07 JULTUESDAY2020 5:32:56 AM
Nari

कोरियोग्राफर सरोज खान का हुआ कोरोना टेस्ट, परवारवालों ने दी सेहत को लेकर जानकारी

  • Edited By Priya dhir,
  • Updated: 24 Jun, 2020 03:38 PM
कोरियोग्राफर सरोज खान का हुआ कोरोना टेस्ट, परवारवालों ने दी सेहत को लेकर जानकारी

बॉलीवुड की फेमस कोरियोग्राफर सरोज खान को कल तबीयत खराब होने की वजह से मुंबई के अस्पताल में भर्ती करवाया गया। खबरों की माने तो सरोज खान को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसके कारण उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया। खबरों के मुताबिक उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

परिवारवालों ने बताया उनकी सेहत का हाल

वही, उनके परिवार ने बताया कि सरोज खान की बिगड़ती तबीयत को देखकर हम सभी लोग टेंशन में आ गए थे। अब वह पहले से बेहतर महसूस कर रही हैं। कहा जा रहा है कि सरोज खान को कल तक डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

3 साल की उम्र में शुरू किया करियर 

कई बड़ी एक्ट्रेसेज को अपने डांस मूव्स पर नचाने वाली सरोज करीब 2000 से ज्यादा गानों को कोरियोग्राफ कर चुकी हैं। महज 3 साल की उम्र में सरोज ने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट फिल्म 'नजराना' में काम किया। फिल्म 'गीता मेरा नाम' से सरोज ने बतौर कोरियोग्राफर शुरूआत की लेकिन पहचान उन्हें लंबे समय बाद मिली। उन्हें मिस्टर इंडिया में श्रीदेवी के ऊपर फिल्माए गए गाने 'हवा-हवाई' से सफलता मिली। वही, माधुरी और सरोज खान की जोड़ी ने तो बॉलीवुड के गानों में धूम मचा दी थी।सरोज खान ने माधुरी के जितने भी गाने कोरियोग्राफ किए वह सारे ही सुपरहिट हुए।
PunjabKesari, Saroj khan

दुखों से भरी रही पर्सनल लाइफ 

सरोज खान की पर्सनल लाइफ दुखों से भरी रही। सरोज खान ने 13 साल की उम्र में 30 साल बड़े बी. सोहनलाल से शादी की। दरअसल, एक फिल्म 'गीत मेरा नाम' में सरोज ने सोहनलाल के साथ काम किया था। इसी दौरान दोनों में नजदीकियां बढ़ गई। बाद में उन्होंने इस्लाम धर्म कबूल कर सोहनलाल से शादी कर ली थी। शादी के लिए सरोज खान ने अपना नाम भी बदला। जी हां, सरोज खान का असली नाम है- निर्मला नागपाल। लेकिन सोहनलाल के लिए वह सरोज खान बन गईं।

धोखे से हुई थी शादी

दरअसल, सरोज की यह शादी  भी एक धोखा थी क्योंकि सरोज को उस समय यह मालूम ही नहीं था कि बी सोहनलाल पहले से ही शादीशुदा और चार बच्चों के पिता है। एक इंटरव्यू में सरोज ने अपनी शादी का किस्सा शेयर करते हुए कहा था कि 13 साल की उम्र में स्कूल जाया करती थीं और शादी के मायने नहीं जानती थी। एक दिन उनके डांस मास्टर सोहनलाल ने उनके गले में काला धागा बांध दिया था, जिसके बाद सरोज के घरवालो ने उन्हें घर से बाहर निकाल दिया और कहा कि अब यहीं तुम्हारा पति है। बस फिर क्या था स्कूल जाने की उम्र में ही सरोज बीवी बन गई।
PunjabKesari, saroj khan

सरोज को अपने पति की पहली शादी के बारे में तब पता चला  जब उनके बेटे राजू खान का जन्म हुआ। उस वक्त उनकी उम्र महज 14 साल थी।  मगर सरोज के दुख भरी कहानी यहीं खत्म नहीं हुई। सोहनलाल ने सरोज के बच्चों को अपना नाम देने से इंकार कर दिया जिस वजह से सरोज सोहनलाल से अलग हो गई। अलग होने के कुछ साल बाद ही सरोज के पति सोहनलाल को हार्ट अटैक आया और पति की ऐसी हालात देखकर सरोज खुद को रोक नहीं पाई और फिर उनके करीब आ गई। इसी दौरान सरोज ने एक बेटी कुकु को जन्म दिया लेकिन बेटी के जन्म के बाद सोहनलाल, सरोज की जिंदगी से कहीं गायब हो गए।

सरदार रोशन से की दूसरी शादी

बाद में सरोज की मुलाकात बिजनेसमैन सरदार रोशन खान से हुई। सरदार रोशन खान भी शादीशुदा और दो बच्चों के पिता थे लेकिन वह सरोज से बेहद प्यार करते थे। सरदार रोशन ने सरोज से शादी की और उनके बच्चों को अपना नाम भी दिया। सरदार रोशन और सरोज की एक बेटी है सुखना खान, जो फिलहाल दुबई में डांस इंस्टीट्यूट चलाती हैं। आखिरी बार सरोज खान ने फिल्म 'कलंक' के 'तबाह हो गए' गाने को कोरियोग्राफ किया था, जिसमें माधुरी दीक्षित नजर आई थीं।
 

Related News