25 MAYWEDNESDAY2022 5:17:44 AM
Nari

गणतंत्र दिवस परेड पर दिखी नारी की शक्ति,  पहली महिला पायलट को देश ने किया सलाम

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 27 Jan, 2022 12:29 PM
गणतंत्र दिवस परेड पर दिखी नारी की शक्ति,  पहली महिला पायलट को देश ने किया सलाम

73वें गणतंत्र दिवस पर नारी शक्ति का अनुठा प्रदर्शन देखने को मिला।  राजपथ पर परेड में निकली वायु सेना की झांकी में देश की पहली महिला राफेल लड़ाकू विमान पायलट शिवांगी सिंह ने भी भाग लिया। वह वायु सेना की झांकी का हिस्सा बनने वाली दूसरी महिला लड़ाकू विमान पायलट हैं।

PunjabKesari

पिछले साल फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ वायु सेना की झांकी का हिस्सा बनने वाली देश की पहली महिला लड़ाकू विमान पायलट थीं। वाराणसी से ताल्लुक रखने वाली शिवांगी सिंह 2017 में वायु सेना में शामिल हुई थीं और महिला लड़ाकू विमान पायलटों के वायु सेना के दूसरे बैच में शामिल हुईं। राफेल उड़ाने से पहले वह मिग-21 बाइसन विमान उड़ाती रही हैं।

PunjabKesari

वह पंजाब के अंबाला स्थित वायु सेना के गोल्डन ऐरोज स्क्वाड्रन का हिस्सा हैं। साइंस से ग्रेजुएट शिवांगी सिंह एयर एनसीसी का भी हिस्सा रही हैं। भारतीय सेना में रहे अपने नाना से प्रेरणा लेते हुए शिवांगी ने भारतीय वायुसेना में शामिल होने का फैसला किया था और आज वह लाखों- करोड़ों लड़कियों के लिए एक मिसाल बन गई है। 

PunjabKesari
 वायु सेना की झांकी का शीर्षक 'भारतीय वायु सेना, भविष्य के लिए परिवर्तन' है। झांकी में मिग-21, जी-नेट, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर और राफेल विमान के स्केल डाउन मॉडल के साथ-साथ अश्लेषा रडार भी प्रदर्शित किए गए हैं। राफेल लड़ाकू विमान का पहला बैच 29 जुलाई, 2020 में भारत पहुंचा था। फ्रांस से 36 लड़ाकू विमानों के सौदे के क्रम में देश में अब तक 32 राफेल विमान आ चुके हैं और चार राफेल विमान इस साल अप्रैल तक आ सकते हैं।
 

Related News