17 OCTSUNDAY2021 6:04:37 AM
Nari

खून की कमी से बचाता है गुड़, बच्‍चों के लिए बनाएं टेस्‍टी और हीमोग्‍लोबिन बढ़ाने वाली डिशेज

  • Edited By neetu,
  • Updated: 19 Sep, 2021 02:43 PM
खून की कमी से बचाता है गुड़, बच्‍चों के लिए बनाएं टेस्‍टी और हीमोग्‍लोबिन बढ़ाने वाली डिशेज

छोटे बच्चों की डाइट का खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। ताकि उनका बेहकर तरीके से शारीरिक व मानसिक विकास हो पाएं। ऐसे में आप अपने 1 साल से बड़े बच्चे की डेली डाइट में गुड़ को शामिल कर सकती है। यह पोषक तत्व, एंटी-ऑक्सीडेंट्स व औषधीय गुणों से भरपूर होता है। चलिए आज हम आपको बच्चे को गुड़ खिलाने के फायदे व इससे तैयार होने वाली 2 हैल्दी एंड टेस्टी रेसिपी बताते हैं...

​गुड़ में मौजूद पोषक तत्‍व

100 ग्राम या 1/2 कप गुड़ में कैलोरी 383 ग्राम, सूक्रोज 65 से 85 ग्राम, फ्रूक्‍टोज और ग्‍लूकोज 10 से 15 ग्राम, मैग्‍नीशियम 70 से 90 मि.ग्रा, पोटैशियम 1050 मिग्रा, प्रोटीन 0.4 ग्राम, फैट 0.1 ग्राम, आयरन 11 मि.ग्रा,  मैंगनीज 0.2 से 0.5 मिग्रा पाया जाता है।

चलिए जानते हैं गुड़े से तैयार होने वाली डिशेज...

 

1. ​गुड़ का परांठा बनाने के लिए

सामग्री

गेंहू का आटा 1.5 कप 
घी- 1 कप 
दूध- 1 कप 
बेकिंग सोडा-1/8 छोटा चम्मच
गुड़-3 कप (कद्दूकस)
नमक- स्वाद अनुसार
घी-तलने के लिए 

PunjabKesari

वि​धि

. पैन में गुड़ और आधा दूध डालकर धीमी आंच पर पिघलाएं और ठंडा कर लें।
. एक बाउल में आटा, बेकिंग सोडा और नमक डालकर मिलाएं। 
. इसमें घी और दूध का मिश्रण डालकर मिलाएं। 
. जरूरत पड़ने पर बाकी का दूध डालकर आटा गूंथ लें। 
. अब आटे की लोइयां बनाकर बेल लें। 
. फिर धीमी आंच पर तवा रखकर रोटी को चारों और घी लगाकर सेंक लें।  
. आपका गुड़ का परांठा बनकर तैयार है। 

2. सूजी का हलवा

सामग्री

सूजी-1 कप 
चीनी-1 कप 
पानी-जरूरत अनुसार
घी- 1/2 कप 
इलाइची पाउडर- 1/4 छोटा चम्मच
बादाम पाउडर- 1 छोटा चम्मच

PunjabKesari

वि​धि

. पैन में घी पिघलाकर धीमी आंच पर सूजी भूनें। 
. अलग पैन में जरूरत के मुताबिक व चीनी मिलाकर धीमी आंच पर चाशनी बनाएं। 
. सूजी के सुनहरा होने पर इसमें चाशनी, इलाइची पाउडर, बादाम पाउडर डालकर एक उबाल आने दें। 
. फिर इसे पानी सूखने तक धीमी आंच पर पकाएं। 
. आपका सूजी का हलवा बनकर तैयार है। 

चलिए जानते हैं ​बच्‍चों को गुड़ खाने के फायदे

. गुड़ में आयरन अधिक मात्रा में होता है। इसका सेवन करने से शरीर में हीमोग्लोबिन बनने में  मदद मिलती है। ऐसे में शिशु को आयरन डेफिशिएंसी एनीमिया होने का खतरा कम रहता है।

. इसका सेवन करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। वहीं कई बच्चों को अक्सर कब्ज की शिकायत रहती है। ऐसे में यह कब्ज की समस्या से राहत दिलाने के साथ पाचन से जुड़ी अन्य समस्याओं से भी बचाव रखता है। 

. पोषक तत्व, एंटी-ऑक्सीडेंट्स व औषधीय गुणों से भरपूर गुड़ का सेवन करने से इम्यूनिटी तेज होती है। ऐसे में सर्दी, खांसी, जुकाम आदि मौसमी बीमारियों से बचाव रहता है। 

. एक्सपर्ट्स के अनुसार, रोजाना गुड़ का एक टुकड़ा खाने से शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ बाहर निकलने में मदद मिलती है। 

. औषधीय व पोषक तत्वों से भरपूर गुड़ लिवर की सफाई करके उसे दुरुस्त रखने में कारगर माना गया है। 

. गुड़ में कैल्शियम, फास्‍फोरस, आयरन आदि पोषक तत्व होते हैं। ऐसे में इसका सेवन करने से मांसपेशियों व हड्डियों में मजबूती आती है। 

. इसमें जिंक व एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं। ऐसे में गुड़ का सेवन करने से फ्री रेडिकल से कोशिकाओं को हानि होने से बचाव रहता है। 
 

Related News