09 FEBTHURSDAY2023 7:55:30 AM
Nari

Parenting Tips: वर्किंग पेरेंट्स इस तरह करें बच्चे की परवरिश

  • Edited By palak,
  • Updated: 23 Jan, 2023 02:46 PM
Parenting Tips: वर्किंग पेरेंट्स इस तरह करें बच्चे की परवरिश

पेरेंट्स के द्वारा दिए गए संस्कार बच्चे के अच्छे भविष्य का निर्माण करते हैं, इसलिए हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके बच्चों को अच्छी परवरिश मिल सके। हर पेरेंट्स बच्चे को अच्छा भविष्य देने का प्रयास करते है। परंतु कई बार माता-पिता के हालात ऐसे होते हैं जिसके कारण पेरेंट्स बच्चों को ध्यान नहीं दे पाते। खासकर यह समस्या तब आती है जब दोनों पेरेंट्स वर्किंग होते हैं। वर्किंग पेरेंट्स बच्चे के अच्छे भविष्य के लिए ही कमाई करते हैं लेकिन कई बार बच्चे को पूरा समय न दे पाने के कारण उनके अंदर अकेलापन, हीन भावना जैसे समस्याएं आने लगती हैं। अगर आप भी वर्किंग पेरेंट्स हैं तो कुछ आसान से तरीके अपनाकर अपने बच्चे को अच्छी परवरिश दे सकते हैं। आइए जानते हैं कुछ टिप्स...

सेट करें रुटीन 

अगर आपका बच्चा थोड़ा समझदार हो गया है तो आप उसकी एक रुटीन सेट कर दें। बच्चे को कब पढ़ना है, कब खाना है, कब खेलना और कब सोना है इसके लिए एक टाइम रखें। उसके सामान को व्यवस्थित करके रखें ताकि वह अपना काम आसानी से कर पाए। समय-समय पर बच्चे को फोन करके उसका हाल पूछें। आप चाहे तो बच्चे से मिलने भी आ सकते हैं। 

PunjabKesari

घर पर लगाएं कैमरा 

अगर आपका बच्चा घर में अकेला रहता है तो आप घर में एक सीसीटीवी कैमरा भी लगवा सकते हैं। कैमरे का एक्सेस आप अपने पास रखें, ताकि आपको पता चलता रहे कि बच्चा क्या कर रहा है। बीच-बीच में आप बात करके बच्चे को गाइड भी कर सकती हैं। 

बुजुर्ग को रखें साथ 

बच्चा यदि अकेला रहता है तो आप दादी या नानी को उनके साथ रख सकते हैं। इस तरह आप बच्चे को लेकर बिल्कुल निश्चित रहेंगे। साथ ही इससे बच्चों को बुजुर्गों का साथ भी मिलता रहेगा। बुजुर्गों के साथ रहकर बच्चे को कई बातें सीखने को भी मिलेंगी। 

PunjabKesari

वीकेंड पर बिताएं समय 

आप वीकेंड के दिन और छुट्टी वाले दिन ज्यादातक समय बच्चे के साथ ही बिताएं। आप बच्चे को कहीं घूमाने ले जा सकते हैं। उनके साथ गेम्स खेल सकते हैं। बच्चे के मन की बात भी जरुर सुनें। इससे आपको पता चलता रहेगा कि बच्चा आपसे क्या चीज चाहता है। 

बच्चे को समझाएं स्थिति 

आजकल के बच्चे बहुत ही समझदार होते हैं। आप उनके दोस्त बनने की कोशिश करें। समय मिलने पर बच्चों के साथ खेले और उन्हें समझाएं कि आप इतनी मेहनत क्यों करते हैं। बच्चे को बताएं कि यदि वह अच्छे से पढ़ाई करता है और जीवन में सफल होता है तो इससे आपकी मेहनत ही सफल होगी। बच्चे इमोशनली आपके साथ जुड़ेंगे और आपको स्पोर्ट करने की भी पूरी कोशिश करेंगे। 

PunjabKesari
 

Related News