08 JULWEDNESDAY2020 6:47:08 AM
Nari

डायबिटीज मरीजों को हड्डी टूटने का क्यों रहता है ज्यादा खतरा?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 26 Jun, 2020 11:16 AM
डायबिटीज मरीजों को हड्डी टूटने का क्यों रहता है ज्यादा खतरा?

बुढ़ापे में तो हड्डियां कमजोर हो ही जाती हैं लेकिन गलत खान-पान के चलते आजकल कम उम्र में भी यह समस्या देखने को मिलती है। कमजोर हड्डियों के कारण फ्रैक्चर या हड्डी टूटने का डर रहता है। वहीं हाल ही में हुए शोध के अनुसार, जो लोग डायबिटीज के मरीज है उनमें भी हड्डी टूटने का खतरा ज्यादा रहता है।

डायबिटीज मरीजों में हड्डी टूटने का खतरा क्यों?

दरअसल, डायबिटीज मरीजों को लंबे समय तक इंसुलिन व दवाओं का सेवन करना पड़ता है, जो हड्डियों को कमजोर कर देती हैं। यही वजह है कि डायबिटीज मरीजों को बोन फ्रेक्चर होने की आशंका हमेशा बनी रहती है। ऐसे लोगों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत होती है क्योंकि गिरने से भी आपका बोन फ्रेक्चर हो सकता है। बुजुर्गों के इसके प्रति सतर्क रहने की जरूरत है, क्योंकि उन्हें इससे ज्यादा परेशानी हो सकती है।

Studies suggest new path for reversing type-2 diabetes and liver ...

किन्हें होता है अधिक खतरा

रिपोर्ट के मुताबिक, टाइप-1 और टाइप 2 दोनों तरह के डायबिटीज मरीजों में बोन फ्रेक्चर का जोखिम रहता है, लेकिन टाइप 1 से पीड़ित रोगियों को इसका खतरा अधिक है।

यह भी हो सकती है समस्याएं

इसके अलावा डायबिटीज मरीजों को किडनी प्रॉब्लम, आंखों की रोशनी कम होना, पैरों में दिक्कत और तंत्रिका संबंधी परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है।

चलिए अब बताते हैं डायबिटीज मरीज हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए किन बातों का रखें ध्यान...
डाइट में लें मैग्नीशियम

डायबिटीज मरीजों को अपनी डाइट में कैल्शियम व मैग्नीशियम से भरपूर फूड्स जैसे केले, बादाम, ब्रेड, टोफू और पनीर शामिल करने चाहिए। साथ ही रोजाना 1 गिलास दूध जरूर पीएं। आप चाहें तो इसमें तुलसी के पत्ते मिलाकर पी सकते हैं।

8 Magnesium rich foods that you need to include in your diet ...

15 मिनट की धूप

रोजाना कम से कम 25 मिनट गुनगुनी धूप में रहने से शरीर को पर्याप्त विटामिन डी मिलता है, जो हड्डियां मजबूत करने के हिलए जरूरी है। इसके अलावा डाइट में विटामिन डी से भरपूर फूड्स जैसे फैटी फिश, सोया मिल्क, दूध, दही, मशरूम, साबुत अनाज, संतरे का जूस लें।

तनाव से रहें दूर

स्‍ट्रेस से कोर्टिसोल हार्मोन का स्‍तर बढ़ता है। अगर लंबे समय तक इसका स्‍तर बढ़ा हुआ रहे तो हड्डियों को नुकसान पहुंच सकता है। इसकी वजह से ब्‍लड शुगर लेवल भी बढ़ सकता है और पेशाब के जरिए शरीर से कैल्शियम बाहर निकल सकता है। तनाव से दूर रहने के लिए ध्‍यान करें और पर्याप्‍त नींद लें। 

एक्सरसाइज व योग

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए अपने एक्सपर्ट से सलाह लेकर योग व एक्सरसाइज करें। साथ ही हफ्ते में 4 दिन पैदल चलना हड्डियां मजबूत करने के लिए जरूरी है।

Yoga for Weight Loss: 9 Asanas to Help You Lose Weight

Related News