21 JANTHURSDAY2021 10:55:26 AM
Nari

कोरोना के दौरान छोटे बच्चे के साथ सफर करने पर ध्यान रखें ये बातें

  • Edited By neetu,
  • Updated: 01 Dec, 2020 06:22 PM
कोरोना के दौरान छोटे बच्चे के साथ सफर करने पर ध्यान रखें ये बातें

कोरोना का कहर अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसके बचने के लिए सभी को सोशल डिसटेंसिंग, अच्छी डाइट व समय-समय पर सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने की सलाह दी जा रही है। मगर बहुत बार किसी जरूरी काम के चलते सफर करने की जरूरत पड़ती है। मगर जिनके बच्चे छोटे है वे उन्हें घर पर छोड़ कर नहीं जा सकते हैं। ऐसे में छोटे बच्चे के साथ सफर करने के लिए कुछ खास बातों का ध्यान रखने की जरूरत है ताकी संक्रमण होने से बचा जा सके। तो आइए जानते हैं उन सावधानियों के बारे में...

बच्चे के सामान का अलग से बैग तैयार करें

बच्चे की सभी जरूरतों का सामान एक अलग बैग में पैकस करें ताकि आपको कोई चीज ढूंढ़ने के लिए ज्यादा समय ना लगे। साथ ही बच्चे को सभी चीजें आसानी से मिल सके। ऐसे में उसकी दूध की बोतल, खाने का सामान, दवाइयां, कपड़े, जूते व डायपर अलग से पैक करें। साथ ही बाहर से बच्चे के कोई भी चीज खरीदने से बचें। इसके अलावा ना ही किसी से बच्चे की जरूरत की कोई चीज लें और ना ही उनसे अपने बच्चे की चीज शेयर करें।

PunjabKesari

हाथों पर ग्लव्स से ढके 

सर्दी होने के चलते बच्चे के कपड़ों का खास ध्यान रखें। उसे गर्म कपड़े पहनाने के साथ सिर पर टोपी और हाथों में ग्लव्स भी जरूर पहनाएं। हाथों को खासतौर पर ढके। असल में, छोटे बच्चों कोे हाथ मुंह में डालने की आदत होती है। ऐसे में किसी भी चीज को छूकर हाथ में डालने से वे बीमार हो सकते हैं. इसके लिए उनके हाथों में ग्लव्स जरूर पहनाएं। 

किसी अनजात व्यक्ति को बच्चा ना पकड़ाएं

सफर के दौरान गलती से भी बच्चे को किसी अनजान व्यक्ति को ना पकड़ाएं। कोरोना वायरस से बचने के लिए ऐसा करना बेहद जरूरी है। असल में, कोरोना के बदलते लक्षणों के चलते इसके बारे में पूरी तरह से पता नहीम लगाया जा सकता है। इसलिए जाने-अनजाने में किसी के द्वारा छुए जाने से संक्रमित होने का खतरा हो सकता है। इसलिए किसी भी विश्वास करने की भूल ना करें। 

समय-समय पर सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें

चाहे बच्चे ने किसी चीज को हाथ ना लगाया हो फिर भी सुरक्षा के चलते समय-समय पर उसके हाथों को सैनिटाइज करें। साथ ही इस बात का खास ध्यान रखें कि सैनिटाइजर ज्यादा खूशबूदार हो अल्कोहल वाला ना हो। नहीं तो इससे बच्चे की स्किन खराब हो सकती है। 

PunjabKesari

बच्चे के चेहरे को छुने से बचें

जैसे कि सभी जानते हैं कि यह वायरस छुने से फैलता है। ऐसे में खुद भी बच्चे को बार-बार ना छुएं। असल में, लंबे सफर के दौरान हम बहुत-सी चीजों को हाथ लगाते हैं। ऐेसे में बच्चे के बीमार होने का खतरा हो सकता है। इसलिए उसे इन हाथों से छुने को बचें। अगर बच्चा रोता भी है तो उसका मुंह साफ करने के नैपकिन का इस्तेमाल करें। इसके अलावा जिस भी जगह पर बैठ रहे हो उसे भी पहले सैनिटाइजर लगा कर साफ करें। 
 

Related News