24 JANSUNDAY2021 1:31:47 PM
Nari

बेटे जान के आरोपों पर फूटा कुमार सानू का गुस्सा, बोले- ताली एक हाथ से नहीं बजती

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 25 Nov, 2020 03:33 PM
बेटे जान के आरोपों पर फूटा कुमार सानू का गुस्सा, बोले- ताली एक हाथ से नहीं बजती

बिग बॉस 14 के कंटेस्टेंट रह चुके जान कुमार सानू का अपने पिता  कुमार सानू के साथ विवाद सुलझने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में जान कुमार सानू बिग बॉस के घर से बेघर हो गए हैं जिसके बाद उन्होंने बाहर आते ही पिता पर निशाना साध दिया और कहा कि उन्हें कोई अधिकार नहीं है कि वह उसकी परवरिश पर सवाल उठाए। वहीं अब इन्हीं आरोपों पर कुमार सानू का रिएक्शन सामने आया है और उन्होंने भी बेटे को खूब खरी खोटी सुनाई है।

वीडियो पर दी सफाई 

दरअसल हाल ही में कुमार सानू ने अपने एक इंटरव्यू में जान के साथ सारी बात साफ करते हुए अपना पक्ष रखा। बात वीडियो से शुरू करते हुए कुमार सानू ने कहा ,' लोगों को वो वीडियो फिर से देखना चाहिए, मैंने कहा था कि नालायक बातें नहीं करना चाहिए। मैंने उसको नालायक नहीं बोला। दूसरी बात यह कि महाराष्ट्र में रहते हुए ये जरूरी है महाराष्ट्रियन्स का सम्मान करें। मैनें परवरिश के बारे में नहीं कुछ नहीं कहा। उसकी परवरिश बहुत अच्छे से हुई है।'

PunjabKesari

मुझे यह सब सुन बुरा लगता है 

आपको बता दें कि जान ने आगे कहा था कि पिता कुमार सानू तीनों बच्चों के लेकर कभी सर्पोटिव नहीं रहे और इसी पर कुमार सानू ने कहा मुझे यह सुनकर बहुत बुरा लगा है। शायद वह बहुत छोटे रहे होंगे, या उन्हें पता नहीं होगा, मैंने अपनी पत्नी को साल 2001 में डिवोर्स दिया था। मैंने वह सब कुछ दिया जो उनकी मम्मी चाहती थीं। जो भी उन्होंने कोर्ट के जरिए मेरे से डिमांड की थी, यहां तक कि आशिकी बंगला तक मैंने उन्हें दे दिया था।'

अब मैं बेटे से कभी नहीं मिलूंगा 

अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कुमार सानू ने आगे कहा ,' मेरा बेटा मुझसे कितनी बार मिलता रहा है लेकिन अब बिग बॉस के बाद मैं उससे नहीं मिलूंगा वो चाहेगा तो भी नहीं । '

कोरोना होने पर भी नहीं किया फोन 

कुमार सानू ने आगे कहा  ,' मैं कोरोना संक्रमित हुआ तब भी जान या उनकी मां के घर से किसी का उनके पास कोई फोन कॉल नहीं आया। अभी भी जान से मुझसे एक बार भी नहीं पूछा। प्‍यार एक तरफा नहीं होता और एक हाथ से ताली नहीं बजती है। '

जान इतना बड़ा कैसे हो गया 

PunjabKesari

कुमार सानू ने आगे कहा ,' क्‍या नाम के अलावा मैंने उसे कुछ नहीं दिया, उसके लिए कुछ नहीं किया। आज वह इतना बड़ा हो गया, कैसे हो गया? वह तब बहुत छोटा था, उनके घर में तब कोई कमाने वाला भी नहीं था, इसलिए जब मैं अब यह सब सुनता हूं तो मुझे बुरा लगता है।'

मैनें उसे कईं लोगों से मिलवाया 

कुमार सानू आगे कहते हैं,' जब उसने मुझसे कहा कि बाबा हमको शो में लो, तो हमने उसे शो में लिया। उसने कहा बाबा हमको थोड़ा म्यूजिक डायरेक्टर से प्रोड्यूसर से मिला दो। तो मैं उसे महेश भट्‌ट रमेश तौरानी और बाकी कई लोगों के पास ले गया। अब अगर वे लोग काम दें या न दें यह उनके ऊपर है। यह उसके टैलेंट पर निर्भर है, मैं उसमें कुछ नहीं कहूंगा।'

PunjabKesari

कुमार सानू ने आगे कहा ,'उसकी मां के लिए इतना सम्मान देने पर मैं उसे प्रोत्साहित करता हूं। उसे अपना नाम जान रीता भट्टाचार्य कर लेना चाहिए, जान कुमार सानू नहीं क्योंकि सबसे पहले रीता जी ने उसके लिए बहुत कुछ किया है और दूसरा लोग उसकी तुलना मेरे से करना शुरू करेंगे। जोकि बतौर न्यूकमर उसके लिए ठीक नहीं है।'

Related News