26 SEPSUNDAY2021 3:25:26 PM
Nari

पीवी सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल जीतकर रचा इतिहास, टोक्यो ओलिंपिक में भारत का तीसरा मेडल

  • Edited By Anu Malhotra,
  • Updated: 01 Aug, 2021 06:18 PM
पीवी सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल जीतकर रचा इतिहास, टोक्यो ओलिंपिक में भारत का तीसरा मेडल

जापान की राजधानी टोक्यो में 23 जुलाई से शुरू हुए खेलों के महाकुंभ टोक्यो ओलंपिक का आज 10वां दिन हैं है। टोक्यो ओलंपिक में भारत की बेटियों का जलवा लगातार बरकरार है। वेट लिफ्टर मीराबाई चानू के सिल्वर और बाॅक्सर लवलीना के ब्रांज मेडल पक्का करने के बाद अब बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने भी ब्रांज मेडल अपने नाम कर लिया है। इस तरह भारत की झोली में तीन मेडल आ गए हैं। 

PunjabKesari

ओलंपिक के व्यक्तिगत इवेंट में दो पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनी सिंधु
बतां दें कि भारतीय बैडिमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलिंपिक में महिला सिंगल्स का ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। उन्होंने तीसरे स्थान के लिए हुए मैच में चीन की जियाओ बिंग हो को 21-13, 21-15 से हराया। पीवी सिंधु ओलंपिक के व्यक्तिगत इवेंट में दो पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी है।


PunjabKesari

ब्रॉन्ज मेडल जीत पीवी सिंधु ने बनाया ये रिकाॅर्ड
तीसरे स्थान के लिए यह मैच 53 मिनट तक चला। बता दें कि पीवी सिंधु दुनिया की सिर्फ चौथी बैडमिंटन खिलाड़ी हैं, जिन्होंने दो अलग-अलग ओलिंपिक में मेडल जीता है। साथ ही वे दो ओलिंपिक मेेडल जीतने वाली दूसरी भारतीय खिलाड़ी और पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

PunjabKesari

आपको बता दें कि इससे पहले सेमीफाइनल में पीवी सिंधु को विश्व की नंबर वन शटलर चीनी ताइपे की ताई जू-यिंग से हार का सामना करना पड़ा था, जिसके बाद आज रविवार को सिंधु ने ब्रॉन्ज मेडल के लिए  हे बिंगजिआओ के साथ मैच खेला, इस मैच में सिंधु ने शुरू से ही शानदार प्रदर्शन किया। 

PunjabKesari

जिसने पीवी सिंधु को लगातार चार बार हराया उसी खिलाड़ी को हरा ब्रांज मेडल जीता
पीवी सिंधु,  हे बिंगजिआओ के बीच बैडमिंटन कोर्ट पर 15 मैच खेल चुकी हैं जिसमें 9 मैच चीन की बिंगजिआओ ने जीता है और 6 मैच सिंधु के नाम रहा है, दोनों ने पहली बार 2015 के योनेक्स सनराइज मास्टर्स क्वार्टरफाइनल राउंड में एक-दूसरे का सामना किया था, सिंधु को उस मैच में सीधे सेटों में 23-21, 21-13 के स्कोर से हार का सामना करना पड़ा था,  पिछले 5 मैच में चार मुकाबले में चीनी शटलर को जीत मिली है। सिंधु ने बिंगजिआओ के खिलाफ आखिरी बार 2019 में वर्ल्ड चैंपियनशिप फाइनल में जीत हासिल की थी।

Related News