18 JULTHURSDAY2024 1:39:00 AM
Nari

अनियमित पीरियड्स हो या बांझपन, महिलाओं की हर समस्या का हल अशोक की छाल

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 11 Dec, 2020 11:39 AM
अनियमित पीरियड्स हो या बांझपन, महिलाओं की हर समस्या का हल अशोक की छाल

आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर अशोक के पेड़ की छाल का इस्तेमाल सदियों से औषधी के रूप में होता आ रहा है। सेहत के लिए यह किसी वरदान से कम नहीं है खासकर महिलाओं के लिए। इससे अनियमित पीडियड्स, मेनोपॉज, वैजाइना इंफेक्शन और गर्भाशय में होने वाली समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। आइए आज हम आपको बताते हैं महिलाओं के लिए अशोक के पेड़ की फायदे...

अनियमित पीरियड्स

आयुर्वेद के मुताबिक, अशोक क्षीर पाक खाने से अनियमित पीरियड्स की समस्या दूर हो जाती है और इससे ब्लड फ्लो भी सही रहता है। क्षीर पाक बनाने के लिए अशोक के पेड़ की छाल को सुखाकर पीस लें। अब 6 ग्राम पाउडर में 500 मि.ली. लीटर दूध और पानी मिलाकर उबालें। जब मिश्रण आधा रह जाए गैस बंद कर दें। क्षीर को ठंडा करके 1 चम्मच शहद मिलाकर खाली पेट पीएं।

PunjabKesari

मासिक धर्म की ऐंठन से छुटकारा

पीरियड्स के हद से ज्यादा ऐंठन और दर्द की शिकायत रहती है तो आप इसका काढ़ा बनाकर पी सकते हैं। इसके लिए 1 गिलास पानी में 15 ग्राम ग्राम अशोक की छाल का पाउडर मिलाकर 1/4 होने तक उबालें। लगातार 3 दिन तक इसका सेवन करने से मासिक धर्म और ऐंठन की समस्या दूर हो जाएगी।

वेजाइनल डिस्चार्ज

ल्‍यूकोरिया यानि वैजाइना डिस्चार्ज की समस्या दूर करने के लिए भी अशोक की छाल का काढ़ा बहुत फायदेमंद है। 1 चम्मच अशोक की छाल, पानी व दूध की बराबर मात्रा को अच्छी तरह उबालकर काढ़ा बनाएं। नियमित इसका सेवन करने से ल्‍यूकोरिया के लक्षण कम होंगे। 

पीरियड्स खुलकर नहीं आते तो...

अशोक के पेड़ की छाल को उतारें और करीब 90 ग्राम छाल को 30 मिलीलीटर पानी में 10 मिनट तक उबालें। इसे छानकर प्रतिदिन दिन में दो या तीन बार पीएं। इससे पीरियड सामान्य हो जाएंगे।

PunjabKesari

यूरिन इंफेक्शन

यूरिन इंफेक्शन की समस्या है तो इसके बीजों को पीसकर रोजाना पानी के साथ 2 चम्मच लें। इससे आपकी समस्या कुछ दिनों में ही दूर हो जाएगी।

प्रजनन क्षमता बढ़ाए
 
रोजाना अशोक की छाल का बना काढ़ा पीने से प्रजनन क्षमता भी बढ़ती है। साथ ही इससे गर्भाश्य से जुड़ी समस्याएं भी दूर होती है।

कंसीव करने में मददगार

कुछ महिलाओं को कंसीव करने में बहुत दिक्कत होती है। ऐसे में 2-3 ग्राम अशोक के फूल को दही में मिलाकर खाएं। इससे गर्भधारण करने में आ रही दिक्कत दूर होगी।

PunjabKesari

Related News