17 OCTSUNDAY2021 5:53:34 AM
Nari

बच्चों में Food Allergy सबसे आम, ऐसे करें बचाव

  • Edited By neetu,
  • Updated: 22 Sep, 2021 01:29 PM
बच्चों में Food Allergy सबसे आम, ऐसे करें बचाव

एलर्जी की समस्या बड़ों की तरह बच्चों में भी आम देखी जाती है। ये आमतौर तो कुछ खाने की चीजों के कारण हो जाती है। इसके कारण इम्यूनिटी कमजोर होने लगता है। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार समस्या बढ़ने पर यह जानलेवा भी साबित हो सकती है। रिसर्च के अनुसार, 6 साल वाले करीब 8 प्रतिशत बच्चे खाद्य एलर्जी से प्रभावित होते हैं। मगर बच्चों के बड़े होने तक उन्हें यह समस्या बढ़ सकती है। चलिए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से...

बच्चों में सबसे आम होती है इन खाद्य पदार्थों की एलर्जी

बच्चों को अलग-अलग खाद्य पदार्थों से एलर्जी की समस्या हो सकता है। इसमें दूध व मूंगफली सबसे आम मानी जाती है। इसके अलावा कई बच्चों को गेहूं, मछली, सुपारी, अंडे, सोया आदि से एलर्जी होती है।

PunjabKesari

एलर्जी होने के लक्षण

बच्चों में खाद्य एलर्जी होने पर अलग-अलग लक्षण नजर आ सकते हैं। इस दौरान कुछ बच्चे अधिक असहज महसूस कर सकते हैं। दूसरी ओर कई बच्चे को ज्यादा परेशानी नहीं होती है। आमतौर पर इसके लक्षण कुछ ही मिनटों या करीब 2 घंटे के अंदर दिखाई देने लगते हैं। चलिए जानते हैं इसके लक्षण...

. मुंह में खुजली होना
. होंठ, जीभ या शरीर के अन्य हिस्सों में सूजन व खुजली होना
. स्किन पर दाने व रेडनेस बढ़ना
. एक्जिमा, घबघराहट, जी मिचलाना व चक्कर आना
. नाक बंद हो जाना
. दस्त लगना व उल्टी का महसूस होना
. इसके अलावा इस समस्या के कारण
. गले में सूजन व सीने में दर्द होना

समस्या अधिक होने पर यह जानलेवा हो सकता है।

PunjabKesari

गंभीर लक्षणों पर सतर्क होना जरूरी

बच्चे में एलर्जी के लक्षण बढ़ने पर तुरंत बाल रोग विशेषज्ञ के पास ले जाए। इसके लिए डॉक्टर आपको बच्चे को एपिनेफ्राइन ऑटो-इंजेक्टर लेने के लिए कह सकते हैं। इससे आपके बच्चे को बेहतर महसूस होगा। मगर आपको इसके इस्तेमाल के बारे में जानना होगा। इसके साथ ही इसकी 2 खुराब को हमेशा बच्चे के पास रखें। अगर आपके बच्चे को एलर्जी नहीं भी होगी तो भी यह कोई नुकसान नहीं पहुंचएगा। मगर फिर भी इसे इस्तेमाल करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की राय लें।


इन बातों का रखें खास ध्यान

 

खाने वाली चीजों की जांच करें

किसी भी चीज को खरीदने से पहले ये चैक करें तो इनमें से किसी सामग्री से आपके बच्चे को एलर्जी तो नहीं है। ऐसी चीज को बच्चे को खिलाने से बचें।

बच्चे को खाना देते समय बरतें सावधानी

अक्सर एलर्जी वाले खाद्य पदार्थ के संपर्क में आने से भी समस्या बढ़ सकती है। उदाहरण के तौर पर अगर आपके बच्चे को पीनट बटर के एलर्जी है। फिर आप पीनट बटर वाली नाइफ से जैम ब्रेड पर लगाकर बच्चे को खिलाने से बचें। इससे भी बच्चे को एलर्जी हो सकती है।

PunjabKesari

मेडिकल अलर्ट ब्रेसलेट करें इस्तेमाल

आप बच्चे को मेडिकल अलर्ट ब्रेसलेट पहना सकती है। इससे आपको बच्चे की एलर्जी और लक्षणों से सचेत करेगा। ऐसे में अन्य लोग भी बच्चे को एलर्जी होने पर उसकी मदद कर पाएंगे।

योजना बनाएं

बच्चे को एलर्जी के दौरान कैसे संभालना है। इस बात का खास ध्यान रखें। इसके लिए आप पहले से ही एक योजना बना सकती है। इसके अलावा यह सुनिश्चित करें कि हर समय बच्चे के साथ कोई ना कोई जरूर हो।

खाद्य पदार्थ जो एलर्जी का कारण बनते हैं

अगर आप कहीं बाहर खाने जा रही है तो इस बात का ध्यान रखें कि आपके बच्चे को सही भोजन मिले। इसके लिए आप पहले से ही शेफ को बता सकती है कि आपके बच्चे को किस चीज से एलर्जी है। ऐसे में वे उस चीजों को शामिल ना करें।


अगर आप नहीं जानते हैं कि आपके बच्चे को किस चीज से एलर्जी है तो चिंताना करें। इसके लिए आप डॉक्टर से संपर्क करें।

 

Related News