19 APRFRIDAY2019 12:48:19 AM
Nari

आपकी इन्हीं 6 गलत आदतों के कारण पीरियड्स हो जाते हैं Irregular

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 09 Jul, 2018 11:55 AM
आपकी इन्हीं 6 गलत आदतों के कारण पीरियड्स हो जाते हैं Irregular

अनियमित मासिक धर्म के कार : महिलाओं को हर महीने 3 से 4 दिन तक पीरियड्स के दर्द से गुजरना पड़ता है। आमतौर पर 21 दिनों के बाद पीरिड्स आ जाते हैं लेकिन कई बार पीरियड्स जल्दी या लंबे समय के गैप के बाद आते हैं। शरीर में आए बदलाव या कमजोरी, थकान, तनाव, जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज और आपकी मेडिकल हिस्ट्री के कारण पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं लेकिन क्या आप जानती हैं कि आपकी कुछ गलत आदतें भी पीरियड्स को इनरेगुलर बना देती है। जी हां, रोजमर्रा में आप ऐसी गलत काम करती हैं, जो पीरियड्स साइकल को बिगाड़ देते हैं। आज हम आपको पीररियड्स को अनियमित बनाने वाली ऐसी ही कुछ आदतों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका ध्यान रखकर आप इस समस्या से बच सकती है।

1. शराब का सेवन
आजकल महिलाएं भी पार्टी या किसी खास मौके पर शराब का सेवन कर लेती हैं। मगर शराब के सेवन से शरीर में एस्ट्रोजन और टेस्टोस्टेरोन लेवल बढ़ जाता है, जिससे पीरियड्स समय पर नहीं आते। इसलिए इससे दूर रहने में ही आपकी भलाई है।

PunjabKesari

2. वजन का बढ़ना या घटना
अचानक वजन बढ़ने या घटने के कारण शरीर का हॉर्मोन्स लेवल बिगड़ जाता है, जिससे आपके पीरियड्स समय पर नहीं आते। इसलिए अपने वजन को हमेशा कंट्रोल में रखें।
 

3. नींद पूरी न होना
घर हो या ऑफिस, काम के चक्कर में अक्सर महिलाएं रात को देरी से सोती हैं और जल्दी उठ जाती है, जिससे उनकी नींद पूरी नहीं हो पाती। नींद की कमी के कारण पीरियड का गैप बढ़ जाता है और पीरियड्स इनरेगुलर हो जाते हैं।
 

4. जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज करना
फिट और स्वस्थ रहने के लिए एक्सरसाइज करना बहुत अच्छी बात है। मगर ज्यादा एक्सरसाइज करने से हॉर्मोन्स का प्रॉडक्शन या तो स्लो हो जाता है या बंद हो जाता है, जिसके कारण आपको पीरियड्स आने बंद हो जाते है। इसलिए थोड़ा संभलकर रहें।

PunjabKesari

5. ज्यादा स्ट्रेस लेना
रोजमर्रा में छोटा-मोटा तनाव लेने से कुछ नहीं होता लेकिन हद से ज्यादा स्ट्रेस आपकी सेहत को बिगाड़ सकता है। इसके साथ ही इससे पीरियड्स भी समय पर नहीं आते। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ये बॉडी के जरूरी हॉर्मोन्स के प्रॉडक्शन पर असर डालकर उसे धीमा कर देता है।
 

6. दवाइयों का असर
कुछ महिलाएं पीरियड्स को रेगुलर करने के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स लेती है लेकिन शुरूआत में यह पिल्स बॉडी के हिसाब से एडजस्ट नहीं कर पाती। इसके कारण आपका हार्मोंन्स फंक्शन गड़बड़ा जाता है और शुरू के 2-3 महीने आपके पीरियड्स समय पर नहीं आते। इस समस्या से निपटनें के लिए पिल्स एक ही नियमित समय पर लें।

PunjabKesari

फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

Related News

From The Web

ad