03 OCTMONDAY2022 12:05:32 AM
Nari

भारत के लिए गर्व से करो काम... आगे बढ़ने की प्रेरणा देती है देश की तीसरी महिला लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 13 Aug, 2022 05:44 PM
भारत के लिए गर्व से करो काम... आगे बढ़ने की प्रेरणा देती है देश की तीसरी महिला लेफ्टिनेंट जनरल माधुरी

"महिलाएं हर क्षेत्र में खुद को साबित कर रही हैं और मिसाल पेश कर रही हैं। सेना सुरक्षित जगह है। यहां देश के लिए आप गर्व से काम कर सकते हैं "...यह कहना है माधुरी कानिटकर का जो भारतीय सशस्त्रबलों में लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर पहुंचने वाली तीसरी महिला और पहली बाल रोग विशेषज्ञ हैं। वह उन तमाम लड़कियाें के लिए आइडल है जो सेना में जाने का सपना देख रही हैं।

PunjabKesari
लेफ्टिनेंट जनरल रैंक पाने वालीं तीसरी महिला माधुरी कानिटकर ने 37 साल भारतीय सेना का गौरव बढ़ाया है। बाल रोग विशेषज्ञ होने के साथ-साथ वह राष्ट्रपति मेडल से सम्मानित कानिटकर प्रधानमंत्री की वैज्ञानिक और तकनीकी सलाहकार समिति की सदस्य भी हैं।  माधुरी के पति राजीव कानिटकर भी लेफ्टिनेंट जनरल रहे हैं। उनका सफर काफी प्रेरणादायर रहा है। 

PunjabKesari
माधुरी कहती हैं कि अगर महिलाएं फौज में आएंगी तो परिवार का साथ भी जरूर मिलेगा, क्योंकि फौज में सिर्फ परिवार नहीं होता है, पूरी फौज ही एक परिवार होता है। वह कहती हैं कि सेना सुरक्षित जगह है, उसकी उदाहरण मैं खुद हूं।  लेफ्टिनेंट जनरल ने अपनी स्पीच में कहा था कि-  मुझे बचपन में सेना के बारे में ज्यादा नहीं पता था क्योंकि फौजी बैकग्राउंड नहीं था। जब मैं फिल्मों में आर्मी आफिसर को देखती थी कि बहुत अच्छा लगता था। मेरी जिद्द के आगे पापा को हार माननी पड़ी और मैं सेना का हिस्सा बन गई। 

PunjabKesari
लेफ्टिनेंट जनरल ने अपनी स्पीच में कहा था- आर्मी में 4 दशक तक फौज में नौकरी की है। मैंने एक सैनिक, टीचर और डाक्टर के तौर पर सब कुछ हासिल कर लिया। सर्वोच्च पदों पर पहुंचकर कामयाबी को छुआं। उन्होंने कहा-  सरकारों पर निर्भर न रहकर हम सब को अपने स्तर पर बदलाव के लिए आगे आना चाहिए। तभी देश तरक्की की राह पर चलेगा।माधुरी का मानना है कि सीनियर्स की डांट और उनसे सीखना हर जूनियर की प्रोफेशनल जिंदगी में अहम भूमिका निभाता है। 
PunjabKesari

Related News