Twitter
You are hereNari

Nature को करीब से देखने के लिए बेस्ट है गोवा की यह बर्ड सैंक्चुअरी

Nature को करीब से देखने के लिए बेस्ट है गोवा की यह बर्ड सैंक्चुअरी
Views:- Thursday, December 6, 2018-2:25 PM

गोवा भारत के फेसम टूरिस्ट प्लेस में से एक है। देश ही नहीं विदेश से भी घूमने के लिए हर साल भारी तादाद में यहां पर्यटक आते हैं। बीच के अलावा गोवा के कुदरती नजारे भी टूरिस्ट को खूब आकर्षित करते हैं। आप भी नेचुरल खूबसूरती को करीब से देखना चाहते हैं तो यहां की सलीम अली बर्ड सैंक्चुअरी बेस्ट प्लेस में से एक है। इस बर्ड सैक्चुअरी में अलग-अलग प्रजाति के कई पक्षी पाए जाते हैं जिन्हें देखने का नजारा शब्दों में बयां कर पाना मुश्किल है।  


चराओ आइलैंड पर स्थित है यह बर्ड सैंक्चुअरी

सलीम अली बर्ड सैंक्चुअरी गोवा की राजधानी, पणजी से सिर्फ 5 किमी दूर माण्डवी नदी के बीच चराओ आइलैंड पर स्थित है। इस टापू को लेकर बहुत पौराणिक मान्यताएं जुड़ी हुई हैं, लोगों का मानना है कि इस महाद्वीप की उत्पत्ति भगवान श्री कृष्ण की माता यशोदा के द्वारा हीरे फैंकने से हुई थी। 

PunjabKesari,Best Bird Sanctuaries

नंवबर से फरवरी है बेस्ट समय

पक्षियों के ढेरों प्रजातियां एक साथ देखना चाहते हैं तो इस जगह पर जाने के लिए नवंबर से फरवरी के बीच का मौसम बेस्ट है। इस समय हजारों पर्यटर बर्ड सैंक्चुअरी देखने के लिए आते हैं। 

बर्ड सैंक्चुअरी में पक्षियों की अलग-अलग प्रजातियां

लिटिल बिटर्न पक्षी

यह यहां के खूबसूरत पक्षियों में से एक है। अमेरिकी मूल के इस बर्ड की खासीयत है कि इसकी आवाज बाघ जैसी है। इसी खासीयत के लिए यह लोगों का पसंदीद बर्ड बना हुआ है। 

PunjabKesari,Little bittern bird

ब्रह्मिनी चील

चील प्रजाति का यह पक्षी पानी के पास रहना पसंद करता है। अपना पेट भरने के लिए यह मछली और मेंढक का शिकार करता है। 

PunjabKesari, Brahmini Kite

स्टॉर्क बिल किंगफिशर

यह पानी के किनारे और जंगल दोनों में रहता है। इसकी खासीयत यह है कि ये प्रजाति छोटे-छोटे झुंड बनाकर रहती है। यह पक्षी एक दिन में 16 मछलियां खा सकता है। 

PunjabKesari,   bird in goa sanctuary

पर्पल सनबर्ड

फलों का रस पीने वाला यह पक्षी छोटा सनबर्ड है। फूलों का रस पीते हुए ये बर्ड बहुत खूबसूरत लगते हैं। 

PunjabKesari,purple  bird in sanctuary
इसके अलावा रेडषांक पक्षी भी इस बर्ड सैंक्चुअरी की खासीयत है। इसके पैर लाल रंग के होते हैं और खासबात यह है कि सर्दियों में इन पक्षियों के शरीर पर बना पैटर्न और रंग हल्का होने लगता है। इसकी चोंच का ऊपरी हिस्सा लाल और टिप वाला हिस्सा काले रंग का है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by:

Latest News