14 JUNMONDAY2021 3:57:32 AM
Nari

अब कोविशील्ड के वैक्सीनेशन में होगा 12-16 हफ्ते का गैप: NTAGI

  • Edited By Anu Malhotra,
  • Updated: 13 May, 2021 06:29 PM
अब कोविशील्ड के वैक्सीनेशन में होगा 12-16 हफ्ते का गैप: NTAGI

कोरोना वायरस से बचने के लिए जहां पूरा देश वेक्सीनेशन करवा रहा है वहीं इस बीच एक बड़ी खबर सामने आई हैं। दरअसल,  टीकाकरण पर बनाई गई राष्ट्रीय तकनीकी सलाहाकर समूह (ntagi)  का कहना है कि कोविशील्ड की दो खुराक के बीच के अंतर को बढ़ाकर 12-16 सप्ताह किया जाए और कोरोना पॉजिटिव हुए लोगों को रिकवरी के 6 महीने के बाद वैक्सीन लगाई जाए। वहीं ntagi की इस सिफारिश को सरकार ने भी  स्वीकार कर लिया है।
 

बतां दें कि अब कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराक के बीच गैप 6-8 हफ्ते से बढ़ाकर 12-16 हफ्ते कर दिया गया है। अभी तक कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराकों के बीच का अंतराल चार से आठ हफ्ते का था।


PunjabKesari
 

ntagi ने गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण पर दी यह अहम जानकारी
ntagi ने यह भी सुझाव दिया है कि गर्भवती महिलाओं को किसी भी कोरोना वैक्सीन लेने का विकल्प दिया जा सकता है और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को प्रसव के बाद किसी भी समय टीका लगाया जा सकता है। इसके साथ ही ntagi ने यह भी कहा है कि संक्रमितों को रिकवरी के छह महीने बाद तक कोरोना टीकाकरण से बचना चाहिए।
 

जानकारी के लिए आपकों बतां दें कि इससे पहले एक नई स्टडी में दावा किया गया है कि अगर कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज देरी से दी जाए तो इससे कोविड-19 संक्रमण की वजह से मौतें कम होंगी। ये बात 65 साल से कम उम्र के लोगों के लिए कही गई है। हालांकि इसमें ये भी कहा गया है कि अगर परिस्थितियां अनुकूल हुईं तभी ये काम किया जा सकता है, क्योंकि ये एक संभावना मात्र है।

Related News