28 MARSATURDAY2020 8:32:54 PM
Nari

सबकः बिना लॉकडाउन कोरिया ने दी कोरोना काे मात, बाएं हाथ का सिखाया इस्तेमाल

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 26 Mar, 2020 11:51 AM
सबकः बिना लॉकडाउन कोरिया ने दी कोरोना काे मात, बाएं हाथ का सिखाया इस्तेमाल

कोरोना को लेकर दुनिया भर के कई देशों में लॉकडाउन कर दिया गया है। वहीं सरकारें इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए नए-नए कदम उठा रही है। वहीं ताइवान के बाद कोरिया ने जिस तरह से कोरोना को मात दी, उससे हर किसी को सबक लेना चाहिए। दक्षिण कोरिया कोरोना संक्रमित देशों की सूची में 8वें पायदान पर है।

दक्षिण कोरिया में नहीं हुआ लॉकडाउन
कोरिया में अब तक संक्रमण के 9037 मामले मिले हैं, जिसमें से 3500 से ज्यादा लोग ठीक भी हो चुके हैं। यहां सिर्फ 129 लोगों की मौत हुई है, जबकि सिर्फ 59 मरीज गंभीर हैं। मगर, पहले हालात ऐसे नहीं थे। 8-9 मार्च को 8000 संक्रमित मिले थे, लेकिन बीते 2 दिनों में यहां सिर्फ 12 नए मामले मिले हैं। चौंकाने वाली बात है कि पहला मामला मिलने से आज तक यहां न लॉकडाउन हुआ और न ही बाजार बंद हुए।

PunjabKesari

10 मिनट में जांच, 1 घंटे में रिपोर्ट
द. कोरिया के विदेश मंत्री कांग युंग वा बताते हैं कि जल्द टेस्ट व बेहतर इलाज की वजह से ही उन्हें कोरोना से लड़ने में मदद मिली। उन्होंने 600 से ज्यादा टेस्टिंग सेंटर खोले और 50 से ज्यादा ड्राइविंग स्टेशनों पर स्क्रीनिंग की। रिमोट टेम्परेचर स्कैनर और गले की खराबी जांची, जिसमें महज 10 मिनट लगे। 1 घंटे के अंदर रिपोर्ट मिले, इसके खास इंतजाम किए।

हर जगह लगे थर्मल इमेजिंग कैमरे
उन्होंने हर जगह पारदर्शी फोनबूथ को टेस्टिंग सेंटर में तब्दील किया। यही नहीं कोरोना की जांच के लिए उन्होंने बड़ी इमारतों, होटलों, पार्किंग और सार्वजनिक स्थानों पर थर्मल इमेजिंग कैमरे भी लगाए, ताकि बुखार पीड़ित व्यक्ति की तुरंत पहचान हो सके। इसके अलावा रेस्टोरेंट को भी ऑर्डर दिए कि जांच के बाद ही ग्राहकों को एंट्री दें।

दाएं नहीं बाएं हाथ का सिखाया इस्तेमाल
विशेषज्ञों ने लोगों को कोरोना से बचने के लिए दाएं की बजाए बाएं हाथ का इस्तेमाल सिखाया।

दरअसल, अगर व्यक्ति दाएं हाथ से काम करता है तो उसे मोबाइल चलाने, दरवाजे का हैंडल पकड़ने और हर छोटे-बड़े काम में बाएं हाथ का करें। इसी तरह बाएं हाथ से ज्यादातर काम करने वालों को दाएं हाथ के इस्तेमाल के लिए कहा गया। ऐसा इसलिए क्योंकि व्यक्ति जिस हाथ का ज्यादा इस्तेमाल रोजमर्रा के कामों के लिए करता है वही हाथ सबसे पहले चेहरे पर भी जाता है। उनकी यह तकनीक काफी कारगार भी साबित हुई।

कोरोना के बाद चीन में फैला Hanta Virus, सोशल मीडिया पर मचा हड़कंप

टेस्टिंग किट का उत्पादन बढ़ाया
कोरिया में कोरोना का पहला केस आने के बाद ही उन्होंने बिना देरी किए टेस्टिंग बना ली। आज दक्षिण कोरिया में रोजाना 1 लाख टेस्टिंग किट बन रही हैं। अब 17 देशों में इनका निर्यात भी शुरू होने जा रहा है।

न बाजार बंद किए, न लोगों को रोका
बता दें कि कोरोना संक्रमण के मामले मिलने के बाद भी दक्षिण कोरिया ने एक दिन के लिए बाजार बंद नहीं किया। मॉल, स्टोर, छोटी-बड़ी दुकानें नियमित रूप से खुलती रहीं। वहीं लोगों के बाहर निकलने और दूसरी गतिविधियों पर भी रोक नहीं लगाई गई। वायरस से सुरक्षा का अभ्यास 2005 से ही लोगों की आदत में है जब एमईएसएस (मिडिल ईस्ट रेस्पारेट्री सिंड्रोम) फैला था।

Related News