13 JULSATURDAY2024 10:03:22 AM
Nari

कैसा भी हो वायरस, आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे ये बर्तन!

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 06 Mar, 2020 11:05 AM
कैसा भी हो वायरस, आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे ये बर्तन!

आए साल किसी न किसी तरह का वायरस लोगों की जान लेने लगता है। आजकल कोरोना नाम का वायरस पूरी दुनिया में अपना प्रकोप दिखा चुका है। वायरस चाहे छोटा हो चाहे बड़ा, किसी भी तरह की बीमारी आपको तभी प्रभावित करती है, जब आपका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। ऐसे में यदि आप समय रहते अपने इम्यून सिस्टम का ध्यान रखते हैं, तो आपकी बॉडी किसी भी वायरस के साथ लड़ने में समर्थ हो जाती है। आज हम बात करेंगे कुछ पुराने वक्त की, जिसमें लोग मिट्टी के बर्तनों में खाना खाकर स्वस्थ और खुशहाल जीवन जीते थे। आइए जानते हैं मिट्टी के बर्तनों में भोजन करने से शरीर को मिलने वाले फायदों के बारे में विस्तार से...

Image result for clay pots,nari

कैंसर से बचाव

मिट्टी के बर्तनों में बना भोजन खाने से शरीर को कई लाभ मिलते हैं। कैंसर जैसी बीमारी भी हमारे शरीर को तभी प्रभावित करती है, जब हमारा इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। मगर मिट्टी के बर्तनों में बना खाना बॉडी की इम्यून पॉवर को बढ़ाने में मदद करते हैं। जिससे कोरोना, स्वाइन फ्लू और कैंसर जैसी बीमारियों से आपका शरीर बचा रहता है।

पौष्टिक और स्वाद का खजाना

मिट्टी के बर्तनों में बना भोजन करने से जहां शरीर को पौष्टिक तत्व मिलते हैं, वहीं इन बर्तनों में खाना धीरे-धीरे पकता है, जिस वजह से वह पोषण से भरपूर होने के साथ-साथ स्वाद में भी बेहतरीन होता है।

लंबे समय तक ताजा रहता है खाना

शरीर को फिट और बीमारियों से बचाकर रखने के लिए आप जितना हेल्दी और ताजा खाना खाएंगे उतना आपके लिए बेहतर होगा। मगर आजकल के आधुनिक युग में लोग फ्रिज में 3 से 4 दिन तक पड़ा खाना खाते रहते हैं, जिस वजह से आपका इम्यून सिस्टम वीक हो जाता है। मगर जो खाना आप मिट्टी के बर्तनों में पकाते हैं, वह लंबे समय तक बिना फ्रिज में रखे ताजा रहता है, और खराब भी नहीं होता। मिट्टी के बर्तन की तासीर ठंडी होती है, जो कुदरती तरीके से खाने को ताजा रखने में मदद करती है।

Image result for clay pots,nari

हानिकारक रसायन से मुक्त

मिट्टी के बर्तन किसी भी तरह के हानिकारक रसायन से मुक्त होते हैं। जिस वजह से इन बर्तनों में पकने वाला भोजन आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाता।

बिना तेल मसालों के 

मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने के ज्यादा तेल और मसालों का इस्तेमाल करने की जरुरत नहीं पड़ती। जिससे आपकी सेहत अच्छी बनी रहती है। आप जितना कम तेल मसाले वाला भोजन करेंगे, उतना आपका इम्यून सिस्टम स्ट्रांग बनेगा और आप बीमारियों से बचे रहेंगे।

Image result for clay pots,nari

तो ये थे मिट्टी के वो बर्तन जिनका इस्तेमाल करने से आप और आपका परिवार एक दम फिट रहेगा। आपको दुनिया का कोई भी वायरस इफेक्ट नहीं कर पाएगा। मिट्टी के बर्तन का इस्तेमाल केवल खाना पकाने के लिए ही नहीं, बल्कि दही जमाने, सर्विंग के लिए और आजकल तो मिट्टी से बनी पानी की बोतल भी मार्किट में मौजूद है। मिट्टी के पोषक तत्वों से भरपूर पानी सारा दिन पीने से आपका शरीर पूरी तरह से फिट और एक्टिव बना रहता है।

कुछ बातों का जरुर रखें ध्यान

-मिट्टी के बर्तन को यूज करने से पहले लगभग 12 घंटे पानी में भिगोकर रखें।

-बड़े बर्तन यानि कुकर, पानी की बोतल को 12 घंटे और छोटे गिलास, कटोरी और दही जमाने वाली हांडी को केवल 6 ही घंटे काफी होते हैं।

-इन बर्तनों में काई जमने का डर बना रहता है, ऐसे में इन बर्तनों को हफ्ते में एक बार धूप जरुर लगवाएं। 


 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News