22 SEPFRIDAY2023 10:27:28 PM
Nari

यूरिक एसिड को कंट्रोल करेगा आलू का नुस्खा, जड़ से खत्म होगी बीमारी

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 07 Jul, 2021 01:17 PM
यूरिक एसिड को कंट्रोल करेगा आलू का नुस्खा, जड़ से खत्म होगी बीमारी

यूरिक एसिड को कंट्रोल करना बहुत जरूरी है क्योंकि इसका अनकंट्रोल लेवल गठिए, अर्थराइट‍िस, किडनी स्टोन, डायबिटीज और रक्त विकार का कारण बन सकता है। वहीं, यूरिक एसिड बढ़ने से मांसपेशियों व जोड़ों में दर्द, सूजन की परेशानी भी झेलनी पड़ सकती है। इसे कंट्रोल करने के लिए हैल्दी डाइट व लाइफस्टाइल के साथ-साथ आप कुछ घरेलू नुस्खे भी अपना सकते हैं। वहीं, आलू भी यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में काफी मददगार साबित हो सकता है। चलिए आपको बताते हैं कैसे...

क्या होती है यूरिक एसिड की समस्या?

परेशानी तब शुरू होती है जब यूरिक एसिड जोड़ों में छोटे-छोटे क्रिस्टल रुप में जमा हो जाता है और यूरिन के रास्ते बाहर नहीं निकल पाता। इसे कंट्रोल करने के लिए आपका खान-पान सही होना बहुत जरूरी है। इसी के साथ कुछ ऐसे रामबाण नुस्खे जो आपको यूरिक एसिड की समस्या होने नहीं देंगे।

PunjabKesari

यूरिक एसिड को कैसे कंट्रोल करेगा आलू?

आलू में केरोटिनॉयड्स नामक तत्व होता है, जो यूरिक एसिड को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। साथ ही इससे शरीर के सारे टॉक्सिन पदार्थ भी बाहर निकल जाते हैं। इसके अळावा यह किडनी को फिल्टर करने में भी मदद करता है।

कैसे करें सेवन?

इसके लिए आलू को अच्छी तरह धोकर उसके छिलके हटा लें। फिर इसे कद्दूकस या ब्लैंड करके जूस निकाल लें। अब इसमें हल्का-सा सेंधा या काला नमक डालकर पीएं। नियमित इसका सेवन ना सिर्फ यूरिक एसिड को कंट्रोल करेगा बल्कि कई बीमारियों से भी बचाएगा।

कब करें सेवन?

भोजन से पहले 1 टेबलस्पून आलू का रस पीना फायदेमंद होता है। इसके अलावा आप सुबह खाली पेट भी इसका सेवन कर सकते हैं। इससे यूरिक एसिड के साथ मोटापा भी कम होगा। यूरिक एसिड से परेशान लोगों को दिन में 2 बार इसका सेवन करना चाहिए।

PunjabKesari

गठिया मरीज ऐसे खाएं आलू

4 आलू भूनकर छिलका निकालें और फिर नमक व लाल मिर्च पाउडर छिड़ककर खाएं। इससे गठिया जल्द ही ठीक हो जाएगा।

जोड़ों के दर्द से आराम

आलू का रस जोड़ों व मांसपेशियों में दर्द व सूजन को कम करने में भी मददगार है। साथ ही इससे ब्लड सर्कुलेशन भी सही रहता है, जो यूरिक एसिड से परेशान लोगों के लिए अच्छा है।

अब जानिए कुछ जरूरी परहेज

-रात को सोते समय दूध या दाल का सेवन भी नहीं करना चाहिए। अगर फिर भी दाल खाने का मन करता है तो छिलके वाली दालें ना खाएं।
-डेयरी व बेक्ररी प्रॉडक्ट्स, तली मसालेदार चीजें, चावल, फास्ट फूड, कोल्ड ड्रिंक्स, पैकड फूड्स ना खाएं कम खाएं। रात के समय तो बिलकुल नहीं।
-मीट, अंडा, मछली का सेवन तुरंत बंद करें।
-लेमन, ग्रीन टी, ग्रीन एप्‍पल जूस, खीरे के जूस पीकर भी यूरिक एसिड को कंट्रोल में रख सकते हैं।

याद रखें कि किसी भी बीमारी को हेल्‍दी डाइट व लाइफस्टाइल से ही दूर किया जा सकता है।

Related News