27 JUNMONDAY2022 1:19:23 AM
Nari

Health Alert: क्या Omicron आपकी फिजिकल लाइफ को प्रभावित कर सकता है? बरतें ये सावधानियां

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 18 Jan, 2022 10:21 AM
Health Alert: क्या Omicron आपकी फिजिकल लाइफ को प्रभावित कर सकता है? बरतें ये सावधानियां

ओमिक्रॉन के कारण लोगों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। वहीं, हाल ही में वैज्ञानिकों की चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। दरअसल, विशेषज्ञों का भी मानना ​​है कि कोरोना और ओमिक्रोन के कारण आपकी फिजिकल लाइफ पर असर पड़ सकता है। शौध की मानें तो ओमिक्रॉन के कारण वैज्ञानिकों की इंटरकोर्स लाइफ कम हो रही है क्योंकि इससे यौन जीवन पर प्रभाव पड़ सकता है।

ओमिक्रोन कैसे कर रहा यौन जीवन को प्रभावित?

शोधकर्ताओं का कहना है कि ओमिक्रोन यौन जीवन को शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी प्रभावित करता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि इसका सबसे अधिक खतरा पुरुष साथी को है। नए शोध क् मुकाबले, कोविड -19 से इरेक्टाइल डिसफंक्शन (ईडी) हो सकता है। सामान्य तौर पर यौन रोगों का संभावित कारण तनाव, चिंता और अवसाद हो सकते हैं। यही नहीं, लंबे समय तक तनावग्रस्त रहने की वजह से ईडी, शीघ्रपतन, या एनोर्गास्मिया (Orgasmic disorder) भी महसूस हो सकती है।

PunjabKesari

अंडकोष को भी प्रभावित कर सकता है ओमिक्रोन 

वायरस के कारण शरीर में उच्च स्तर की सूजन , रक्त के छोटे थक्के बनना रक्त वाहिकाओं में सूजन भी हो सकती है। इसके कारण ब्लड सर्कुलेशन भी बाधित हो सकता है। शोध का कहना है कि कोरोना वायरस अंडकोष को भी प्रभावित कर सकता है। बता दें कि अंडकोष शरीर का वह हिस्सा है जहां पुरुषों में अधिकांश टेस्टोस्टेरोन बनता है। यही वजह है कि ओमिक्रोन से शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो सकता है। साथ ही इससे ऊर्जा में कमी, कामेच्छा और मांसपेशियों में कमी की समस्या भी हो सकती है।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन

कुछ शोध के अनुसार, कई पुरुषों में ओमिक्रोन से संक्रमित होने बाद इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या भी देखने को मिल रही है। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हुई है क्योंकि इसके कारण साइकोलॉजिकल भी हो सकते हैं।

PunjabKesari

इन बातों का रखें ध्यान

. सबसे पहले किसी एक्सपर्ट की मदद लें और शारीरिक व मानसिक समस्याओं से बचने की कोशिश करें।
. तनाव से बचने के लिए जितना हो अच्छी डाइट लें। साथ ही तनाव से बचने के लिए योग, एक्सरसाइज करें। अकेले ना रहें बल्कि परिवार के साथ समय बिताएं।
. स्वस्थ दिनचर्या और स्वच्छ आहार का पालन करें, ताकि आप कोरोना से बचे रहें।
. कोविड से जूझ रहे लोगों में कमजोरीऔर थकावट महसूस होती है, जिसका कारण कमजोर इम्यूनिटी भी हो सकती है। इसका असर यौन संबंधों पर भी पड़ता है, जिसके कारण कपल्स इसे पहले की तरह एंजॉय नहीं कर पाते।

सावधानी है जरूरी

कोरोना संक्रमितों मरीज पूरी तरह से आइसोलेशन में रहें। ठीक होने के कुछ हफ्ते तक फिजिकल इंटीमेसी से दूरी बनाए रखें। अच्छी तरह रिकवरी के बाद ही फिजिकल रिलेशन बनाएं क्योंकि कई बार कोरोना से ठीक होने में लंबा समय भी लग सकता है।

Related News