14 AUGSUNDAY2022 8:14:41 PM
Nari

यादों में बिरजू महाराज जी, इनकी ताल पर ही थिरक कर 'कथक क्वीन' बनी थी माधुरी

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 17 Jan, 2022 10:29 AM
यादों में बिरजू महाराज जी, इनकी ताल पर ही थिरक कर 'कथक क्वीन' बनी थी माधुरी

भारतीय शास्त्रीय नृत्य 'कत्थक' के मशहूर कलाकार और पद्मविभूषण से सम्मानित पंडित बिरजू महाराज के निधन की खबर से हर कोई सदमे में है।  84 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया।  भारत के प्रख्यात कलाकारों में से एक बिरजू जी  गुर्दे की बीमारी से पीड़ित थे और ‘डायलिसिस’ पर थे। निधन से कुछ समय पहले वह परिवार वालों के साथ अंताक्षरी खेल रहे थे। 

PunjabKesari
अंताक्षरी खेलते-खखेलते दुनिया को कहा- अलविदा

महाराज जी के नाम से विख्यात, बिरजू महाराज अगले महीने 84 साल के होने वाले थे।  निधन के वक्त उनके आस-पास परिवार के लोग तथा उनके शिष्य मौजूद थे। वे रात के भोजन के बाद अंताक्षरी खेल रहे थे, जब महाराज को अचानक कुछ परेशानी होने लगी। उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई दिग्गजों ने शोक प्रकट किया है। 

PunjabKesari
इस कारण  बृजमोहन रखा गया था उनका नाम

बिरजू महाराज जी की उपलब्धियाें के बारे में तो हम सब जानते हैं लेकिन ये बात बहुत कम लोग जानते होंगे कि जिस अस्पताल में वो पैदा हुए, उस दिन वहाँ उनके अलावा बाकी सब लड़कियों का जन्म हुआ था। इसी वजह से उनका नाम बृजमोहन रख दिया गया, जो आगे चलकर 'बिरजू' और फिर 'बिरजू महाराज' हो गया। कत्थक नृत्य उन्हे  विरासत में मिला था। 

PunjabKesari

माधुरी दीक्षित का न‍ृत्य था उन्हें बेहद पसंद

महाराज जी ने 'शतरंज के खिलाड़ी' से लेकर 'दिल तो पागल है', 'ग़दर', 'देवदास', 'डेढ़ इश्क़िया', 'बाजीराव मस्तानी' जैसी कई फिल्मों में नृत्य निर्देशन किया था। उन्होंने कई दिग्गज अभिनेत्रियों को अपनी ताल पर नचाया है। 'देवदास' में माधुरी दीक्षित को डांस सिखाने वाले  बिरजू महाराज ही थे। माधुरी हमेशा से ही उनकी पंसदीदा नृत्यांगना रही हैं। उनका मानना है कि माधुरी भी मीना कुमारी और वहीदा रहमान जैसी ही बेहतरीन डांसर हैं।

PunjabKesari

दीपिका पादुकोण को भी सिखाया कत्थक

महाराज जी ने फिल्म 'बाजीराव मस्तानी' के गाने 'मोहे रंग दो लाल' में दीपिका पादुकोण को कत्थक सिखाया था। इसके अलावा पंडित बिरजू महाराज ने फिल्म 'गदर' के गाने 'आन मिलो सजना' में भी कत्थक डांस की कोरियोग्राफी की है। ठुमरी, दादरा, भजन और गजल गायकी में उनका कोई सानी नहीं था। वह कई वाद्य यंत्र भी बखूबी बजाते थे।

Related News