08 AUGMONDAY2022 11:03:28 PM
Nari

Cancel Board Exams 2022: 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग, छात्रों ने किया SC का किया रुख

  • Edited By neetu,
  • Updated: 13 Feb, 2022 10:53 AM
Cancel Board Exams 2022: 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द करने की मांग, छात्रों ने किया SC का किया रुख

कोरोना कहर के कारण अभी तक स्कूल-कॉलेज की ऑनलाइन क्लॉसेस चल रही थी। मगर अब पेपर ऑफलाइन होने के बार में कहा जा रहा है। ऐसे में पहले तो छात्रों द्वारा सोशल मीडिया पर ‘कैंसिल बोर्ड एक्जाम 2022’ की मांग की गई। मगर अब कई छात्रों ने सुप्रीम कोर्ट की ओर अपना रुख कर लिया है।

बोर्ड परीक्षा 2022 रद्द करें या उन्हें स्थगित करें

इसमें छात्रों ने बोर्ड परीक्षा 2022 ऑफलाइन होने पर आपत्ति की है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, सीबीएसई, भारतीय स्कूल प्रमाणपत्र परीक्षा परिषद, सीआईएससीई, और एनआईओएस से लेकर राज्य बोर्ड जैसे महाराष्ट्र बोर्ड, झारखंड बोर्ड, आरबीएसई आदि के सभी छात्र ऑफलाइन परीक्षा ना देने की मांग कर रहे हैं।

PunjabKesari

छात्रों ने किया सुप्रीम कोट की ओर रुख

अपनी मांग को पूरा करने के लिए छात्रों ने 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा 2022 को रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। खबरों के मुताबिक छात्रों ने ऑफलाइन परीक्षा की जगह मूल्यांकन के वैकल्पिक तरीके की मांग करते हुए SC में अपनी याचिका दायर की है।

परीक्षा आयोजित करने के संबंध में समय पर निर्णय नहीं लिया

ज्यादातर छात्र मूल्यांकन के वैकल्पिक तरीकों की तलाश कर रहे हैं। दायर की गई याचिका में इस बात का आरोप लगाया गया है कि बोर्ड द्वारा परिणाम घोषित करने और परीक्षा आयोजित करने के संबंध में समय पर फैसला नहीं लिया है। इसके कारण छात्रों को परेशानी झेलनी पड़ती है। इसके साथ ही छात्रों ने सुधार परीक्षा आयोजित करने पर भी राहत मांगी गई है। यह उन छात्रों के लिए मांगा गया है जो आंतरिक मूल्यांकन के मूल्यांकन से पूरी करह से संतुष्ट नही हो पाएंगे।

PunjabKesari

कोविड के डर से ऑफलाइन परीक्षा ना करने की मांग

बता दें, ‘कैंसल बोर्ड परीक्षा 2022’ के पक्ष में आवाज उठा रहे हैं इसपर अपना तर्क देने के लिए वे खुद को COVID-19 से डर लगना बता रहे हैं। मगर इसपर विशेषज्ञों का कहना है कि कई राज्यों में महामारी की तीसरी लहर अब धीमी हो रही है। मगर फिर भी कई छात्रों को संक्रमित होने का खतरा अभी भी लग रहा है। इसके अलावा ऑनलाइन कक्षाएं लगातार चल रही थी। ऐसे में अचानक से ऑफलाइन परीक्षाओं का ऐलान करने से वे थोड़ा असहज महसूस कर रहे हैं।

एक सर्वेक्षण में  1 लाख उत्तरदाताओं ने दिया वोट

रद्द बोर्ड परीक्षा 2022 पर हुए एक सर्वेक्षण में करीब 1 लाख उत्तरदाताओं ने वोट दिया। सर्वेक्षण के शुरुआती निष्कर्षों ने सुझाव दिया कि इनमें से करीब 72% छात्र बोर्ड परीक्षा रद्द करना चाहते है। इसके अलावा करीब 15% ने ऑनलाइन परीक्षा करने को कहा। यह सब तब हुआ जब कई बोर्डों ने कक्षा 10, 12 की परीक्षा को ऑफलाइन लेने का ऐलान किया।

pc: freepik

Related News