26 SEPSUNDAY2021 3:21:45 PM
Nari

सावन में व्रत नहीं रख पाए तो करें ये काम, मिलेगा समान पुण्य

  • Edited By neetu,
  • Updated: 02 Aug, 2021 10:32 AM
सावन में व्रत नहीं रख पाए तो करें ये काम, मिलेगा समान पुण्य

सावन के पवित्र महीने में भोलेनाथ की विशेषतौर पर की जाती है। इसके साथ ही शिवजी की असीम कृपा पाने के लिए व्रत रखना शुभ माना जाता है। मगर कुछ लोग व्रत रखने के लिए सक्षम नहीं होते हैं। ऐसे में उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, ये लोग इस दौरान कुछ खास काम करके व्रत समान पुण्य प्राप्त कर सकते हैं। चलिए जानते हैं इसके बारे में...

- शिव परिवार की पूजा करें

अगर आप किसी कारणवश सावन व्रत नहीं रख रही तो रोजाना नियमित रूप से शिव परिवार की पूजा करें। मान्यता है कि इससे भगवान शिव और माता पार्वती का आशीर्वाद मिलता है। ऐसे में वैवाहिक जीवन में खुशहाली बनी रहती है।

शिवलिंग पर जलाभिषेक करें

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शिवलिंग बेहद शक्तिशाली होता है। ऐसे में सावन दौरान शिवलिंग का जलाभिषेक करने से शुभफल की प्राप्ति मिलती है। भगवान शिव को भोलेनाथ भी कहते हैं क्योंकि वे केवल अपने भक्तों की भावनाओं को देखते हैं। साथ ही उन्हें श्रद्धापूर्वक जल से ही वे अति प्रसन्न होकर शुभफल देते हैं। मान्यता है कि शिवलिंग पर जल अर्पित करने से ही जीवन के सभी दुख-दर्द दूर हो जाते हैं।

PunjabKesari


शिवमंत्रों का जपे नाम

सावन में शिव मंत्रों का जप जरूर करना चाहिए। मान्यता है कि इससे भगवान शिव और माता पार्वती की असीम कृपा मिलती है। आप भोलेनाथ के पंचाक्षर मंत्र 'ॐ नमः शिवाय' का जप कर सकती है। इस मंत्र में ॐ को हटाकर पंचाक्षर होते हैं। इसलिए यह मंत्र पंचाक्षर मंत्र कहलाता है। इसके साथ आप पंचाक्षर स्तोत्र, शिव सहस्त्रनाम, लिंगाष्टक आदि का पाठ कर सकती है। मान्यता है कि इससे भगवान शिव की कृपा होने सभी संकट दूर हो जाते हैं।

भजन और कीर्तन से करें भोले बाबा की भक्ति

भोलेनाथ को समर्पित सावन महीने में हर जगह लोग शिव भक्ति की लहर में डूबे होते हैं। ऐसे में आपने अगर व्रत नहीं भी रखा है तो शिव जी की पूजा करें। घर या मंदिर में श्रद्धापूर्वक भजन और कीर्तन करें। मान्यता है कि इससे भगवान शिव की असीम कृपा होती है। इसके साथ ही सावन की अमावस्या पर पितृ तर्पण और पूर्णिमा पर श्रावणी उपाकर्म आदि करने का विधान है। सावन महीने में इन कार्यों को करने से शिव जी प्रसन्न होते हैं।

PunjabKesari

Related News