14 AUGSUNDAY2022 9:12:20 AM
Nari

Top 3 Richest Women: भारत की सबसे रईस महिला 'रोशनी नादर मल्होत्रा', Nykaa की नायर दूसरे स्थान पर

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 28 Jul, 2022 02:01 PM
Top 3 Richest Women: भारत की सबसे रईस महिला 'रोशनी नादर मल्होत्रा', Nykaa की नायर दूसरे स्थान पर

महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं फिर वो क्षेत्र बिजनेस से जुड़ा हो या नौकरी पेशे से। भारत की बहुत सी महिलाओं ने दुनिया भर में अपनी खास जगह और पहचान बनाई है और साबित कर दिया कि वह हर तरह से निपुण हैं। इसी की एक स्पष्ट उदाहरण है बिजनेस-वुमन रोशनी नादर मल्होत्रा जो भारत की सबसे रईस महिला हैं। 

भारत की सबसे रईस महिला-रोशनी नादर मल्होत्रा

एचसीएल टेक्नोलॉजीज की चेयरपर्सन रोशनी नादर मल्होत्रा 84,330 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ भारत की सबसे अमीर महिला बनी हुई हैं। कोटक प्राइवेट बैंकिंग-हुरुन की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2021 में रोशनी नादर की कुल संपत्ति 54 प्रतिशत बढ़कर 84,330 करोड़ रुपये पर पहुंच गई और उन्होंने लगातार दूसरे वर्ष इस पोजीशन पर कब्जा बरकरार रखा है। 40 वर्षीय रोशनी नादर मल्होत्रा, एचसीएल टेक्नोलॉजीज के संस्थापक शिव नादर की बेटी हैं। रिपोर्ट में दी जानकारी, 31 दिसंबर 2021 को महिलाओं की नेट वर्थ के आधार पर तैयार की गई है।

  PunjabKesari, Roshni Nadar Malhotra

दूसरे नंबर पर नायका की फाल्गुनी नायर और तीसरी पोजिशन पर किरण मजूमदार-शॉ

इसी के साथ बायोकॉन की किरण मजूमदार-शॉ को पीछे छोड़ते हुए नायका  की फाल्गुनी नायर 57,520 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ भारत की सबसे अमीर सेल्फ-मेड महिला बन गई हैं। 59 वर्षीय नायर की संपत्ति में 2021 के दौरान 963 प्रतिशत बढ़ौतरी हुई है और वह भारत की दूसरी सबसे अमीर महिला हैं। वहीं किरण मजूमदार-शॉ की कुल संपत्ति 21 प्रतिशत घटकर 29,030 करोड़ रुपए हुई और वह देश की तीसरी सबसे धनवान महिला की पोजिशन पर हैं।

PunjabKesari, Falguni Nayar

रिपोर्ट के मुताबिक,  सबसे अमीर भारतीय महिलाओं के 2021 के एडिशन में विशेष रूप से उन महिलाओं पर ध्यान केंद्रित किया गया जिन्होंने कॉर्पोरेट जगत के उच्च पदों पर खुद को स्थापित किया है। इस सूची में 25 नए चेहरों ने अपनी जगह बनाई है जिसने 2020 में ₹100 करोड़ के मुकाबले 2021 में कट-ऑफ के तौर में ₹300 करोड़ लिए हैं। सूची में शामिल 100 महिलाओं की कुल संपत्ति 2021 में 53 प्रतिशत बढ़कर 4.16 लाख करोड़ रुपये हो गई, जो 2020 में 2.72 लाख करोड़ रुपए थी। ये महिलाएं भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में दो प्रतिशत का योगदान करती हैं। 

PunjabKesari, Kiran Mazumdar Shaw, Nari punjabkesari

सूची में सबसे अधिक दिल्ली-एनसीआर की 25 महिलाएं हैं। इसके बाद मुंबई (21) और हैदराबाद (12) का स्थान है। वहीं उद्योगों की बात करें तो भारत में शीर्ष 100 सबसे धनवान महिलाओं में 12 दवा क्षेत्र, 11 स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र से और 9 उपभोक्ता वस्तुओं के क्षेत्र से हैं।

सबसे कम उम्र की सेल्फ मेड महिला-कनिका टेकरीवाल

जेटसेटगो (Jetsetgo) की 33 वर्षीय कनिका टेकरीवाल लिस्ट में सबसे कम उम्र की सेल्फ मेड अमीर महिला बन गई हैं। 40 वर्ष या उससे कम आयु की 20 में से 9 महिलाएं सेल्फ-मेड हैं। सूची में महिलाओं की वर्तमान औसत आयु पिछली सूची की तुलना में 55 वर्ष तक बढ़ गई है।

PunjabKesari, kanika tekriwal, Nari Punjabkesari

महिलाओं का नेतृत्व समाज को बनाता है सशक्त

हुरुन इंडिया के एमडी और मुख्य शोधकर्ता अनस रहमान जुनैद ने कहा, “महिलाओं के नेतृत्व में धन का सृजन होने से सीधे महिलाओं के रोजगार, संबंधित परिवारों और समाज में सुधार आता है। भारत की 50% आबादी का प्रतिनिधित्व करने वाली महिलाएं यदि वर्कफोर्स या धन सृजन में शामिल होती हैं तो इससे सामाजिक बंधन टूटते हैं और इसलिए, महिला उद्यमियों और पेशेवरों की वेल्थ क्रिएशन की कहानियां, हमें भावनाओं और प्रेरणा के साथ एक अधिक समावेशी कल की दिशा में काम करने के लिए बांधती हैं जिसे हमने कोटक प्राइवेट बैंकिंग हुरुन लीडिंग वेल्थ वुमन लिस्ट 2021 के माध्यम से हासिल करने का प्रयास किया है।”

Related News