Twitter
You are hereNari

क्या होता है केमिकल पील ट्रीटमेंट? जाने इसके फायदे

क्या होता है केमिकल पील ट्रीटमेंट? जाने इसके फायदे
Views:- Tuesday, October 30, 2018-2:59 PM

चेहरे के दाग धब्बें, झुर्रियां और त्वचा के रुखेपन को दूर करने के लिए आजकल केमिकल पील का चलन काफी बढ़ गया है। केमिकल पील से ना सिर्फ दाग-धब्बे दूर होते हैं बल्कि इससे स्किन में निखार भी आता है। अगर आपकी स्किन भी खराब हो रही है और बढ़ती उम्र का असर चेहरे पर दिखने लगा है तो आपको केमिकल पील करवाने के बारे में सोचना चाहिए। चलिए जानते हैं केमिकल पील क्या है और इसे करवाने के क्या-क्या फायदे होते हैं।
 

क्या है केमिकल पील?
केमिकल पील एक ऐसा कॉस्मेटिक ट्रीटमेंट है, जो डेड सेल्स को निकालकर त्वचा को हेल्दी बनाता है। इससे रूखी त्वचा, झुर्रियों, महीन रेखाएं, मुहांसे और दाग-धब्बों से छुटकारा मिल जाता है। साथ ही इसका इस्तेमाल स्ट्रेच मार्क्स को भी गायब कर देता है। दरअसल, इस केमिकल पील पेस्ट को बनाने के लिए नैचुरल एसिड्स (acids) और कैमिकल्स को मिक्स किया जाता है, जिसे फेशियल के जरिए त्वचा में डालकर डेड स्किन सेल्स को ठीक किया जाता है।

PunjabKesari

कितने तरह के होते है केमिकल पील?
केमिकल पील 3 तरह के होते है- सुपरफेशियल, मीडियम और डीप। इसमें कॉजिक, ग्लाइकॉलिक, मैंडेलिक और लैक्टिक जैसे एसिड्स का इस्तेमाल किया जाता है। इससे हाइपरपिग्मेंटेड त्वचा रिमूव हो जाती है और आपको क्लीयर स्किन मिलती है।

कैसे होता है केमिकल पील ट्रीटमेंट
केमिकल पील ट्रीटमेंट स्किन के हिसाब से किया जाता है। स्किन टाइप के हिसाब से त्वचा पर कैमिकल सॉल्यूशन लगाया जाता है, जिससे डेड लेयर निकल जाती है और त्वचा साफ हो जाती है। इसके बाद केमिकल फेशियल से डेड स्किन सेल्‍स में फिर से जान डाली जाती है।

केमिकल पील के फायदे
इस ट्रीटमेंट से एंटी-एजिंग, पिगमेंटेशन, दाग-धब्बों, मुहांसे और एक्ने से छुटकारा मिलता है। इवेन स्किन टोन पाने के लिए भी केमिकल पील्स का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा अगर आपको त्वचा से जुड़ी कोई प्रॉब्लम है तो उसे दूर करने के लिए भी यब बढ़िया ऑप्शन है।

PunjabKesari

इन बातों का रखें ध्यान
-कई बार यह ट्रीटमेंट लेने के बाद रिएक्शन की संभावना भी हो जाती है इसलिए इस दौरान काफी सावधानी बरती जाती है। इसके साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए जरूरी है कि आप इन्स्ट्रक्शन्स को फॉलो करें, ताकि त्वचा सुरक्षित रहे।

-ट्रीटमेंट के बाद बिना किसी प्रोटेक्शन के धूप में ना निकलें और सनस्क्रीन लोशन भी जरूर लगाएं। इसके अलावा इस ट्रीटमेंट के बाद रेटिनॉल वाले प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी ना करें।

-प्रेग्नेंट महिलाओं को यह ट्रीटमेंट करवाने से बचना चाहिए। इसके अलावा अगर आपको एक्जिमा या त्वचा की कोई दूसरी बीमारी भी है तो यह ट्रीटमेंट ना करवाएं।

-यह ट्रीटमेंट करवाने से पहले डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह जरूर लें।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP
Edited by:

Latest News