24 JANSUNDAY2021 1:02:01 PM
Nari

बाथरूम रोके बैठे रहना कितना घातक हो सकता है जान लें, जानिए इससे होने वाली समस्या और इलाज

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 07 Jan, 2021 12:48 PM
बाथरूम रोके बैठे रहना कितना घातक हो सकता है जान लें, जानिए इससे होने वाली समस्या और इलाज

इस समस्या को हलके में लेने की गलती ना करें क्योंकि यह यूरिन इंफेक्शन के लक्षण है जिस पर गौर ना किया जाए तो आगे चलकर यूट्रस-किडनी तक इंफेक्शन पहुंच सकता है जो घातक साबित हो सकता है। यूरिन इंफेक्शन जिसका शिकार किसी भी उम्र के लोग हो सकते हैं पुरुष भी और महिला भी। हालांकि महिलाओं को पुरुष की तुलना में यह समस्या अधिक होती है। कुछ महिलाओं को तो यह समस्या बार-बार होती है तो आइए जानते हैं इससे बचाव कैसा रखना है।

PunjabKesari

50% महिलाओं है इसका शिकार

बैक्टीरिया जनित यह इंफैक्शन मूत्र पथ को संक्रमित करता है जिससे उस हिस्से में जलन भी होती है और सूजन भी। ध्यान ना दिया जाए तो यह संक्रमण और सूजन गुर्दे व यूट्रस तक भी पहुंच सकती है। एक रिपोर्ट के अनुसार, गंदे शौचालयों व इंग्लिश सीट के चलते भारत में लगभग 50 फीसदी महिलाएं यू.टी.आई से पीड़ित होती हैं। गर्भावस्था के दौरान भी महिलाएं यह समस्या ज्यादा देखने को मिलती है।

1. इसका एक मुख्य कारण महिलाओं का घंटों यूरिन रोके बैठे रहना भी है। आदत जो उन्हें इस रोग का शिकार बनाती हैं। 

2. कुछ लोग असुरक्षित यौन संबंध बनाने के चलते, वहीं पर्सनल पार्ट की सफाई ना रखने को लेकर भी इस रोग से ग्रस्त हो जाते हैं। 

3. डायबिटीज के मरीजों को, ज्यादा एंटीबायोटिक का सेवन करने व गर्भनिरोधक गोलियां खाने वालों को भी यह दिक्कत जल्दी हो जाती हैं। 

PunjabKesari

यूरिन इंफेक्शन के लक्षण

-ऐसी स्थिति में 101 डिग्री का बुखार रहता है
-ठंड लगती है,
-भूख नहीं लगती, जी मचलाता है...
-मूत्र में मवाद आता है
-बार-बार तेज यूरिन आने जैसा महसूस होना लेकिन परेशानी के साथ थोड़ी-सा यूरिन ही आता है
-नाभि से नीचे पेट में दर्द एवं भारीपन होना।

PunjabKesari

कुछ देसी नुस्खों से व इलायची का आयुर्वेदिक इलाज इससे समस्या से तुरंत आराम दिलाता है। 

. 5-7 इलायची के दानों को पीस कर आधा चम्मच सोंठ पाउडर में मिलाकर लें। इसमें थोड़ा सा अनार का रस और सेंधा नमक मिलाए और गुनगुने पानी के साथ पी लें।

. नारियल पानी पीएं। खट्टे फल जैसे संतरे मौसमी का सेवन करें। पानी का भरपूर सेवन करें।

. छाछ एवं दही खाएं इससे हानिकारक बैक्टीरिया यूरिन के रास्ते बाहर निकल जाएंगे।

. बादाम की 5-7 गिरी, छोटी इलायची और मिश्री को पीस लें। इसे पानी में डालकर पिएँ। इससे दर्द एवं पेशाब में जलन ठीक होगी।

. क्रेनबैरी जूस पीएं। क्रेनबैरी जूस नहीं पी सकते तो दो चम्मच सेब का सिरका और एक चम्मच शहद को एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं। 

. लाइफस्टाइल को सही रखें पानी भरपूर चीजें खाएं तली भूनी चीजों से दूरी बनाएं।

. प्राइवेट पार्ट्स की सफाई रखें तो यह दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Related News