04 DECSATURDAY2021 1:44:14 PM
Nari

ये शुरुआती लक्षण आंखें कमजोर होने का संकेत, बिना देरी किए करवाएं जांच

  • Edited By neetu,
  • Updated: 20 Oct, 2021 12:58 PM
ये शुरुआती लक्षण आंखें कमजोर होने का संकेत, बिना देरी किए करवाएं जांच

बिजी लाइफस्टाइल के कारण लोग अपनी सेहत का सही से ध्यान नहीं रख पा रहे हैं। वहीं लैपटॉप, मोबाइल आदि का ज्यादा इस्तेमाल करने से कई लोगों को आंखों से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। मगर कुछ संकेतों द्वारा आंखों के कमजोर होने का पता लगाया जा सकता है। समय रहते इन संकतों को पहचान कर आप आंखों का ख्याल रख सकती है। नहीं तो आंखें कमजोर होकर चश्मा लगने की नौबत तक आ जाती है। ऐसे में इसे अनदेखा करने की जगह तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। चलिए आज हम आपको आंखें कमजोर होने के कुछ लक्षणों के बारे में बताते हैं...

आंखों में खुजली होने की समस्या

घंटों लैपटॉप, कंप्यूटर आदि के सामने बैठकर काम करने से आंखों में तनाव शुरू होने लगता है। इसके कारण आंखों में खुजली की शिकायत होने लगती है। ऐसे में बार-बार आंखों को रगड़ने का मन होता है। मगर ऐसा करने से बचना चाहिए। ऐसा महसूस होने पर थोड़ी देर के लिए काम से ब्रेक लें। आप आंखों पर पानी के छींटे मार सकती है। इसके अलावा कुछ देर आंखें बंद करके बैठ जाएं।

PunjabKesari

सुबह उठते ही धुंधला दिखाई देना

अक्सर कई लोग सुबह उठते ही धुंधला नजर आने की शिकायत करते हैं। ऐसे में उन्हें कई घंटों तक भी धुंधला दिखाई दे सकता है। इसके अलावा कई लोगों को आंखें धोने के बाद भी साफ दिखाई नहीं देता है। ये लक्षण आंखों के कमजोर होने की ओर इशारा करता है। ऐसे में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

आंखों का लाल होना

आपने अक्सर किसी की आंखों के कोनों को लाल देखा होगा। इसे भी कमजोर आंखों का एक संकेत माना जाता है। इस दौरान आंखें लाल होने के साथ ड्राई भी होने लगती है।

PunjabKesari

आंखों से पानी आने की समस्या

आंखों से पानी निकलने भी कमजोर आंखों की निशानी माना जाता है। आमतौर पर कुछ लिखते, पढ़ते व देखते समय यह समस्या और भी बढ़ सकती है। इससे बचने के लिए आप आंखों में कोई आयुर्वेदिक दवा डाल सकती है। इसके अलावा आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

सिरदर्द या सिर के पीछे दर्द होना

सिरदर्द या सिर के पीछे दर्द होना भी आंखें कमजोर होने ओर इशारा करता है। इस दौरान खासतौर पर आंखें झुकाकर नीचे देखते समय दर्द महसूस होता है। ऐसे में बिना देरी किए डॉक्टर की सलाह लें। इसके साथ ही डॉक्टर द्वारा बताए डाइट को फॉलो करें।

PunjabKesari

इस बातों का भी रखें ध्यान

. घंटों लैपटॉप, कंप्यूटर स्क्रीन के सामने ना बैठे।
. हर 2-3 घंटे में ब्रेक लें और आंखों को कुछ मिनटों तक बंद करके आराम दें।
. आंखें में दर्द या किसी भी तरह की परेशानी होने पर पानी से आंखें धोएं।
. हरी सब्जियों का अधिक सेवन करें।
. अगर आप नॉन वेजिटेरियन है तो डाइट में मछली शामिल करें।
. कम रोशनी वाली जगह पर काम करने से बचें।
. योगासन करें।
. रोजाना सुबह घास पर कुछ देर चलें।

 

Related News