10 AUGWEDNESDAY2022 1:07:48 AM
Nari

दिल्ली में भी पहुंचा मंकीपॉक्स , बुखार के साथ सिरदर्द है इस वायरस के शुरुआती लक्षण

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 24 Jul, 2022 03:11 PM
दिल्ली में भी पहुंचा मंकीपॉक्स , बुखार के साथ सिरदर्द है इस वायरस के शुरुआती लक्षण

कोरोना के संकट के बीच मंकीपॉक्स ने दुनियाभर के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी है। जहां एक तरफ 70 से अधिक देशों में फैले मंकीपॉक्स को ग्लोबल पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दिया गया है, वहीं दूसरी तरफ भारत में भी यह तेजी से फैल रहा है। राष्ट्रीय राजधानी में 34 वर्षीय व्यक्ति मंकीपॉक्स से संक्रमित पाया गया है और उसने विदेश की कोई यात्रा नहीं की थी। 


भारत में अब तक आए चार मामले

भारत में मंकीपॉक्स संक्रमण का यह चौथा मामला सामने आया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि संक्रमित पाए गए व्यक्ति ने हाल में हिमाचल प्रदेश के मनाली में एक जश्न में हिस्सा लिया था। पश्चिमी दिल्ली के रहने वाले इस व्यक्ति में मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने के बाद उसे करीब तीन दिन पहले मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

PunjabKesari
मंकीपॉक्स के लक्षण 

बुखार
त्वचा पर दाने
 शरीर में दर्द 
त्वचा पर फोड़े 
लाल-लाल चकत्ते 

मंकीपॉक्स की शुरुआत सिरदर्द और बुखार से होती है। आमतौर पर इसके शुरुआती लक्षण किसी सामान्य वायरल इन्फेक्शन (Infection) जैसे ही होते हैं। 

PunjabKesari

70 से अधिक देशों में फैला मंकीपॉक्स 

सूत्रों ने बताया कि उसके नमूने शनिवार को राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) पुणे भेजे गए थे और उनमें संक्रमण की पुष्टि हुई। यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि यह व्यक्ति कैसे संक्रमित हुआ। इससे पहले, केरल में मंकीपॉक्स के तीन मामले सामने आए थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने शनिवार को कहा था कि 70 से अधिक देशों में मंकीपॉक्स फैलना एक ‘‘असाधारण’’ हालात है और यह अब वैश्विक आपात स्थिति है।


अभी तक आए 16,000 से अधिक मामले

मंकीपॉक्स संक्रमित जानवर के प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष संपर्क में आने से मनुष्यों में फैलता हैं। एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में यह संक्रमण संक्रमित की त्वचा और श्वास छोड़ते समय नाक या मुंह से निकलने वाली छोटी बूंदों के संपर्क में आने से फैलता है। वैश्विक स्तर पर 75 देशों में मंकीपॉक्स के 16,000 से अधिक मामले सामने आए हैं और इस संक्रमण के कारण अभी तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है।

PunjabKesari

मंकीपॉक्स से बचाव के उपाय

मंकीपॉक्स वायरस से पीड़ित होने के कुछ दिनों बाद वैक्सीन लगवा लेने पर इससे बचा जा सकता है। 

मंकीपॉक्स के इलाज के लिए दवा और टीका दोनों ही उपलब्ध है। 
 
संक्रमित व्यक्ति से आवश्यक दूरी बनाए रखने पर संक्रमण से बचा जा सकता है। 

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, सामान्य आबादी में मंकीपॉक्स के मामले में मृत्यु दर 0 से 11% तक है और छोटे बच्चों में यह अधिक है। 


 

Related News