03 OCTMONDAY2022 12:32:23 AM
Nari

प्रिंस हैरी के लाल बालों से थी प्रिंस चार्ल्स का प्रॉब्लम, Diana भी थी पति से दुखी

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 17 Sep, 2022 12:24 PM

क्वीन एलिजाबेथ II 96 की उम्र में अलविदा कह गई। 19 सितंबर को उन्हें अंतिम विदाई दे दी जाएगी। क्वीन ब्रिटिश की ऐसी रानी थी जिन्होंने सबसे लंबे समय तक गद्दी पर राज किया और इतिहास रच गई। वैसे ब्रिटिश परिवार के हर सदस्य अपने आप में एक अलग रुतबा और शख्सियत बनाए हुए है। एलिजाबेथ की बहू प्रिंसेस डायना जिन्हें लोग काइंड हार्ट लेडी भी कहते थे। अपने वक्त की खूबसूरत महिला थी जिन्होंने ऐसे काम किए कि जिन्हें आज भी लोग याद करते हैं हालांकि उन्होंने बहुत से शाही नियम भी तोड़े थे क्योंकि वह आजाद महिला थी जिसे खुलकर जीना था। एलिजाबेथ का अपनी बहू से कैसा संबंध था? इस बारे में कम ही लोग बात करते हैं।  प्रिंसेस ऑफ वेल्स डायना को लोग लेडी डायना स्पेंसर के नाम से भी जानते हैं। डायना की शादी प्रिंस चार्ल्स के साथ हुई और प्रिंस विलियम और प्रिंस हैरी उन्हीं के बेटे हैं।   चलिए आज डायना की जिंदगी के ही कुछ राज आपको बताते हैं। 

डायना को शाही परिवार के नियम कायदे नहीं थे पसंद 

समाज के प्रति सेवा करने वाली डायना को शाही परिवार के नियम कायदे ना गंवारा थे। अपने बेटों के लिए ही नहीं बल्कि हर बच्चे के प्रति उनका प्यार छलकता था। वह उस समय HIV एड्स के मरीजों से भी मिलती थी जब लोग ऐसे व्यक्ति के साथ एक कमरे में बैठने को तैयार नहीं होते थे। वह कई NGO और समाज सेवी संस्थाओं से जुड़ी थी लेकिन दिल की दयालु रानी को एक दिन ऐसी मौत मिलेगी किसी ने नहीं सोचा था। उनकी मौत आज भी रहस्यों से भरी हुई है। इस राज से कभी पर्दा नहीं उठ पाया। आखिरी वक्त डायना अपने ब्वॉयफ्रैंड डोडी अल फायद के साथ थी। कहा तो यह भी जाता रहा है कि डायना की मौत में शाही परिवार का हाथ रहा है! और जब वह कार एक्सीडेंट का शिकार हुई थी तो तो वह प्रैग्नेंट भी बताई जा रही थीं चलिए आपको एक बार फिर  प्रिंसेस डायना के बचपन से लेकर आखिरी समय की कुछ अनसुनी बातें बताते हैं।

PunjabKesari

ब्रिटेन के एक शाही कुलीन परिवार 'द ऑनरेबल डायना स्पेन्सर' में डायना का जन्म 1 जुलाई 1961 को हुआ था। वह जॉन स्पेंसर, स्पेंसर के आठवें अर्ल व उनकी पत्नी 'द ऑनरेबल फ्रांसेस शांड क्यिड' की तीसरी बेटी और चौथी संतान थी। सैंड्रिंघम हाउस में स्थित पार्क हाउस में डायना का पालन-पोषण हुआ और इंग्लैंड और स्विट्जरलैंड में पढ़ाई। जब साल 1975 में पिता को अर्ल स्पेन्सर की उपाधि मिली तब डायना लेडी डायना स्पेंसर हो गईं लेकिन बचपन के एक डर ने हमेशा डायना को एक सहमे बच्चे की तरह रखा। दरअसल, डायना के पैरेंट्स की आपस में बनती थी इसलिए दोनों अलग हो गए थे। डायना ने अपने पिता को कई बार मां को पीटते देखा था। इन बातों ने डायना को सहमा रखा। जब मां चली गई तो डायना पूरी तरह से अनदेखा बच्चा हो गई और उन्हें पढ़ाई के लिए स्विट्जरलैंड और इंग्लैंड में भेजा गया। 

19 साल की उम्र में हुई प्रिंस चार्ल्स से मुलाकात 

कहा जाता है साल 19 साल की उम्र में प्रिंस चार्ल्स से उनकी मुलाकात हुई । प्रिंस तब 32 साल के थे। वहीं प्रिंसेस डायना एक ऐसी मासूम लड़की जिसे किसी भी रूप में ढाला जा सकता था। दरअसल, क्वीन का अपने बेटे प्रिंस चार्ल्स पर शादी का प्रैशर था और चार्ल्स अपनी दोस्त केमिला के प्यार में थे जोकि तलाकशुदा थी। शाही नियमों के मुताबिक, वह एक तलाकशुदा से शादी नहीं कर सकते थे। इसी के चलते प्रिंस ने डायना को प्रपोज किया मासूम डायना ने भी उन्हें 10-12 मुलाकातों के बाद हां कह दी जिसका बाद में उन्हें हर दम अफसोस रहा। डायना शादी के बाद कभी खुश नहीं रही। कहते है कि प्रिंस चार्ल्स का लगाव केमिला से ही रहा था जिसके चलते डायना अकेलेपन की शिकार होती गई। यहां तक कि उन्होंने खुद को खत्म करने की भी कोशिशें की थी उन्हें जो सहानुभूति चाहिए थी वो प्रिंस चार्ल्स से कभी नहीं मिली।

PunjabKesari

बेटे के जन्म के बाद उन्होंने नई जिंदगी जीने की सोची लेकिन डायना के अकेलापन उन्हें अंदर ही अंदर खा रहा था। डायना ने यह बात क्वीन एलिजाबेथ को भी बताई लेकिन उन्हें गुजारा करें कह कर टाला जाता रहा। डायना बेहद डिप्रैस थी दूसरे बच्चे यानि प्रिंस हैरी के जन्म के बाद फिर दोनों में अनबन हुई क्योंकि चार्ल्स को लड़की चाहिए थी लेकिन लड़का पैदा हुआ था। हैरी के लाल बाल भी उन्हें अच्छे नहीं लगे। प्रिंस चार्ल्स का कहना था कि वह उनके शाही परिवार नहीं बल्कि प्रिंसेस डायना के परिवार की तरह दिखते हैं। यह बातें डायना के दिलो-दिमाग में घर कर गई।

पूरी दुनिया में शोर उस समय मच गया जब एंड्रयू मॉर्टन की किताब 'डायना की कहानी डायना की जुबानी' में डायना ने अपनी आपबीती रिकॉर्डिंग के जरिए बताई थी। चार्ल्स और डायना के खोखले रिश्ते का पूरी दुनिया में ढोल पीट गया। शाही परिवार द्वारा यह बात जानने की भी कोशिश की गई कि डायना का इसमें कितना हाथ है लेकिन उन्होंने कभी इस बात को स्वीकार नहीं किया। फिर क्वीन एलिजाबेथ की सहमति से दोनों ने अलग होने का फैसला लिया। जब दोनों अलग हुए तो उनके ससुर यानि चार्ल्स के पिता ने उनसे you royal highness यानि बेहतरीन शहजादी का खिताब वापिस लिए जाने की बात कही।

सुर्खियों में रहे डायना के कहानी के किस्से 

वहीं दूसरी तरफ डायना के प्रेम प्रंसग के किस्से भी उस समय काफी सुर्खियों में रहते थे। आखिरी वक्त भी वह अपने ब्वॉयफ्रैंड के साथ थी। बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, डायना अपने ब्वॉयफ्रैंड डोडी के साथ कार में घूम रही थी जहां उन्हें लगा कि पैपाराजी उनका पीछा कर रहे हैं, जिसके चलते उनके ड्राइवर ने कार की रफ्तार बढ़ा दी लेकिन कार का संतुलन बिगड़ा और सुरंग के अंदर एक कंकरीट के खंभे से जा टकराई। इस जबरदस्त टक्कर में 4 में से अगली सुबह देखने के लिए केवल 1 शख्स ही जिंदा रहा ।

PunjabKesari

खबरों में कहा गया कि हादसा, ड्राइवर आनरी पॉल की लापरवाही से हुआ। यह भी कहा जाता है कि डायना की मौत के पीछे भी किसी ब्रिटिश अधिकारी का हाथ था। वहीं लंदन में रिलीज एक नाटक में डायना की मौत को शाही इतिहास की सबसे बड़ी साजिश भी कहा गया था। शाही घराना, डायना और उनके मुस्लिम प्रेमी को बर्दाश्त नहीं कर पाए। डोडी के पिता मोहम्मद अल फायद के मुताबिक, उस समय डायना प्रेग्नेंट थी। हादसे की रात दोनों बच्चे की खुशी मनाने जा रहे थे वहीं व बच्चों के साथ फ्रांस में बसने का भी मन बना रहे थे। लेकिन यह बात ब्रिटिश प्रिंस चार्ल्स को बिलकुल पंसद नहीं थी कि होने वाले राजा का नाम एक मुस्लिम शख्स से जुड़े जिसके चलते दोनों की हत्या करवा दी गई। 

डायना की सीट बेल्ट बताई गई खराब

डोडी के पिता ने ये भी कहा कि उनकी गाड़ी को टक्कर मारने के लिए अन्य गाड़ी का इस्तेमाल किया गया जिसका हादसे के वक्त पता ही नहीं चला। उन्होंने यह भी दावा किया कि उस सुरंग में करीब 10 सीसीटीवी कैमरे लगे थे। ब्रिटिश अखबार द इंडिपेंडेंट ने भी इस रिपोर्ट की पुष्टि की थी लेकिन आज तक फुटेज सामने नहीं आई। एक और बात जो सामने आई थी कि डायना ने सीट बैल्ट क्यों नहीं पहनी थी जबकि सबसे पहले कार में बैठते समय वह बेल्ट ही लगाती थी लेकिन हादसे वाले दिन बेल्ट नहीं लगी थी रिपोर्ट के मुताबिक कार की सीट बैल्ट खराब बताई गई।

PunjabKesari

प्रिंसेस डायना की मौत की खबर सुन दुनियाभर में लोग शौक में डूब गए। प्रिंसेस डायना जीवित थी तब भी लोगों के दिलों में राज किया और आज भी लोगों के दिलों में बसी हुई हैं। 


 

Related News