24 APRWEDNESDAY2019 3:36:34 AM
Nari

रोज खाएं 5 चिलगोजे, दिमाग तेज होने के साथ खून की कमी भी होगी पूरी

  • Edited By Priya verma,
  • Updated: 22 Nov, 2018 02:37 PM
रोज खाएं 5 चिलगोजे, दिमाग तेज होने के साथ खून की कमी भी होगी पूरी

ठंड़ से बचने के लिए लोग ड्राई फ्रूट्स यानि सूखे मेवों का सेवन करते हैं। काजू, किशमिश, बादाम की तरह चिलगोजा भी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। इसे नियोजा और पाइन नट्स के नाम से भी जाना जाता है। पाइन नट्स की बाहरी परत ब्राउन कलर की होती है और इसे छिल कर खाया जाता है। मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर चिलगोजे कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। आइए जानें इसके फायदे। 

पोषक तत्वों से भरपूर है चिलगोजा

यह प्रोटीन का सबसे महत्वपूर्ण स्त्रोत है। इसमें स्वस्थ वसा के साथ-साथ कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत कम और फैट उच्च मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा इसमें विटामिन बी 1, बी 2, विटामिन सी, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन, जिंक, कैल्शियम, मैंगनीज, कॉपर आदि भरपूर मात्रा में होते हैं। 

रोज खाए 5 चिलगोजे

इसमें सभी पोषक तत्व एक साथ मिलते हैं, कुछ दिन लगातार 5 चिलगोजे खाने से शरीर में खून की कमी पूरी होने के साथ-साथ दिमाग भी तेज होता है। स्किन के लिए भी यह बहुत लाभकारी है। छोटे बच्चे रोजाना 2 से 3 चिलगोजे खा सकते हैं लेकिन इसके फायदो को जानकर ज्यादा चिलगोजे खाने की गलती न करें। इससे नुकसान भी हो सकता है। 

चिलगोजा के फायदे 

हृदय की सुरक्षा

यह वसा का बहुत अच्छा स्त्रोत है। इसकी कुल वसा में 90 प्रतिशत असंतृप्त वसा यानि स्वस्थ वसा होती है। जिसमें 51 प्रतिशत लिनोलिक फैट और 37 प्रतिशत ओलेक एसिड होता है। जो उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर को कंट्रोल करके हृदय की रक्षा करता है, जिससे दिल के रोग होने का खतरा सामान्य से कम हो जाता है। 
PunjabKesari, Healthy heart

प्रेग्नेंसी में लाभकारी

चिलगोजे में आयरन भी भरपूर मात्रा में शामिल होता है जो शरीर में खून की कमी पूरा करने में असरदार है। गर्भवती औरतों के लिए यह बहुत लाभकारी है। इसे खाने से भ्रूण में हीमोग्लोबिन का उत्पादन होने में मदद मिलती है लेकिन गर्भावस्था में 3-4 चिलगोजे से ज्यादा न खाएं। 

डायबिटीज के लिए बेस्ट 

चिलगोजा पाइन नट्स में पाया जाने वाला असंतृप्त वसा इंसुलिन संवेदनशीलता बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा इसे भोजन के साथ सेवन करने से यह ग्लाइसेमिक सूचकांक को कम कर करता है जो मधुमेह रोगियों के लिए लाभदायक होता है।

प्रोटीन की कमी पूरी

वेजीटेरियन लोगों में प्रोटीन की कमी पूरी करने के लिए चिलगोजा महत्वपूर्ण स्रोत हैं। इसमें लाइसिन और अमीनो एसिड अनाज के मुकाबले ज्यादा मात्रा में होता है। जिन लोगों में प्रोटीन की कमी है वे चिलगोजा का सेवन कर सकते हैं। 
PunjabKesari, Pine Nuts

वजन कम करने में मददगार 

जो लोग वजन कम कर रहे हैं, वे चिलगोजा का सेवन कर सकते हैं। यह भूख कम करने का काम करता है क्योंकि इससे अतिरिक्त कैलोरी का सेवन करने से बचा जा सकता है।  जिससे शरीर में अतिरिक्त चर्बी जमा नहीं हो पाती और वजन कम होने लगता है। 
PunjabKesari, Weight control

भरपूर एनर्जी

चिलगोजा में बादाम, अखरोट, काजू, मूंगफली, पिस्ता आदि के मुकाबले ऊर्जा ज्यादा होती है। स्वस्थ फैट होने के कारण यह शरीर को भरपूर एनर्जी प्रदान करता है। शारीरिक रूप से कमजोर व्यक्ति को इसका सेवन जरूर करना चाहिए। 

 


 

Related News

From The Web

ad