13 JULSATURDAY2024 3:44:07 AM
Nari

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एंबेसडर को दहेज के लिए ससुराल वालों ने निकाला घर से बाहर

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 10 Aug, 2023 10:53 AM
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एंबेसडर को दहेज के लिए ससुराल वालों ने निकाला घर से बाहर

देश में बेटियों के उत्थान और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं योजना पर काफी जोर दिया जा रहा है। इस योजना के माध्यम से सरकार बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए उनके जन्म से लेकर बड़े होने तक आर्थिक सहायता प्रदान करती है। सरकार की इतनी कोशिशों के बावजूद हमारी बेटियां प्रताड़ना का शिकार हो रही हैं। हैरानी की बात यह है कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एंबेसडर तक ज्यादती का शिकार हो चुकी है।

PunjabKesari
दरअसल मध्यप्रदेश के ग्वालियर की मशहूर रेसलर रानी राणा दहेज प्रताड़ना का शिकार हो गई हैं। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एंबेसडर रानी राणा को उसके पति, सास और ससुर ने दहेज के लिए मारपीट कर घर से निकाल दिया है। ससुराल से बेघर होने के बाद उन्होंने  मुरार थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। 

PunjabKesari
पुलिस ने रेसलर की शिकायत पर पति प्रिंस राणा और सास ससुर के खिलाफ मारपीट, दहेज और जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। रानी ने मीडिया के साथ बातचीत में बताया कि- ससुराल वाले उन्हें दहेज के लिए लगातार प्रताड़ित कर रहे थे. उन्होंने उसका घर से बाहर निकलना बंद कर दिया था। उससे वो लोग 5 लाख रुपए की मांग कर रहे थे. जब रानी राणा ने अपने मायके से रुपये लाने में असमर्थता जताई तो पति और सास – ससुर ने उसके साथ मारपीट करना शुरू कर दी।

PunjabKesari
रेसलर ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से इंसाफ की मांग की है। रानी के मुताबिक  16 फरवरी 2020 को उनकी शादी सामाजिक रीति रिवाज के तहत हुई थी। उन्होंने बताया कि शादी के वक्त उसके माता-पिता ने दहेज में 10 लाख रुपये और घर गृहस्ती का सामान दिया था। शादी के कुछ देर बाद ही वह और दहेज की मांग करने लगे। जब उसने असमर्थता जताई तो  पति प्रिंस ने मारपीट कर उसे घर से निकाल दिया।

Related News