05 DECSATURDAY2020 2:48:47 AM
Nari

बच्चों को किस उम्र में खिलाएं चॉकलेट? जानिए इसके फायदे-नुकसान

  • Edited By neetu,
  • Updated: 05 Nov, 2020 12:59 PM
बच्चों को किस उम्र में खिलाएं चॉकलेट? जानिए इसके फायदे-नुकसान

चॉकलेट तो खाने में हर किसी को पसंद होती है। खासतौर पर बच्चे तो इसे बड़ी ही खुशी से खाते हैं। चॉकलेट में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। इसका सेवन करने से शरीर का बेहतर तरीके से विकास करने के साथ कई बीमारियों से बचाव रहता है। साथ ही बच्चों को चॉकलेट खिलाने से दिल और दिमाग दोनों के लिए फायदेमंद होता है। मगर इसे सीमित मात्रा में खाना बेहद जरूरी है। नहीं तो यह सेहत को बिगाड़ने का काम करती है। तो चलिए आज हम आपको चॉकलेट खाने के फायदे व नुकसान के बारे में बताते हैं। मगर उससे पहले जानते हैं कि किस उम्र के बच्चों को चॉकलेट खिलानी चाहिए...

PunjabKesari

1 साल से कम उम्र के बच्चों को ना खिलाएं चॉकलेट 

एक्सपर्ट्स के अनुसार, साल से कम आयु के बच्चों को चॉकलेट नहीं खिलानी चाहिए। हमेशा 1 साल और उससे बड़े बच्चे को ही चॉकलेट खाने को देना बेहतर होगा। खाने के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन करना काफी फायदेमंद होता है। असल में, इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होने से टेस्ट बरकरार रहने के साथ शरीर को कई फायदे मिलते हैं। 

तो चलिए अब जानते हैं चाकलेट खाने से मिलने वाले अनगिनत फायदों के बारे में...

 

याददाशत बढ़ाए

चॉकलेट में एंटी-ऑक्सडेंट गुण होते हैं। ऐसे में इसके सेवन से दिमाग का विकास होने में मदद मिलती है। ऐसे में दिमाग तेज होने से स्मरण शक्ति मजबूत होती है। 

PunjabKesari

ब्लड सर्कुलेशन में करे सुधार 

यह शरीर में खून खून के थक्के बनने से रोकता है। ऐसे में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होने के साथ इससे जुड़ी परेशानियों से छुटकारा मिलता है। 

दिल के लिए फायदेमंद 

एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर चॉकलेट का सेवन करने से बैड कोलेस्ट्रॉल कम होता है। वैसे तो बच्चों को कोलेस्ट्रॉल की ज्यादा परेशानी नहीं होती है। मगर फिर भी इसका सेवन करने से दिल स्वस्थ होने से इसे जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है। 

PunjabKesari

मूड बनाए बेहतर 

इसका सेवन करने से मूड सही होने में भी मदद मिलती है। इसे खाकर अंदर से खुशी मिलने के साथ सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ऐसे मे व्यक्ति खुशनुमा महसूस करता है। 

ज्यादा सेवन से बचें

अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से बच्चों को रात को नींद न आने की परेशानी से गुजरना पड़ सकता है। इसके अलावा इसमें भारी मात्रा में चीनी होने से वजन बढ़ने और दांत से जुड़ी समस्या भी हो सकती है। ऐसे में बच्चों रोजाना चॉकलेट खिलाने की जगह हफ्ते में 2-3 बार और सीमित मात्रा में खिलाएं। 

Related News