03 OCTMONDAY2022 12:57:56 AM
Nari

जब अपनी सौतन हेमा की बेटी को यू मिली थी प्रकाश कौर तो किया था ऐसा बर्ताव

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 26 Aug, 2022 01:24 PM

यह बात तो सब जानते हैं कि बॉलीवुड के ही-मैन धर्मेंद्र देओल ने दो शादियां की। एक फिल्मों से आने से पहले ही जबकि एक बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी से। पहली शादी से धर्मेंद्र को 4 बच्चे हुए जिनका नाम सनी देओल, बॉबी देओल, अजेता और विजेता है। धर्मेंद्र के दोनों बेटे सनी और बॉबी तो फिल्मों में एक्टिव हैं और अपनी पहचान बनाए हुए हैं लेकिन बेटियां अजेता और विजेता लाइमलाइट से दूर ही रही हैं।

ईशा दयोल मिली थी परिवार से

वहीं, हेमा मालिनी से धर्मेंद्र को दो बेटियां हुई ईशा और आहना देओल लेकिन ना तो कभी हेमा मालिनी कभी धर्मेंद्र पाजी की पहली पत्नी प्रकाश कौर से मिली ना ही उन्हें किसी से मिलने की इजाजत थी हालांकि सिर्फ हेमा की बड़ी बेटी ईशा देओल ही पहली शख्स थी जो परिवार से मिल पाई थी और इस पूरे मामले में उनका सपोर्ट सनी देओल ने किया था। हेमा मालिनी की ऑटो बायोग्राफी के मुताबिक, हेमा के परिवार को धर्मेंद्र के पहले परिवार से मिलने की अनुमति नहीं थी लेकिन ईशा ने सारी हदें पार की और अभय देओल के पिता को मिलने पहुंच गई थी। दरअसल, अभय देओल, सनी के चचेरे भाई हैं और इस तरह वह ईशा के भी चाचा ही लगे और ईशा अपने चाचा और अभय के काफी करीब रही हैं।

PunjabKesari

ईशा मिलना चाहती थी प्रकाश कौर से 

जब अचानक अभय के पिता की तबीयत खराब हो गई तो ईशा ने उनसे मिलना चाहा। पहले तो सनी देओल से उन्होंने संपर्क किया और बाद में उन्होंने पूरा मामला सेट किया। एक इंटरव्यू के दौरान खुद ईशा देओल ने कहा था कि, “मैं अपने चाचा से मिलना चाहती थी और उनका समाचार लेना चाहती थी। वह मुझसे और मेरी छोटी बहन अहाना से बहुत प्यार करते हैं। हम अभय के भी बहुत करीब थे। वह अस्पताल में भी नहीं थे कि ताकि हम उनसे वहां मिल सके। हमारे पास उनके घर जाने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं था।”

PunjabKesari

जब ईशा उनका हाल पूछने घर गई तो वह अपने पिता की पहली पत्नी प्रकाश कौर के पास भी गई थी लेकिन प्रकाश कौर ने ईशा से कोई बात नहीं की थी और जब ईशा ने उनके पैर छुए थे तो उन्होंने आशीर्वाद तो दिया लेकिन बिना बोले वहां से चली गई। हालांकि उसके बाद ईशा दोबारा वहां ना के बराबर ही गई। 

बता दें कि हेमा से शादी करने के बाद भी धर्मेंद्र ज्यादातर समय अपने पहले परिवार के साथ ही बिताते थे। वहीं हेमा को भी इस बात का जरा भी बुरा नहीं लगता था और ना ही वह कभी धर्मेंद्र को अपने पास रोकने की जिद करती थी। धर्मेंद्र ने अपने दोनों ही परिवारों को एक जैसा प्यार दिया हालांकि प्रकाश कौर ने कभी हेमा से बात करने या एक साथ रहने की बात नहीं की।
PunjabKesari

Related News