये नहीं रिशता खत्म। हर रिश्ते की बुनियाद प्रेम, स्नेह और यकीन होता है। आज हम आपको बताएंगे आप ननद-भाभी के इस प्यारे से रिश्ते को किस तरह प्यार के साथ निभा सकती हैं...

Related image,nari

एक साथ जाएं घूमने

कई बार हम शादी के बाद खुद को बड़ा महसूस करने लगते हैं, ऐसे में हमे लगता है हम हर काम अकेले कर सकते हैं, हमें किसी की जरुरत नहीं। भले आपको किसी की जरुरत न हो मगर फिर भी कहीं किसी काम पर जाते वक्त एक दूसरे को जरुर साथ लें जाएं। इससे एक तो आपका साथ हो जाएगा, साथ ही आप एक दूसरे को और नजदीक से जान पाएंगी।

भाई-बहन के बीच प्यार

कोशिश करें हर वक्त अपने पति के सामने ननद की तारीफ करें। कई बार बड़े भाई बहन को डांटते भी हैं, तो हमेशा अपनी ननद का साथ दें। अगर वह गलत भी हो तो भी प्यार के साथ उनके साथ खड़ी रहें, और उन्हें बाद में उनकी गलती का एहसास करवाएं। याद रखें आपकी तरह उन्हें भी एक खास Support की जरुरत होगी, कोशिश करें उस जगह पर हर वक्त आप खड़ी रहें। ऐसा ही व्यवहार ननद का अपनी भाभी की तरफ होना चाहिए।

Image result for kareena with soha,nari

अच्छी दोस्त

शादी से पहले तो एक लड़की की खूब सहेलियां होती हैं, मगर इसके बाद आपकी सबसे अच्छी दोस्त आपकी ननद होनी चाहिए। जब कभी अपनी पुरानी सहेलियों के साथ घूमने का प्लान बनाएं तो अपनी ननद को साथ लेना न भूलें।

अगर ननद है Abroad

अगर ननद की शादी हो चुकी है और वह विदेश या फिर किसी दूर शहर में रहती हैं तो उनसे हर रोज बात जरुर करें। मगर ऐसा करना उनके ससुराल में पसंद किया जाता है या नहीं, इस बात का भी जरुर ध्यान रखें। केवल उन्हीं से नहीं बल्कि ननद के पूरे परिवार से समय-समय पर बात करती रहें, इससे आपकी ननद को हौंसला महसूस होगा साथ ही आपकी और उनका रिश्ता मजबूत होगा।

Related image,nari

बात न काटें

भले ही वह आपकी बहुत अच्छी दोस्त बन जाएं, मगर फिर भी ननद-भाभी के रिश्ते का एहसास न भूलें। परिवार में बैठे हुए कभी भी उनकी बात न काटें। ऐसा करने से उन्हें बुरा लग सकता है। कोशिश करें घर के किसी भी सदस्य की बात काटकर अपनी बात न कहें, ऐसा करने से आपके संस्कार जाहिर होंगे।

घर का काम

ननद के साथ घर के हर काम में हेल्प करवाएं। इससे उनका काम कम होगा, साथ ही आप एक दूसरे के साथ समय बिता पाएंगी। काम के दौरान भी ध्यान रखें, किसी बात या काम को लेकर बहस न करें। इन सबके अलावा उनका बर्थ-डे जरुर याद रखें, बर्थ-डे पर कुछ स्पेशल प्लान जरुर करें।

परिवार में न करें बात

हर व्यक्ति गलती करता है, यदि कभी आपकी ननद या फिर भाभी से कोई गलती हो भी जाए तो उसे किसी दूसरे खासतौर पर अपने परिवार या फिर ससुराल वालों को न बताएं। कोशिश करें बात जितनी जल्द खत्म हो जाए उतना बेहतर है।

Related image,nari

तो ये थी ननद-भाभी के रिश्ते से जुड़ी कुछ खास बातें। जिन्हें फॉलो करके आप अपने रिश्ते में ढेर सारा प्यार और स्नेह भर सकती हैं। यह फर्ज केवल भाभी को ही नहीं बल्कि ननद को भी निभाना चाहिए।
 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News