16 APRFRIDAY2021 5:06:50 PM
Nari

Corona Vaccine: दूसरे देशों की मदद के लिए आगे आ रहा भारत, WHO ने भी की तारीफ

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 27 Feb, 2021 12:26 PM
Corona Vaccine: दूसरे देशों की मदद के लिए आगे आ रहा भारत, WHO ने भी की तारीफ

भारत ने कोरोना पर काबू तो पा लिया है लेकिन इसके मामले एक बार फिर से बढ़ते जा रहे हैं। भारत में बढ़ते कोरोना के मामले चिंता का विषय तो है ही लेकिन वहीं साथ ही में भारत इसे हराने के लिए भी कमर तोड़ काम कर रहा है। देश में 16 जनवरी से शुरू हुए इसके वैक्सीनेशन अभियान का अब दूसरा चरण भी शुरू हो चुका है। इस बात में तो कोई शक नहीं है वैक्सीन के मामले में भारत बाकी देशों से कईं गुना आगे है। ऐसा हम नहीं बल्कि इसके आंकड़ें बताते हैं। 

दूसरे देशों को अब तक 68 लाख वैक्सीन पहुंचाई

भारत ने कोरोना काल में बहुत सारी परेशानियों का सामना किया है। बाकी देशों के मुकाबले भारत में वैक्सीन भी देर से आई थी लेकिन इसके बावजूद आज भारत बाकी देशों से आगे निकलता जा रहा है। हमेशा से भारत दूसरे देशों की मदद करने के लिए आगे बढ़ता आया है और आंकड़ों की मानें तो इस कोरोना काल में भी भारत ने पूरी दुनिया में 68 लाख डोज वैक्सीन मुफ्त में पहुंचाई हैं। वहीं जहां से इस वायरस की शुरूआत हुई थी यानि कि चीन भी इस मामले में भारत से पीछे है और चीन ने अभी तक तकरीबन 39 लाख वैक्सीन दी है। 

PunjabKesari

इन देशों को पहुंचाई खुराक 

आपको बता दें कि भारत ने अभी तक बांग्लादेश, म्यांमार, नेपाल, भूटान, मालदीव, मॉरीशस, सेशेल्स, श्रीलंका, बहरीन, ओमान, अफगानिस्तान, बारबाडोस और डोमिनिका जैसे देशों को एंटी-कोरोनावायरस वैक्सीन खुराक उपहार के रूप में  भेजी है। 

संकटमोचक बन रहा भारत 

भारत में वैक्सीन काफी देर से बनी थी लेकिन फिर भी भारत दूसरे देशों की मदद से पीछे नहीं हट रहा। आपको बता दें कि भारत की मदद के कारण ही श्रीलंका में वैक्सीनेशन शुरू होगी और भारत की इस मदद के लिए श्रीलंका भी भारत का शुक्रगुजार है। वहीं दूसरी ओर बांग्लादेश में भी वैक्सीनेशन अभियान शुरू हो गई है और खबरों की मानें तो चीन ने म्यांमार को वैक्सीन देने के लिए कहा था लेकिन चीन से पहले ही भारत ने उन्हें 17 लाख के करीब वैक्सीन उपलब्ध कराई।

PunjabKesari

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की तारीफ

इस संबंध में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी भारत की तारीफ की है। आपको बता दें कि भारत  में जब टीकाकर अभियान शुरू हुआ तो भारत ने दूसरे देशों को टीके भेजने की बात कही थी वहीं भारत दुनिया का सबसे बड़ा दवा निर्माताओं में से एक है और कई देशों ने भारत से एंटी-कोरोनावायरस वैक्सीन की खरीद के लिए संपर्क भी किया है। वहीं डब्लूएचओ के डायरेक्टर  ने मोदी का शुक्रिया अदा किया है। 

60 से अधिक देशों में वैक्सीनेशन प्रक्रिया शुरू करने में भारत का हाथ 

आपको बता दें कि भारत की मदद के कारण ही 60 से अधिक देशों के साथ शेयर करने से उन जगहों पर कोरोना से लड़ाई में मदद मिल रही है। उन देशों ने हेल्थकेयर वर्कर्स और अन्य समूहों को वैक्सीन लगा शुरू कर दिया है। मुझे उम्मीद है कि बाकी देश भी आपके इस उदाहरण को फॉलो करेंगे।

आपको बता दें कि भारत ने अभी तक दुनिया के कई देशों को कोरोना टीके की 361.91 लाख खुराकें उपलब्ध कराई हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव की मानें तो विभिन्न देशों को कोविड-19 के टीके की 67.5 लाख खुराकें अनुदान सहायता के रूप में उपलब्ध कराई गई हैं, जबकि कमर्शल सप्लाई के तहत 294.44 लाख खुराकें उपलब्ध कराई गई हैं।

Related News