01 JUNMONDAY2020 12:28:30 PM
Nari

Corona Alert: घर पर कोरोना मरीज की कैसे करें देखभाल?

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 01 Apr, 2020 05:38 PM
Corona Alert: घर पर कोरोना मरीज की कैसे करें देखभाल?


कोरोना वायरस तेजी से लोगों को अपना शिकार बना रहा है। आज भारत में भी इसके आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में अगर कोई आपके घर या आस-पड़ोस में इस वायरस से संक्रमित है तो उनका अच्छे से ध्यान रखें। इसके साथ ही अपनी भी सेफ्टी रखें ताकि आप इस वायरस की चपेट में आने से बचें रहें। तो आइए जानते हैं कोरोना वायरस के शिकार मरीज का ध्यान रखने में कुछ आवश्यक बातें...

कोरोना वायरस से जुड़े 10 अहम सवालों ...

अलग कमरा दें

कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति को घर के अलग कमरे में रखें। उसे ऐसा कमरा दे जो घर के बाकी कमरों की दूरी पर हो। इसके साथ रूम में अटैच बाथरूम हो। इसके अलावा उसकी जरूरत का सारा सामान भी रखें।

किसी से मिलने न दें

मरीज के रूम में किसी को भी जाने न दें। अगर घर में पालतू जानवर है तो उसे भी रोगी के संपर्क में आने से बचाएं।

दूरी बनाकर रखें

मरीज के पास जाने से पहले मुंह पर मास्क जरूर पहनें। इसके साथ ही रोगी से 1 फीट के फासले पर रहें। इसके अलावा अपने हाथों को आंख, मुंह और नाक पर न लगाएं।

Corona Virus Ka Khof - कोरोना वायरस: अलर्ट हुआ ...

अपनी सेफ्टी का रखें ध्यान

रोगी के पास उसकी देखभाल के लिए घर का कोई एक मेंबर ही जाएं तो बेहतर होगा। उसके पास जाने से पहले हाथों में ग्लव्स जरूर पहनें। रोगी से मिलने के बाद उन ग्लव्स को उतार कर ऐसी जगह रखें जहां कोई भी उसे छू न सके। इसके साथ ही मरीज से संपर्क के बाद हाथों को सैनिटाइजर या साबुन से अच्छी तरह साफ करें। 

कमरे की सफाई का रखें ध्यान

इस वायरस का शिकार हुए रोगी का कमरा बिलकुल साफ होना चाहिए। उसमें थोड़ी सी भी गंदगी नहीं होनी चाहिए। इसके लिए रोजाना रोगी का वॉशरूम, बेड, कमरे में पड़ी जरूरी चीजों को साफ करें।

रोगी की चीजें अलग रखें

मरीज को घर की हर चीज को छूने न दें। डेली रूटीन की अपनी चीजें जैसे कि तौलिया, बर्तन, गैजेट्स आदि उससे दूर रखें। उसके लिए सब चीजें अलग से उसके कमरे में रखें। अलग वह घर की चीजों को छूएगा तो वायरस पूरे घर में फैल जाएगा। ऐसे में घर के बाकी के सदस्यों के इसकी चपेट में आने का खतरा बढ़ता है।

डॉक्टर से संपर्क करें

समय-समय पर डॉक्टर या हेल्थ केयर सेंटर से संपर्क कर इस वायरस से जुड़ी जानकारी जरुर लें। इसके साथ ही मरीज में दिख रहे लक्षण और उसकी उम्र आदि के बारे में डॉक्टर को सब सही बताए। ताकि इलाज जल्दी और सही हो सके।

Related News