22 JANFRIDAY2021 11:14:19 PM
Nari

छठ पूजा कर रही हैं तो ये 10 गलतियां ना कर बैठें

  • Edited By neetu,
  • Updated: 17 Nov, 2020 03:28 PM
छठ पूजा कर रही हैं तो ये 10 गलतियां ना कर बैठें

छठ पूजा कार्तिक शुक्ल पक्ष के षष्ठी को मनाई जाती है। इस साल यह पूजा 20 नवंबर को होगी। कुल 4 दिनों तक चलने वाली इस पूजा का विशेष महत्व होता है। इस पूजा के शुरूआती दो दिन चतुर्थी तिथि को नहाय खाय होता है। फिर पंचमी को लोहंडा और खरना, उसके बाद षष्ठी तिथि को छठ पूजा मनाई जाती है। पूजा में सूर्य देव को शाम के समय अर्घ्य दिया जाता है। मान्यता है कि इस व्रत को लगातार 36 घंटे तक रखा जाता है। इस व्रत को विशेष तौर पर संतान प्राप्ति, उसकी लंबी आयु व सुख-शांति के लिए रखा जाता है। पूजा को पूरे विधि-विधान व नियमों का पालन करने से मनोकामना पूरी होती है। तो आइए जानते हैं उन 10 नियमों के बारे में...

1. पूजा करने के दौरान साफ कपड़े पहन कर रखें। साथ ही साफ हाथों से ही पूजा की चीजों को हाथ लगाएं। 

 

2. इस पूजा में साफ-सफाई का खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। ऐसे में घर की अच्छे से सफाई करें। साथ ही पूजा का सामान भी साफ जगह पर रखें और खुद भी स्वच्छ हाथों से उसे छुएं। 

PunjabKesari

3. इन पवित्र दिनों में भूलकर भी शराब, अल्कोहल और मांसाहारी खाना ना बनाएं हो ना ही इसका सेवन करें। 

 

4. जो महिलाएं व्रत रख रही है वे सूर्य देव को अर्घ्य दिए बिना किसी भी चीज को ना खाएं। 

 

5. जिन महिलाओं ने इस व्रत को करने प्रण किया होता है। उन्हें छठ पूजा के 4 दिनों पर पलंग या चारपाई की जगह जमीन पर चादर बिछाकर सोना चाहिए। 

 

PunjabKesari

6 माना जाता है कि छठ पूजा के कुल 4 दिनों में लहसुन व प्याज का सेवन नहीं करना चाहिए। यह चीजें तामसिक होने से इन पवित्र दिनों में इसे खाने पर रोक होती है।

 

7. इस पूजा में सूर्य देव को अर्घ्य दिया जाता है। ऐसे में उनकी पूजा में चांदी, स्टील, प्लास्टिक के बर्तनों का इस्तेमाल न करें। इसे बनाने के लिए मिट्टी के चूल्हे व बर्तनों का इस्तेमाल करें। साथ ही इसे बनाने के लिए सेंधा नमक इस्तेमाल करें। 

 

8 पूजा का प्रसाद बेहद पवित्र होता है। इसे हमेशा बिना खाएं ही बनाना चाहिए। इसलिए इसे तैयार करने से पहले कुछ भी ना खाएं। 

 

PunjabKesari

9. जिस भी जगह पर पूजा का प्रसाद तैयार करना हो वहां पर पहले खाना न बनता हो। इसलिए इस बनाने के लिए कोई साफ सी जगह ढूंढ़े। 

 

10. पूजा के दिनों में फलों का सेवन करने की भी मनाही होती है। ऐसे में जब तक पूजा खत्म न हो जाएं कुछ भी ना खाएं। 

 


 

Related News