Twitter
You are hereNani Ma ke nuskhe

शरीर में कितना होना चाहिए कोलेस्ट्रॉल लेवल? देसी नुस्खों से करें कंट्रोल

शरीर में कितना होना चाहिए कोलेस्ट्रॉल लेवल? देसी नुस्खों से करें कंट्रोल
Views:- Thursday, November 15, 2018-10:28 AM

शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने पर स्‍ट्रोक और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। इतना ही नहीं, हाई कोलेस्‍ट्रॉल से खून का गाढ़ा होना, आर्टरी ब्लॉकेज और हार्ट डिजीज की संभावना भी बढ़ जाती है। ऐसे में कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी है। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू तरीके बताएंगे, जिससे कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहेगा। तो चलिए जानते हैं शरीर में कितनी होनी कोलेस्ट्रॉल की मात्रा और कैसे करें इसे कंट्रोल?

 

शरीर में कितना होना चाहिए कोलेस्ट्रॉल लेवल?
शरीर में दो तरह के कोलेस्ट्रॉल होते हैं, गुड़ कोलेस्ट्रॉल (HDL) और बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL)। यह दोनों ही प्रकार के कोलेस्ट्रॉल हाई और लो डेनसिटी प्रोटीन से बनते हैं और इनकी निश्चित मात्रा ही शरीर के लिए अच्छी है। शरीर में नार्मल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा (200 mg/dL या इससे कम) होनी चाहिए। बॉर्डर लाइन कोलेस्ट्रॉल (200 से 239 mg/dL) के बीच और हाई कोलेस्ट्रॉल (240mg/dL) होना चाहिए।

PunjabKesari

कब बढ़ता है कोलेस्ट्रॉल?
शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा 20 साल की उम्र के बाद बढ़नी शुरू हो जाती है। 60-65 की उम्र तक महिलाओं और पुरुषों में इसकी मात्रा सामान रूप से बढ़ती है। मासिक धर्म शुरू होने से पहले महिलाओं में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम रहता है। मगर इसके बाद पुरूषों की तुलना में महिलाओं में कोलेस्ट्रॉल अधिक बढ़ता है इसलिए पुरूषों के मुकाबले महिलाओं में हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है। इसके अलावा डायबिटीज, हाइपरटेंशन, किडनी डिजीज, लीवर डिजीज और हाइपर थाइरॉयडिज्म से पीड़ित लोगों में भी इसका स्तर अधिक पाया जाता है।

PunjabKesari

ऐसे करें कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल
1. हल्दी

हल्दी बहुत अच्छी कुदरती एंटीऑक्सीडेंट हैं इसलिए इसका सेवन कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करता है। इसके अलावा इससे गठिया रोग की समस्या भी दूर रहती है। खाने में इस्तेमाल करने के साथ आप इसे दूध में मिलाकर भी पी सकते हैं।

PunjabKesari

2. लहसुन
लहसुन में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जोकि शरीर के एलडीएल यानि खराब कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करते हैं। सुबह खाली पेट इसकी 1-2 कलियों का सेवन करें।

 

3. सिंहपर्णी की जड़
सिंहपर्णी की जड़ भी कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करके आपको लीवर और दिल की बीमारियों से बचाती है। आप चाहे तो इसकी चाय बनाकर भी पी सकते हैं।

PunjabKesari

4. ग्रीन टी
ग्रीन टी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल रखने का काम करती है। इसमें मौजूद तत्व शरीर में बुरे कोलेस्ट्रॉल को 5-6 अंक तक कम करती हैं।

 

5. साचा इनची (Sacha Inchi)
साचा इनची मूंगफली की तरह दिखने वाले बीच हैं। इसमें हाई प्रोटीन के साथ ओमेगा एसिड (3, 6, 9) भरपूर मात्रा में होता है, जिससे शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहता है।

PunjabKesari

6. मेथी के दानें
मेथी के दानें सेहत के लिए बहुत लाभकारी होते है। मेथी के दानें कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स लेवल को कम करने में मदद करते हैं, जिससे आप दिल के साथ कई बीमारियों से बचे रहते हैं।

 

7. इसबगोल की पत्तियां
घुलनशील फाइबर होने के कारण इसबगोल की पत्तियों का सेवन भी कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मदद करती हैै। कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के साथ ही यह गुड़ कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता भी है।

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP
Edited by: