21 OCTMONDAY2019 6:13:55 PM
Nari

Health Alert! माइग्रेन के मरीज हैं तो इन चीजों से बना लें दूरी

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 13 Mar, 2019 12:29 PM
Health Alert! माइग्रेन के मरीज हैं तो इन चीजों से बना लें दूरी

माइग्रेन का दर्द साइलेंट किलर की तरह अचानक से अटैक करता है, जिससे सिर के आधे हिस्से में असहनीय दर्द होने लगता है। वहीं, गर्मियों में यह दर्द और भी बढ़ जाता है। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में यह समस्या ज्यादा दिखाई देती हैं, जिसका कारण काफी हद तक गलत लाइफस्टाइल और डाइट है। चलिए हम आपको बताते हैं कि माइग्रेन में आपको किन चीजों से दूर बनाने चाहिए और इससे छुटकारा पाने के कुछ घरेलू नुस्खे।

 

कैसे बढ़ता है यह रोग?

खान-पान, हार्मोंस व मौसम में बदलाव, नींद की कमी और मानसिक तनाव, माइग्रेन को बढ़ाते हैं। अलग-अलग लोगों में इसकी वजह भिन्न-भिन्न हो सकती है। इसके इलाज के लिए सबसे पहले वजह जानना जरूरी है।

 

महिलाएं को है अधिक खतरा

पुरूषों की तुलना में महिलाएं इसकी अधिक शिकार हो रहा हैं, जिसका कारण तनाव भरी जिंदगी और हार्मोनल इंबैल्स हैं। वहीं काम के चक्कर में महिलाएं अपने खान-पान का ध्यान भी नहीं रखती, जिसके कारण वह इसकी चपेट में आ जाती हैं।

 

माइग्रेन है तो इन चीजों से बनाएं दूरी

कॉफी

कॉफी में कैफीन होता है जो दिमाग की नसों के काम में रुकावट डालता है। इसकी वजह से दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन धीमा हो जाता है और इसके कारण माइग्रेन की समस्या बढ़ जाती है।

PunjabKesari

 

चॉकलेट

चॉकलेट में कैफीन और बीटा-फेनीलेथाइलामीन नामक एक तत्व होता है जिससे आपके रक्त वाहिकाओं में खिंचाव होता है और यह आपकी समस्या को बढ़ावा देता है। ऐसे में आपको माइग्रेन के दौरान चॉकलेट के सेवन से बचने की जरूरत होती है।

 

एल्कोहल

एल्कोहल के सेवन की वजह से दिमाग में ब्लड सर्कुलेशन बहुत तेज हो जाता है जिसकी वजह से कई बार डिहाईड्रेशन की समस्या हो जाती है और इसके कारण सिरदर्द या फिर माइग्रेन बढ़ जाता है। जिन लोगों को सिरदर्द या माइग्रेन की समस्या होती है उन्हें एल्कोहल के सेवन से बचना चाहिए।

PunjabKesari

 

प्रीजर्व फूड

ऐसे भोजन पदार्थ जिनको प्रीजर्व करके रखा जाता है। फास्ट फूड, मीट या ऐसे बेकरी फूड जो बहुत दिनों तक खाए जाते हैं। इन सबसे माइग्रेन होने का खतरा बना रहता है। एमएसजी, मोनोसोडियम ग्‍लूटामेट ऐसा फ्लेवर है जो हर तरह के पैकिंग फूड में इस्तेमाल होता है। इसके सेवन से यह परेशानी हो सकती  है।

 

नमक 

नमक वाले फूड्स खासकर सॉल्टी प्रोसेस्ड फूड्स में कई हानिकारक प्रिजर्वेटिव्स होते हैं जो सिरदर्द और माइग्रेन को बढ़ावा देते हैं। सोडियम का अधिक मात्रा में सेवन ब्लड प्रेशर को बढ़ाता है जिससे माइग्रेन और बढ़ जाता है।

PunjabKesari

 

आयुर्वेदिक नुस्खों से करें इलाज
पानी से कंट्रोल होता है माइग्रेन 

एक नए शोध में यह बात सामने आई है कि पानी पीने से सिरदर्द व माइग्रेन दूर होता है। सिरदर्द और माइग्रेन से परेशान रहने वाले रोगियों को पानी पीते रहने से काफी राहत मिलती है।

 

ऑलिव ऑयल से लें भाप

अचानक माइग्रेन का दर्द होने पर एक बर्तन या स्टीमर में पानी उबालकर उसमें ऑलिव ऑयल डालकर मिक्स करें। अब सिर को टॉवल से ढककर भाप लें। 15-20 मिनट तक भाप लेने के बाद दर्द गायब हो जाएगा।

 

देसी घी का इस्तेमाल

माइग्रेन दर्द से छुटकारा पाने के लिए इसकी 2 बूदों को नाक में डालें और लेट जाएं। इससे नासिका की सफाई होगी और आपको माइग्रेन दर्द से तुरंत आराम मिल जाएगा।

 

तेल मालिश

सरसों के तेल को हल्का गर्म करके माइग्रेन का दर्द जिस हिस्से में हो वहां मालिश करवाएं। हेड मसाज के साथ कंधों, गर्दन, पैरों और हाथों की भी मालिश करें। इससे आपको आराम मिलेगा।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News