26 FEBMONDAY2024 5:35:45 PM
Nari

हमेशा गर्दन और हाथ पर रुमाल बांधते है जग्गू दादा, जानें इसके पीछे की वजह

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 01 Feb, 2024 01:28 PM

बॉलीवुड में बहुत से स्टार आए और गए लेकिन कुछ स्टार्स अपने खास अंदाज से हमेशा के लिए फैंस के दिलों में बस गए। जैकी श्रॉफ भी कुछ ऐसे ही स्टार रहे हैं। वह अपनी एक्टिंग के साथ साथ अपने सिंपल-सादे लाइफस्टाइल के लिए भी जाने जाते हैं। हाल ही में वह नंगे पैर अयोध्या में राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा सेरेमनी में शामिल हुए। राम मंदिर की साफ-सफाई करते दिखें। तो चलिए, आज आपको उनकी जिंदगी से जुड़ी  कुछ रोचक बातें बताते है।

PunjabKesari

क्यों बांधते है जग्गू अपने हाथ में रुमाल?

जग्गू दादा से एक सवाल और पूछा गया कि वह अपने हाथ और गर्दन पर हमेशा स्कार्फ क्यों पहनते हैं? इसके पीछे की वजह बताते हुए जैकी ने कहा, बचपन में मैं हमेशा मां की साड़ी को पकड़े रहता था, पता नहीं क्यों ऐसा करने से मुझे शांति मिलती थी। उनकी साड़ी पकड़ने से मुझे मुलायम कपड़ों की आदत हो गई। शायद यही से मुझे गले में स्कार्फ या रूमाल डालने की आदत लगी है। उन्होंने कहा कि उन्हें बांधनी प्रिंट बहुत पसंद है।

जैकी से जग्गू दादा बनने तक का सफर

जैकी कोई रईस परिवार से नहीं थे बल्कि वह मुंबई की एक चॉल में रहते थे। किसी सोचा भी नहीं था कि एक दिन सिगरेट बेचने वाला लड़का, एक दिन बॉलीवुड का जग्गू दादा बन जाएगा। जैकी श्रॉफ ने देव आनंद की फिल्म  'स्वामी दादा' से डेब्यू किया था। लेकिन इस फिल्म से उन्हें पहचान नहीं मिल पाई थी। इसके बाद जैकी श्रॉफ ने 'हीरो' फिल्म में काम किया था और इसी फिल्म ने जैकी को रातों-रात सुपरस्टार बना दिया था। फिल्म की एक आइकॉनिक धुन थी, बांसुरी की धुन। जो आज भी लोगों के दिलों में बसी हुई है।

ये भी पढ़ें: Alia Bhatt की 'रामायण' वाली साड़ी ने खींचा सबका ध्यान, जिस पर दिखे भगवान राम

जैकी श्रॉफ की पर्सनल लाइफ

एक बार जैकी श्रॉफ ने ट्वीक इंडिया चैनल के लिए राइटर व एक्ट्रेस ट्विंकल खन्ना को एक इंटरव्यू दिया था। वहां भी उन्होंने अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर बहुत सी बातें बताई थी।  उन्होंने बताया कि उनके एक बड़े भाई थे लेकिन 10 साल की उम्र में उन्होंने अपना भाई खो दिया था।  उनके पिता ज्योतिषी थे। उन्होंने भाई को चेतावनी भी दी थी लेकिन उसने चेतावनी को अनदेखा कर दिया था जो उसकी जान ले गया।

फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले जैकी करते थे ये काम

देव आनंद ही वो शख्स थे जो उन्हें इंडस्ट्री में लेकर आए थे। वह अपनी गाड़ी में बैठ कही जा रही थे और रास्ते में एक लड़का गंदी शर्ट और फटी हुई जींस पहने सिगरेट बेच रहा था। उन्हें उस लड़के में न जाने क्या खूबी दिखी कि उन्होंने तुरंत ही उसे अपनी फिल्म में लेने का मन बना लिया। वो लड़का कोई और नहीं जैकी ही थे उन्होंने स्वामी दादा में उन्हें कास्ट किया। हालांकि इसमें केवल जैकी दस मिनट का ही था लेकिन मायानगरी का रास्ता उनके लिए खुल गया। मायानगरी तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत स्ट्रगल किया।

PunjabKesari

दोनों बच्चों है इंडस्ट्री में एक्टिव

जैकी के दोनों बच्चे ही इंडस्ट्री में एक्टिव है। बेटा टाइगर एक्टर है तो बेटी कृष्णा फिटनेस मॉडल लेकिन जैकी की बैकग्राउंड फिल्मी नहीं थी। वह मुंबई की चॉल में पले-बढ़े थे। अपनी जिंदगी के 33 साल उन्होंने वहीं बिताए हैं। मायानगरी तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत स्ट्रगल किया। उसके बाद सुभाष घई अपनी फिल्म हीरो के लिए किसी नए चेहरे की तलाश में थे। तब उन्होंने ‘हीरो’ फिल्म की। इस फिल्म की रिलीज के अगले दो सालों में जैकी 17 फिल्मों में काम कर चुके थे लेकिन जैकी कभी अपने स्ट्रगल के दिनों को नहीं बूलें। एक  एक इंटरव्यू के दौरान जैकी ने उस चॉल का जिक्र किया, जहां उन्होंने अपनी जिंदगी के 33 साल बिताए थे। एक्टर ने कहा कि वह जब कभी भी उस चॉल में जाते हैं तो बेहद इमोशनल हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें: Kangana के आगे फीकी पड़ गई Katrina-Alia, राम मंदिर सेरेमनी में पहनी बेहद खूबसूरत साड़ियां

इंटरव्यू में एक्टर ने बताया था कि 17 साल की उम्र में मेरे भाई की मृत्यु हो गई थी। घर से बाहर जाते वक्त पिता ने उसे चेतावनी देते हुए बाहर न जाने की सलाह दी थी। पिताजी ने कहा था कि आज खराब दिन है, बाहर मत जाना लेकिन उसने उनकी बात को अनसुना कर दिया और काम पर चला गया। सेंचुरी मिल्स के बाहर समुद्र है, वहां एक व्यक्ति डूब रहा था, भाई को तैरना नहीं आता था लेकिन फिर भी वह उस शख्स को बचाने के लिए समुद्र में कूद गया। वो शक्स तो बच गया लेकिन मेरा भाई डूब गया।

PunjabKesari
जग्गू दादा ने आगे कहा था, लोग ज्योतिष की भविष्यवाणी को 'मजाक' में लेते हैं लेकिन मैं विश्वास करता हूं। मेरे पिताजी ने दो बार सटीक भविष्यवाणी की थी। उन्होंने मुझे यह भी बताया कि मैं भविष्य में अभिनेता बनूंगा। यही नहीं उन्होंने यह भी बताया कि उनके पिता ने धीरूभाई अंबानी को लेकर भी भविष्यवाणी की थी जोकि सच हुई।

एक्टर ने आगे बताया कि उनके पिता धीरूभाई अंबानी और कोकिलाबेन अंबानी के करीबी थे। उन्होंने कोकिलाबेन से कहा था आपके पति एक दिन बड़े आदमी बनेंगे। उनकी इस बात पर धीरूभाई कहा करते थे, 'गंधो थयो छे (ये पागल हो गया है)।'

ये भी पढ़ें: कंगना रानौत हुई 'राम नाम' की दीवानी, लगाए जय श्री राम के जयकारे, देसी अवतार में लगी बेहद खूबसूरत

वही, अपनी मां के बारे में बात करते हुए एक्टर ने कहा कि मैं उनके बहुत करीब थे। ट्विंकल ने जैकी की अंग्रेजी बोलचाल की भी तारीफ की थी तो एक्टर ने कहा कि ये सब उन्होंने एक्सपीरियंस से सीखा है। वह 11वीं कक्षा तक ही पढ़े हैं। वह मुंबई में पले-बढ़े हैं जहां लोकल लोग ऐसी ही भाषा बोलते हैं। वह भी लोगों की बातें ध्यान से सुनते थे, फिल्में देखते थे।  उन्होंने अमेरिकी एक्टर क्लिंट ईस्टवुड को अपना इंग्लिश टीचर मान लिया था।

Related News