24 JULWEDNESDAY2024 1:17:58 PM
Nari

भारी बदन , सफेद बाल वाली 49 वर्षीय Deepti Rishi ने जीता मिसेज इंडिया का खिताब

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 12 Aug, 2023 02:58 PM
भारी बदन , सफेद बाल वाली 49 वर्षीय Deepti Rishi ने जीता मिसेज इंडिया का खिताब

छरहरा बदन , पतली कमर, लम्बा कद अब फैशन शो की योग्यता नहीं रहा , बल्कि 36 इंच से मोटी कमर , भारी बदन और सफेद बालों वाली अधेड़ महिला भी फैशन में मिसेज इंडिया का खिताब जीत सकती है। मोहाली की एक मल्टीनेशनल कंपनी में एचआर पद  पर कार्यरत और कार्पोरेट वर्ल्ड की प्लस साइज  49 वर्षीय दीप्ती ऋषि ने ग्लैमोन इंडिया ब्यूटी पेजेंट सीजन आठ में ग्लैमोन  मिसेज इंडिया, बेस्ट नेशनल ड्रेस और मिसेज पॉपुलर का खिताब जीत कर न सिर्फ महिलाओं के लिये उदाहरण किया पेश किया है बल्कि ये मिथ भी तोड़ा है कि फैशन शो में बड़ी उम्र की महिलाएं भी सुन्दरता मुकाबलों को उतीर्ण कर सकती है ।

PunjabKesari

 ये पुरस्कार और आयोजन विश्व की कंपनी ग्लैमोन द्वारा करवाया गया था , जो सभी उम्र, आकार और जातीय समूहों की महिलाओं और पुरुष फैशन मॉडलों के लिए सौंदर्य प्रतियोगिताएं तैयार करती है। इंडिया ब्यूटी पेजेंट दुबई के अजमान महल  में हुआ। सुश्री मान दुआ के निर्देशन में आयोजित कार्यक्रम में देश की जानी-मानी महिलाओं ने अपनी खूबसूरती और ग्लैमर से सभी को प्रभावित किया।

सेना अधिकारी के परिवार से और मूल रूप से पंजाब के होशियारपुर की दीप्ति ऋषि ने एक विशेष बातचीत में कहा कि किसी भी ब्यूटी पेजेंट को जीतने के लिए सिर्फ खूबसूरती अकेला मापदंड  नहीं है बल्कि  आत्मविश्वास,  खूबसूरती अनुशासन और इंटेलिजेंस का संगम आपको औरों से अलग करता है। दीप्ति ने कहा कि असल वूमेन एंपावरमेंट तब है जब महिला बिना किसी झिझक फील्ड में आकर अपने प्रतिभा का प्रदर्शन करे और अपनी फैमिली के लिए स्पोर्ट बने व साथी महिलाओं के लिए आदर्श ।

PunjabKesari

उन्होंने बताया कि विश्व में अपनी किस्म की इस प्रतियोगिता का आयोजन दुबई में हुआ और ग्लैम्मोएन का ये आठवां ऑडिशन था , जिसमें दुबई और यूके समेत भारत से 48 महिला प्रतिभागियों ने भाग लिया । पांच दिन तक चले ऑडिशन में प्रतिभागियों के अचार – व्यवहार, बाहरी और आन्तरिक सुन्दरता , हौसला , अनुशासन इत्यादि को आधार बनाया गया था , जबकि वज़न , साइज़ और कद को आधार नहीं बनाया गया था । उन्होंने बताया कि उम्र , वजन नहीं बल्कि आपने अन्दर खुद को प्यार करने का जज्बा होना मायने रखता है।उनका ये भी कहना था कि सम्पूर्ण महिला सशक्तिकरण का अर्थ भी तमाम महिलाओं में है , किसी विशेष आयु वर्ग में नहीं।

 इस प्रतियोगिता में दीप्ति ऋषि ने क्राउन के साथ मिसेज इंडिया का खिताब जीता । समारोह में शामिल  देश-विदेश की मशहूर हस्तियों ने उन्हें ताज पहनाया।


 

Related News