20 APRSATURDAY2024 12:54:56 PM
Nari

क्या आपके सपने में भी आते हैं भगवान शिव तो जानें इसका अर्थ

  • Edited By palak,
  • Updated: 26 Feb, 2024 05:05 PM
क्या आपके सपने में भी आते हैं भगवान शिव तो जानें इसका अर्थ

रात को सोते समय अक्सर व्यक्ति को कुछ ऐसे सपने दिखते हैं जिनका अर्थ उसे खुद पता नहीं होता। रात में ज्यादातर वही सपने आते हैं तो जो चीजें व्यक्ति सारा दिन सोचता है। वहीं यदि सपने में किसी मंदिर या देवता के दर्शन हो तो इसके पीछे भी अलग-अलग अर्थ होते हैं। फाल्गुन महीना शुरु हो चुका है और महाशिवरात्रि का खास पर्व आने वाला है। ऐसे में यदि आपको महाशिवरात्रि के पहले या उस दिन सपने में भगवान शिव दिखते हैं तो इसका गहरा अर्थ होता है। तो चलिए आज आपको इस आर्टिकल के जरिए बताते हैं कि सपने में भगवान शिव या उनसी जुड़ी चीजें देखने का क्या अर्थ होता है। 

सपने में भगवान शिव दिखना 

यदि आपको सपने में भगवान शिव नजर आते हैं तो इसका अर्थ है कि आपके जीवन की परेशानियां दूर होने  वाली हैं। इसके साथ ही यदि आपको सपने में शिवलिंग दिखता है तो यह भी बहुत ही शुभ माना जाता है। शिवलिंग सपने में दिखने का अर्थ है कि आपकी जल्दी उन्नति होगी। यह यश प्राप्ति का संकेत भी माना जाता है। सपने में शिवलिंग का दिखना यह भी संकेत देता है कि आपको विजय प्राप्त होगी व सारे संकट और समस्याओं का नाश होगा। 

PunjabKesari

ध्यान रुप में भगवान शिव 

अगर सपने में भगवान शिव आपको ध्यान रुप में साफ नजर आ रहे हैं तो इसका अर्थ है कि ईश्वर ने आपको अपने घेरे में लिया है। 

शिव पार्वती दिखना 

सपने में यदि मां पार्वती और भगवान शिव साथ में दिखे तो इसका अर्थ है कि नई संभावनाएं आपको मिलने वाली हैं। जल्द ही आपको आय, यात्रा, भोजन-धान्य प्राप्ति, धन-धान्य से जुड़ा कोई शुभ समाचार सुने को मिलेगा। शिवजी और मां पार्वती को एक साथ देखना अच्छा शगुन माना जाता है। 

नृत्य करते हुए शिवजी 

शिव तांडव को क्रोध और जुनून का प्रतीक माना जाता है। यदि सपने में शिवजी आपको नृत्य करते हुए नजर आते हैं तो इसका अर्थ है कि आपकी समस्या जल्द ही हल होगी। इस सपने का एक अर्थ यह भी है कि आपको थोड़े संघर्ष के बाद धन प्राप्त हो सकता है। आपको मेहनत का फल भी मिलेगा।

PunjabKesari

त्रिशूल

सपने में शिवजी का त्रिशूल दिखना भी काफी शुभ माना जाता है। माना जाता है कि इससे शिवजी भविष्य में आपके संकट और परेशानियों को दूर करने वाले हैं।

अर्धचंद्र 

शिव जी के माथे पर मौजूद अर्धचंद्र ज्ञान का प्रतीक माना जाता है। यदि आप चंद्रमा का सपना देखते हैं तो इसका अर्थ है कि आपको जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण निर्णय लेने होंगे। यह निर्णय आपके शिक्षा क्षेत्र से जुड़े हुए भी हो सकते हैं। 

PunjabKesari
 

Related News